अखिलेश यादव ने समाजवादी पेंशन शुरू करने की घोषणा

 

लखनऊ (मानवी मीडिया) समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज समाजवादी सरकार बनने पर फिर से समाजवादी पेंशन योजना शुरू करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इस बार जरूरतमंद गरीब परिवार की महिलाओं को प्रतिवर्ष 18 हजार रुपए पेंशन दी जाएगी।  यादव ने कहा कि पिछली बार सपा सरकार के दौरान 50 लाख महिलाओं को समाजवादी पेंशन योजना में 6 हजार रू0 वार्षिक का लाभ दिया जा रहा था। समाजवादी सरकार में सबसे ज्यादा बैंक खाते खुलवाए गए थे। खातों में सीधे पैसा पहुंचाया जा रहा था। प्रदेश में डायरेक्ट बेनिफिट योजना की शुरुआत भी समाजवादी सरकार ने की थी।

     अखिलेश यादव ने बताया कि उन्होंने अपने कार्यकाल में वाराणसी, कुशीनगर में मुसहर जाति के गरीब लोगों को लोहिया आवास और पेंशन दी थी। ललितपुर में गरीबों को पेंशन एवं आवास दिया था। लखनऊ में पी.जी.आई. के पास और कन्नौज में सपेरों को पेंशन और लोहिया आवास दिया गया। सरकार बनने पर एक्सप्रेस-वे के किनारे सपेरा गांव भी बसाया जाएगा। 


 समाजवादी पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से वार्ता में  अखिलेश यादव ने कहा कि जिन परिस्थितियों में इस बार चुनाव हो रहा है उसमें समाजवादी पार्टी का कोई विकल्प नहीं है। जनता समाजवादी पार्टी के साथ खड़ी है। हमने जिन नेताओं को पार्टी में शामिल किया है उनका व्यापक जनाधार है। गठबंधन में जो साथ आए हैं उनके साथ से लड़ाई में मजबूती आएगी। उन्होंने जनता के बीच संघर्ष किया है और काम किया है।  यादव ने कहा कि इस बार भाजपा को गाय मां का पाप लगने जा रहा है। पूरे प्रदेश में जगह-जगह गाय मां भूखी हैं।

     अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने जैसे ही 300 यूनिट घरेलू बिजली मुफ्त देने की घोषणा की भाजपा घबरा गई। भाजपा ने साढ़े चार साल जनता की जेब काटी। भाजपा सरकार ने जो दुगना बिल वसूला क्या उसे वापस करेंगे?

    एक सवाल के जवाब में श्री अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादियों को और मुझे भाजपा से राष्ट्रवाद का सर्टिफिकेट नहीं चाहिए। मैं खुद मिलिट्री स्कूल में पढ़ा हूं। हमारे साथ मिलिट्री स्कूल में पढ़ने वाले कई सीनियर और मित्र आज देश की सीमाओं पर खड़े हैं और देश की रक्षा कर रहे हैं। क्या भाजपा की टॉप लीडरशिप बता सकती है कि उनके साथ पढ़ा हुआ कोई देश की सीमाओं पर खड़ा है।

     अखिलेश यादव ने कहा कि हमने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे बनाया। एक्सप्रेस वे पर सेना के लड़ाकू विमान उतारने के लिए डिज़ाइन बनवाया। समाजवादियों का क्लियर विजन था कि एक्सप्रेस वे पर फाइटर प्लेन उतरे। हमारी सरकार ने एक्सप्रेस-वे पर लड़ाकू विमान उतार कर दिखा दिया। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की भी डिजाइन में लड़ाकू विमान उतारने के लिए हवाई पट्टी का निर्माण प्रस्तावित था। प्रधानमंत्री का विमान एक्सप्रेस वे की हवाई पट्टी पर उतरा उसका डिजाइन समाजवादियों ने किया था।


     अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सोशल मीडिया पर सबसे घटिया प्रचार बीजेपी कर रही है। समाजवादी पार्टी चुनाव आयोग और पुलिस से इसकी शिकायत कर रही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार के विकास सम्बंधी विज्ञापन झूठे हैं। भाजपा सबसे ज्यादा झूठ बोलने वाली पार्टी है। इसने विज्ञापन में बंगाल का ओवर ब्रिज, अमेरिका की फैक्ट्री और चीन का बीजिंग एयरपोर्ट दिखा दिया। भाजपा जनता की आंख में धूल झोंकने का काम करती है।

    इस अवसर पर यादव ने एडवोकेट  भानु प्रताप सिंह की पुस्तक ‘अंबेडकरवादी लोहियावादी नए कृषि कानून का सच‘ का विमोचन किया। किसान आंदोलन में शामिल रहे एडवोकेट श्री भानु प्रताप सिंह ने कहा कि विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी राष्ट्रीय जन संघर्ष पार्टी का समाजवादी पार्टी से गठबंधन कर भाजपा को हराएंगे। उन्होंने कहा देश संकट में है। भाजपा राज में देश बुरी स्थिति में पहुंच गया है।

Previous Post Next Post