नैतिकता बची हो तो गृहराज्य मंत्री को करें बर्खास्त:: अखिलेश यादव


 लखनऊ ( मानवी मीडिया)समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि जैसे-जैसे चुनाव की तारीखें नजदीक आती जाएंगी, भाजपा की बौखलाहट बढ़ती जाएगी। हार के डर से भाजपा के दूसरे राज्यों के नेता भी उत्तर प्रदेश आएंगे। लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या की जिम्मेदारी से भाजपा सरकार बच नहीं सकती है। भाजपा के लोगों ने जानबूझकर षड़यंत्र रचकर किसानों को रौंद कर मार दिया। सच्चाई सामने आ गई है। भाजपा में अगर नैतिकता बची हो तो गृहराज्य मंत्री को फौरन बर्खास्त करें।

     अखिलेश यादव ने जौनपुर दौरे के दूसरे चरण की विजय रथ यात्रा में पांच विधानसभा क्षेत्रों का सघन भ्रमण किया। उन्होंने जमुनिया में पहले दिन के दौरे की आखिरी सभा की जिसमें देर रात तक बड़ी संख्या में लोग उनका इंतजार करते रहे थे। उन्होंने कहा कि यहां जो जोशीला जनसमर्थन मिल रहा है वो अभूतपूर्व है जो बदलाव के इंकलाब का संकेत दे रहा है। बुल और बुलडोजर को साइकिल हटाएगी।

     अखिलेश यादव ने अपनी जनसभाओं में कहा कि साढ़े चार साल में भाजपा की हर बात झूठी साबित हुई है। उनका हर वायदा जुमला निकला है। भाजपा का विज्ञापन भी झूठा है जिसका जवाब देने के लिए सड़कों पर जनता देर रात तक खड़ी है। उन्होंने राज्य विधानमंडल के सत्र पर टिप्पणी की कि सरकार को बजट की जरूरत है इसलिए सत्र बुलाया गया है। जनता के मुद्दों और मामलों से उनका कोई लेनादेना नहीं है। भाजपा भटकाने के लिए यह सब कर रही है।

     यादव ने कहा कि एसआईटी रिपोर्ट से साबित हो गया है कि लखीमपुर खीरी में किसानों को षडयंत्र के तहत जीप से कुचल कर मारा गया है। साजिश में गृह राज्य मंत्री भी शामिल थे अतः गृह राज्य मंत्री को तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा भाजपा राज में मंहगाई और बेरोजगारी बढ़ी है। पिछले तीन महीनों में तेल कम्पनियों को 600 फीसदी मुनाफा कराया गया है। सरकार गरीबों की जेब काट कर अमीरों की तिजोरी भर रही है।

     यादव ने कहा कि आज जनता की कमाई आधी हो गई है और महंगाई दुगनी हो गई है। भाजपा का किसानों की आय दुगनी करने का वादा झूठा निकला। किसान को एमएसपी दर पर फसल के दाम भी नहीं मिल रहे है। उसे लूटा जा रहा है। बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है। यह सरकार गरीब और किसान विरोधी है। भाजपा को लोगों ने परेशान और अपमानित किया है। 700 किसानों के शहीद होने के बाद डर कर भाजपा सरकार ने तीनों काले कृषि कानून वापस लिए है। प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त है। महिलाओं में असुरक्षा है। स्वास्थ्य सेवाएं बदहाल हैं।

अखिलेश यादव ने कहा कि जनता के तमाम मुद्दों को लेकर समाजवादी और अम्बेडकरवादी लोग किसान, नौजवान और मजदूर का समर्थन मांगने के लिए उनके बीच समाजवादी विजय रथ लेकर निकले हैं। उत्तर प्रदेश की जनता अब बदलाव चाहती है। परिवर्तन होकर रहेगा। जनता समाजवादियों के साथ खड़ी है। सन्2022 में भाजपा की ऐतिहासिक हार होगी।

     अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार में सबको न्याय और सम्मान मिलेगा, हक और सम्मान मिलेगा, नौकरी और रोजगार मिलेगा। सपा सरकार बनने पर प्रदेश की जनता को बेहतरीन कानून व्यवस्था देंगे। कानून तोड़ने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी। किसी के साथ भेदभाव नहीं होगा। सभी जाति, धर्म के लोगों को और सम्मान दिया जाएगा। प्रदेश की जनता को विकास, न्याय और अच्छी कानून व्यवस्था का भरोसा दिलाते हैं। किसानों को उनकी फसलों का सही मूल्य दिलाया जाएगा। किसानों का सम्मान होगा। बीज और पानी का इंतजाम होगा। सड़क और मंडियां बनाई जाएंगी। स्कूल, कॉलेज और हॉस्पिटल खोले जाएंगे।

Previous Post Next Post