कोरोना को लेकर बढ़ रही सख्ती: रेस्टोरेंट और बार रहेंगे बंद, अब सिर्फ छूट


नई दिल्ली (मानवी मीडिया): दिल्ली में कोरोना कहर बरपा रहा है। लगातार मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए संपूर्ण लॉकडाउन के कयास भी लगाए जा रहे हैं। इधर स्थिति बेकाबू न हो इसे लेकर केजरीवाल सरकार ने पहले ही कई पाबंदियां लगाई हैं। वहीं, सोमवार यानी आज दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंड अथॉरिटी (DDMA) की बैठक हुई

इस बैठक में कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने के लिए लॉकडाउन नहीं लगाने का फैसला किया। इसके साथ ही डीडीएमए ने बार और रेस्टोरेंट को बंद रखने का फैसला लिया गया है। हालांकि टेकअवे सुविधा जारी रहेगी। इसके साथ-साथ एक जोन में साप्ताहिक बाजार को केवल एक दिन ही खोलने की ही इजाजत दी गई है। बैठक में मेट्रो ट्रेन-बसों में सवारियों की संख्या कम करने जैसी अन्य पाबंदी लगाने पर भी विचार किया गया। उप राज्यपाल अनिल बैजल ने बैठक बारे में जानकारी देते हुए कहा, आज की डीडीएमए बैठक में रेस्तरां और बार को बंद करने और केवल ‘टेक अवे’ सुविधा की अनुमति देने का निर्णय लिया गया। दिल्ली के हर जोन में प्रतिदिन केवल एक साप्ताहिक बाजार के संचालन की अनुमति देने का भी निर्णय लिया गया है। 

फिलहाल रेस्तरां में 50 फीसदी सीट पर ही बैठकर भोजन करने की अनुमति है, लेकिन मेट्रो ट्रेन-बसों की शत प्रतिशत सीट पर सवारियों को बैठने की अनुमति है। उप राज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में डीडीएमए की एक बैठक में इस बात पर चर्चा की गई कि मौजूदा पाबंदियों को कैसे सख्ती से लागू किया जाए ताकि कोरोना वायरस और इसके नए स्वरूप ओमिक्रॉन के फैलने पर अंकुश लगाया जा सके। इस बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शामिल थे।

Previous Post Next Post