मंत्री नितिन गडकरी एवं उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद बटन दबाकर 164 किमी0 के 06 राष्ट्रीय राजमार्गों का कौशाम्बी में किया लोकार्पण/शिलान्यास


लखनऊ: (मानवी मीडिया) केन्द्रीय मंत्री सड़क परिवहन एवं राजमार्ग  नितिन गडकरी एवं प्रदेश के उप मुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य  द्वारा आज ग्राम सकाढ़ा, निकट रोही चौराहा जनपद कौशाम्बी में आयोजित कार्यक्रम में रू0 2659 करोड़ धनराशि की लागत की 164 किमी0 लम्बे 06 राष्ट्रीय राजमार्गों का लोकार्पण/शिलान्यास किया गया।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए  केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि आज जसरा बाईपास का शिलान्यास हो रहा है, जसरा प्रयागराज से जुड़ा होने के कारण बहुत ही महत्वपूर्ण है। रू0 125 करोड़ की लागत से 05 किमी0 लम्बाई का बाईपास बनाया जायेगा, इसी बाईपास के पास स्थित रेलवे क्रासिंग पर रेलवे ओवरब्रिज भी बनायी जायेगी, जसरा बाईपास का कार्य मई 2022 में शुरू हो जायेगा तथा बाईपास के बन जाने से ट्रैफिक जाम की समस्या का समाधान हो जायेगा एवं जसरा होकर चित्रकूट जाने वालों का समय भी बचेगा।  उन्हाेंने कहा कि राम वनगमन मार्ग का शिलान्यास किया जा रहा है, जिसके 03 पैकेज का शिलान्यास कल किया गया था एवं 02 पैकेज का शिलान्यास आज हो रहा है। उन्होंने कहा कि अयोध्या से चित्रकूट तक रू0 05 हजार करोड़ की लागत से 258 किमी0 राम वनगमन मार्ग बनाया जा रहा है। यह निर्माण कार्य 2023 तक पूर्ण हो जायेगा। उन्होंने कहा कि श्रृंगी ऋषिधाम के पास गंगा नदी पर 06 लेन का पुल बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि राम बनगमन मार्ग अयोध्या से सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, प्रयागराज, कौशाम्बी, मोहनगंज, अवतारपुर, सूरतगंज, राजापुर, चित्रकूट होकर मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र की सीमा को जोड़ते हुए रामेश्वरम तक बनाया जायेगा। 

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि राम जानकी मार्ग बनाया जा रहा है।  जिसके तहत 213 किमी0 लम्बी राजमार्ग का निर्माण कार्य उत्तर प्रदेश में होगा तथा राजमार्ग का निर्माण कार्य पूर्ण हो जाने पर अयोध्या से जनकपुर तक का आवागमन सुगम हो जायेगा, इससे दर्शनार्थियों एवं पर्यटकों को सुगमता के साथ ही आर्थिक एवं सामाजिक विकास भी होगा। उन्होंने कहा कि भगवान गौतम बुद्ध जहां-जहां गये हैं, उन सभी प्रमुख स्थलोंको जोड़ने के लिए 20 हजार करोड़ की लागत से 419 किमी0 लम्बी बौद्ध सर्किट की योजना बनायी गयी तथा यह योजना अधिकांश पूर्ण हो गयी है। यह दुनियॉ में पर्यटन का प्रमुख आकर्षण का केन्द्र बनी है। इसमें कौशाम्बी भी जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 11 हजार करोड़ की लागत से 18 बाईपास का निर्माण किया जा रहा है तथा उत्तर प्रदेश में 07 ग्रीन फील्ड हाइवे बनाये जा रहे हैं। 

उन्हाेंने कहा कि लखनऊ से कानपुर तक एक्सप्रेस वे बनाये जाने का भूमि पूजन कल किया जा चुका है। मा0 केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि रायबरेली से प्रयागराज तक के फोरलेन हेतु डी0पी0आर0 का कार्य शुरू हो गया है, शीघ्र ही निर्माण कार्य प्रारम्भ हो जायेगा। उन्होंने कहा कि फाफामऊ, प्रयागराज में केबलसीट ब्रिज बनायी जायेगी। इसके साथ ही उन्होंने उत्तर प्रदेश का प्रथम डबल डेकर ब्रिज प्रयागराज शहर में बनाये जाने की भी घोषणा की। उन्होंने अझुआ बाजार में सिंगल पिलर ब्रिज बनाने तथा कोखराज से हण्डिया दक्षिणी बाईपास बनाये जाने की घोषणा करते हुए कहा कि आगामी 06 माह के अन्दर कार्य शुरू हो जायेगा। उन्होंने कहा कि गांव, गरीब, किसान एवं मजदूर का विकास करना हमारा लक्ष्य है एवं युवाओं को रोजगार देना तथा आत्मनिर्भर भारत बनाकर हिन्दुस्तान को दुनियॉ का सबसे शक्तिशाली देश बनाना हमारा सपना है।

  कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रदेश के  उप मुख्यमंत्री  ने पूरे हिन्दुस्तान में सड़क की क्रान्ति लाने वाले  केन्द्रीय मंत्री  नितिन गडकरी जी का कौशाम्बी की धरती पर प्रथम आगमन पर कौशाम्बीवासियों एवं प्रदेशवासियों की तरफ से हार्दिक अभिनन्दन किया। उन्होंने कहा कि गंगा जी के किनारे जितने भी घाट बने हैं, उन सभी घाटों को मा0 केन्द्रीय मंत्री  नितिन गडकरी  के स्वीकृति के द्वारा ही बने हैं। कानपुर से आने वाले जीटी रोड के 06 लेन का निर्माण कार्य गडकरी जी के नेतृत्व में हो रहा है। उन्होंने कहा कि मा0 केन्द्रीय मंत्री जी ने कल श्रृगवेरपुर, प्रयागराज में अयोध्या से रामेश्वरम तक राम वनगमन मार्ग बनाये जाने की घोषणा की है।  उन्होंने कहा कि इन निर्माण कार्यों के पूर्ण हो जाने से आने वाले समय में कौशाम्बी एवं प्रयागराज में भी रोजगार की बरसात होगी। उन्होंने कहा कि 2014 के पहले उत्तर प्रदेश में 06 हजार किमी0 राष्ट्रीय राजमार्ग था, जो अब बढ़कर 12 हजार किमी0 राष्ट्रीय राजमार्ग हो गया है। कार्यक्रम को मा0 सांसद श्री विनोद सोनकर, मा0 विधायक चायल श्री संजय गुप्ता एवं अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी सम्बोधित किया।

 केन्द्रीय मंत्री एवं उप मुख्यमंत्री  द्वारा प्रयागराज के अन्तर्गत रू0 76 करोड़ की लागत से 15 किमी0 लम्बाई की रामपुर से भड़ेवरा खण्ड का चौड़ीकरण एंव उन्नयन कार्य का लोकार्पण किया गया। इसी प्रकार भगवान श्रीराम वनगमन मार्ग के कौशाम्बी, फतेहपुर एवं चित्रकूट जनपद के अन्तर्गत रू0 1200 करोड़ की लागत की 38 किमी0 की लम्बाई की बरनपुर, कादीपुर इचौली से रमपुरिया अवल खण्ड का फोरलेन चौड़ीकरण एवं उन्नयन कार्य का शिलान्यास एवं चित्रकूट जनपद के अन्तर्गत रू0 900 करोड़ की लागत की 44 किमी0 की लम्बाई की रमपुरिया अवल से चकला राजरानी खण्ड का चौडीकरण व उन्नयन कार्य का शिलान्यास व चित्रकूट जनपद के अन्तर्गत रू0 100 करोड़ की लागत से 18 किमी0 लम्बाई की राजपुर से रैपुरा खण्ड का चौडी़करण एवं उन्नयन तथा प्रयागराज एंव मिर्जापुर जनपद के अन्तर्गत रू0 258 करोड़ की लागत से 44 किमी0 लम्बाई की भड़ेवरा से ड्रमडगंज खण्ड का चौड़ीकरण एवं उन्नयन कार्य का शिलान्यास तथा प्रयागराज जनपद के अन्तर्गत रू0 125 करोड़ की 05 किमी0 लम्बाई की आरओबी सहित जसरा बाईपास का निर्माण कार्य का शिलान्यास किया गया। 

इस अवसर पर  सांसद बॉदा  आर0के0 पटेल,  विधायकगण  लाल बहादुर एवं  शीतला प्रसाद उर्फ पप्पू पटेल, अध्यक्ष जिला पंचायत  कल्पना सोनकर एवं भाजपा जिलाध्यक्षा  अनीता त्रिपाठी सहित अन्य जनप्रतिनिधगण तथा जिलाधिकारी  सुजीत कुमार एवं पुलिस अधीक्षक  राधेश्याम विश्वकर्मा सहित अन्य अधिकारीगण  मौजूद रहे।

Previous Post Next Post