15 जनवरी के बाद भी बढ़ सकती है चुनावी रैलियों पर पाबंदी


नई दिल्ली(मानवी मीडिया) : देश के 5 राज्यों में विधानसभा चुनावों का डंका बज चुका है। हालाँकि, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई प्रकार की रोक लगाईं जा रही है। इसी बीच सूत्रों से ये जानकारी प्राप्त हुई है कि कोरोना के चलते चुनाव आयोग ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में 15 जनवरी के बाद भी रैली और रोड शो पदयात्रा पर रोक लगाई है। बता दें इससे पहले चुनाव आयोग ने कहा था कि किसी भी राजनीतिक पार्टी को 15 जनवरी तक रोड शो, वाहन रैली और पदयात्रा की अनुमति नहीं है।

 कोरोना के नए वेरियंट ओमिक्रॉन वैरिएंट के प्रकोप के बीच चुनाव आयोग ने सभी राजनीतिक पार्टियों को वर्चुअल (ऑनलाइन) मोड में अभियान चलाने की सलाह भी दी थी। चुनाव आयोग ने कहा कि उनका लक्ष्य व्यापक तैयारी के साथ 5 राज्यों में कोविड-सुरक्षित चुनाव कराना है। वहीं, पांच राज्यों में स्वतंत्र, निष्पक्ष और सुरक्षित विधानसभा चुनाव कराने के उद्देश्य से भारत निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को चुनाव पर्यवेक्षकों के साथ बैठक की। अधिकारियों के मुताबिक आगामी चुनाव में तैनात किए गए वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आयोग की यह पहली ब्रीफिंग है। सूत्रों के मुताबिक सामान्य, पुलिस और व्यय जैसी विभिन्न श्रेणियों में चुनाव पर्यवेक्षकों के रूप में नामित लगभग 900 अधिकारी बैठक में भाग ले रहे हैं, जिसमें आयोग चुनाव प्रक्रिया के मुख्य मुद्दों पर चर्चा कर रहा है।

Previous Post Next Post