अखिलेश राज में अराजकता अपराध चरम पर थे, आम आदमी डरा था -पीयूष गोयल


लखनऊ( मानवी मीडिया) केंद्रीय मंत्री  पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने पिछले पांच वर्षों में हर क्षेत्र में जो काम किया है उसके लिए प्रदेश की 24 करोड़ जनता का आशीर्वाद भाजपा के साथ है। प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में सबका साथ सबका विकास के मंत्र पर चलते हुए हर वर्ग को अपने साथ रखते हुए जिस तरह योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में जनकल्याणकारी सरकार चलाई है उसकी हर जगह प्रशंसा हो रही है। बुधवार को पार्टी मुख्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीयूष गोयल ने यह बात कही।

उन्होंने कहा की कृषि, उद्योग, इंफ्रास्ट्रक्चर, स्वास्थ्य और शिक्षा सहित तमाम क्षेत्रों में योगी सरकार ने उल्लेखनीय काम किया है। उन्होंने कहा अगले पांच वर्षों में इसको आगे बढ़ाकर उत्तर प्रदेश देश में सुनहरे प्रदेश के रूप में छाप छोड़ेगा, इसमें कोई संदेह नहीं हैं।

उन्होंने याद दिलाया कि 2017 में वे जब चुनाव प्रचार के लिए आए थे तो एक दिन में ही लखनऊ समेत कई जिलों में व्यवपारियों की दिन दहाड़े हत्याएं हुई थी। उत्तर प्रदेश में अराजकता चरम पर थी, अपराध चरम पर था, आम आदमी डरा हुआ था। वे खुद लखनऊ में व्यापारी श्रवण साहू के घर गए थे। वह मंजर कितना खौफनाक था। आज उत्तर प्रदेश खुशहाली के रास्ते पर बढ़ चला है। मोदी जी के मार्गदर्शन में योगी जी ने कानून का राज स्थापित किया है। इससे न केवल यहां बड़े पैमाने पर निवेश आया है बल्कि लाखों युवाओं को रोजगार भी मिला है। गुंडाराज से मुक्त हुआ यूपी भारत के विकास की गाथा लिख रहा है।


केंद्रीय मंत्री ने कहा कि किसानों के लिए योगी सरकार ने अभूतपूर्व काम किये हैं जो 2017 से पहले आज तक इस प्रदेश में नहीं हुए। उन्होंने कहा कि  2012 से 2017 के बीच गन्ना किसानों को जितना भुगतान किया गया उसका लगभग दोगुना 1.59 लाख करोड़ का भुगतान 2017 से अब तक किया गया। जिसमें पिछली सरकार का बकाया भी शामिल है। उन्होंने बताया कि पिछले पांच वर्षों में धान की कुल 275 लाख मिट्रिक टन की क्रय कि गई। जबकि 2012 से 2017 के बीच मात्र 123 लाख मिट्रिक टन खरीद ही थी। इसी तरह योगी सरकार ने पिछली सरकार की तुलना में गेंहू की भी रिकार्ड खरीद की।

  उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की 2018 में एमएसपी डेढ़ गुणा करने की घोषणा का उत्तर प्रदेश सरकार ने पालन तो किया ही, साथ ही साथ किसानों की आय दुगनी करने की दिशा में अनेक प्रयास किये जिसमें कृषि को आधुनिक तकनीक से जोड़ने और किसानों को सिंचाई व बिजली उपलब्ध कराना प्रमुख रहा। उत्तर प्रदेश सरकार ने पिछले 5 सालों में लगभग चार करोड़ लोगों को रोजगार से जोड़ा। इसमें एमएसएमई सेक्टर का काफी योगदान रहा। इसका सुपरिणाम यह निकला कि 2017 से पहले बेरोजगारी का जो आंकडा दो अंकों में हुआ करता था वह घटकर चार प्रतिशत रह गया।

  उन्होंने कहा कि प्रदेश में औद्योगिक विकास और निवेश का माहौल बनाने में योगी सरकार का जो योगदान रहा उसे पूरा देश याद करेगा। पिछले 5 वर्षों में लगभग तीन लाख करोड़ रुपए से अधिक का निवेश आया। उन्होंने कहा कि निवेशकों के लिए नियमों का सरलीकरण और अच्छी कानून व्यवस्था और आधारभूत ढांचा तैयार करने में योगी सरकार ने अपनी पूरी ताकत लगा दी।

  पीयूष गोयल ने प्रदेश का इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने में योगी सरकार के योगदान की चर्चा करते हुए कहा कि पहले प्रदेश में दो अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे थे जो अब पांच हो गए हैं। पहले एयर कनेक्टिविटी सिर्फ 25 स्थानों तक सीमित थी जबकि आज 75 शहरों से हवाई सुविधा के माध्यम से यूपी जुड़ चुका है। उन्होंने कहा कि जेवर में बनने वाला अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट तो विश्व में नायाब होगा।

उन्होंने कहा कि कोरोना से जूझते हुए योगी सरकार ने स्वास्थ्य का आधारभूत ढांचा तैयार किया। उन्होंने कहा कि 1947 से अब तक प्रदेश में सिर्फ 12 सरकारी मेडिकल कॉलेज से जबकि पिछले 5 सालों में इनकी संख्या 30 हो गई। इसी तरह एमबीबीएस की सीट 2017 में उन्नीस सौ हुआ करती थी, जो बढ़कर 3800 हो गयी है।

   समाजवादी पार्टी की परिवारवादी सोच पर प्रहार करते हुए पीयूष गोयल ने कहा कि जो पार्टी सिर्फ एक परिवार का भला सोच सकती है उसके लिए भाजपा की सबका साथ सबका विकास की सोच समझ के बाहर है। यह तो सिर्फ जनता ही समझ सकती है जिसने योगी सरकार में अपना विश्वास व्यक्त किया। उन्होंने सपा के बारे में आगे कहा कि गुंडों, माफिया और अपराधियों के दम पर सरकार चलाना एक बात है लेकिन 24 करोड़ जनता के हित के बारे में सोचना, यह सिर्फ भाजपा ही कर सकती है।

Previous Post Next Post