कांग्रेस नेता ने पार की बेशर्मी की हदें, कहा-अगर रेप रोक न सकें तो लेटो और मजे लो


नई दिल्ली (मानवी मीडिया)-कर्नाटक विधानसभा में रेप वाला बयान देने वाले कांग्रेस विधायक एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार ने माफी मांग ली है। माफी मांगते हुए उन्होंने कहा, अगर इससे महिलाओं के सम्मान को ठेस पहुंची हो तो मुझे माफी मांगने में कोई दिक्कत नहीं है। मैं अपनी दिल की गहराई से माफी मांगता हूं। रमेश के माफी मांगने के बाद स्पीकर हेगड़े ने कहा कि रमेश कुमार ने अब माफी मांग ली है और उन्हें अब इस मामले में और ज्यादा नहीं घसीटना चाहिए। दरअसल उन्होंने कर्नाटक विधानसभा में कहा था, देखिए, एक कहावत है- जब बलात्कार होना ही है, तो लेटो और मजे लो।

कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी ने इस पर कार्रवाई करने की बजाय इस पर हंस दिया। माननीयों का सदन में इस तरह के व्यवहार पर सोशल मीडिया पर जबरदस्त गुस्सा है। यह पहली बार नहीं है जब केआर रमेश कुमार ने इस तरह की भद्दी टिप्पणी की है। इससे पहले, कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान, उन्होंने खुद की तुलना एक दुष्कर्म पीडि़ता से की थी। उनकी पार्टी की महिला सदस्यों सहित विधायकों ने सत्र में विरोध किया और उनके द्वारा दिए गए बयान की निंदा की। 2019 में रमेश कुमार ने अध्यक्ष के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान कहा था कि वह एक दुष्कर्म पीडि़ता की तरह महसूस करते हैं। रमेश कुमार के बयान पर अब बीजेपी कांग्रेस को घेरने लगी है। ऐसे में सवाल उठता कि महिला हितों की पैरोकार प्रियंका और सोनिया अपने विधायक के खिलाफ कार्रवाई करेंगी? पात्रा ने तो ट्वीट करके प्रियंका से तो मांग एक्शन की मांग भी कर दी है।

Previous Post Next Post