उ0 प्र0 कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि

 


लखनऊ (मानवी मीडिया) विधानसभा चुनाव की तैयारियों के बारे में बताते हुए उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि करोना के बढ़ते केसों के बीच सबसे पहले प्रदेश कांग्रेस प्रभारी  प्रियंका गांधी  ने वर्चुअल रैली और मीटिंग करने की बात कही। उन्होंने अपने सभी प्रस्तावित कार्यक्रमों रैलियों को निरस्त करते हुए चुनाव आयोग से मांग की थी कि वर्चुअल स्तर पर रैली की जाए, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं सरकारी धन का दुरुपयोग करके अपनी रैलियों में भीड़ देखकर काफी खुश हो रहे थे।

कांग्रेस अध्यक्ष  लल्लू ने बताया कि हमने डेढ़ लाख व्हाट्सएप ग्रुपों के माध्यम से तीन करोड़ लोगों को जोड़ने का काम किया है और सदस्यता अभियान चलाकर हर एक विधानसभा में 40,000 से 50,000 नए लोगों को जोड़ा गया है।

कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू  ने कहा कि अब उत्तर प्रदेश को प्रियंका गांधी के रूप में एक नया नेतृत्व मिल चुका है जो जनता के मुद्दों  और प्रदेश के विकास की बात कर रही है। 2022 में प्रदेश की जनता ने भाजपा को सफाई करने का मन बना लिया है। कांग्रेस पार्टी और प्रियंका गांधी ही अकेली एकमात्र ऐसे नेता हैं जो इस तानाशाह आदित्यनाथ सरकार से लड़ सकती है, बाकी किसी भी विपक्ष के नेता में हिम्मत नहीं। उन्होंने कहा कि हम कांग्रेस की प्रतिज्ञाओं और अपने प्रशिक्षित कार्यकर्ताओं की ताकत व नए सदस्यों और संगठन के दम पर 2022 में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने जा रहे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू  ने कहा कि राज्य में चाहे दलित उत्पीड़न की घटनाएं हों या बेटियों पर अत्याचार का मामला हो, या लखीमपुर में गृह मंत्री अजय कुमार टेनी के बेटे द्वारा किसानों को कुचल देने की घटना रही हो, कांग्रेस पार्टी और उसके कार्यकर्ताओं ने आदरणीय प्रियंका गाँधी के नेतृत्व में मुखर विरोध का झंडा बुलंद किया है। बेटियों के स्वाभिमान, सम्मान को लेकर लड़की हूँ लड़ सकती हूँ का नारा और 40 प्रतिशत टिकट महिलाओं को देने का ऐलान महिला सशक्तिकरण की दिशा में ऐतिहासिक कदम है। इस बार प्रदेश की करीब 6 करोड़ महिला आबादी भाजपा को उखाड़ फेंकने में निर्णायक भूमिका निभाएगी।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि  प्रियंका गांधी  के निर्देशन में कांग्रेस पार्टी लगातार पांच साल जनता के बीच में रही है। सबसे ज्यादा हमने जनता के मुद्दों पर संघर्ष किया और चाहे कोरोना काल मे लोगों की मदद हो या नौजवानों की बेरोजगारी, पेपर लीक, किसानों पर अत्याचार, और महिलाओं पर बढ़े अपराध रहे ,हमारे 18000 कांग्रेस कार्यकर्ता जनता के मुद्दों पर लड़ते हुए जेल गए,कोरोना काल मे 65 लाख लोगों को राशन पहुँचाया और 10 लाख दवाओं की किट बांटकर सहयोग किया।

Previous Post Next Post