चीनी कंपनियों ने सरकार को दिखाया ठेंगा, 1 भी रुपया टैक्स नही दिया भारत


नई दिल्ली (मानवी मीडिया) चीनी कंपनियों ने सरकार को दिखाया ठेंगा! शाओमी-वीवो ने भारतीयों से कमाए 1 लाख करोड़ लेकिन नही दिया 1 भी रुपया टैक्स भारत के स्मार्टफोन मार्केट में चीनी कंपनियों की जड़ें जमी हुई हैं। शाओमी, ओप्पो, वीवो इन कंपनियों की लिस्ट में सबसे ऊपर हैं। इनके लो बजट से लेकर प्रीमियम स्मार्टफोन तक हर तरह का ऑप्शन मौजूद हैं। भारतीय ग्राहकों से इनकी अच्छी खासी कमाई भी हो रही है, लेकिन देश के विकास में इनका योगदान 1 भी रुपए का नहीं है। जी हां, हर साल इंडियन कस्टमर्स से 1 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की कमाई करने वालीं ये कंपनियां भारत में टैक्स के नाम पर 1 रुपया भी नहीं दे रही हैं। जब भी टैक्स देने की बात आती है, तो ये भारत के टैक्स डिपार्टमेंट को ठेंगा दिखा देती हैं। हालांकि अब टैक्स को लेकर ये सरकार के निशाने पर आ चुकी हैं। टैक्स से जुड़े मामले को लेकर कई अलग-अलग एजेंसियां इन चीनी कंपनियों के इस खेल की जांच कर रही हैं।

शाओमी, ओप्पो और वीवो ने रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज की फाइलिंग में घाटा दिखाया है जबकि इस दौरान उनकी जबरदस्त बिक्री रही। ज्यादा फोन बेचने वाली कंपनियों की लिस्ट में वे टॉप पर रहीं। इस बारे में जब इन तीनों कंपनियों की भारतीय यूनिट्स को सवाल भेजे गए तो उन्होंने काई जवाब नहीं दिया। ओप्पो और वीवो का मालिकाना हक चीनी इलेक्ट्रॉनिक कंपनी BBK के पास है। ये भारत में वनप्लस और रियलमी ब्रांड्स को कंट्रोल करती है ।

Previous Post Next Post