कॉलेज छात्राओं से थानेदार ने की गाली गालैज, बातें सुन खुद महिला पुलिसकर्मी सकते में

 


जौनपुर (मानवी मीडिया): उत्तर प्रदेश पुलिस के हौसने कितने बुलंद हैं इस बात का अंदाजा आज हुई इस घटना से लगा सकते हैं। दरअसल, मां के साथ हुई अत्याचार की घटना को लेकर न्याय मांगने पहुंची छात्राओं को पुलिसकर्मियों के बुरे बर्ताव का सामना करना पड़ा। हद तो तब हो गई, जब पुलिस वालों ने छात्राओं के साथ गाली-गलौज करने लगे। थानेदार का यह रूप देख वहां मौजूद महिला पुलिसकर्मी भी सकते में रह गईं।

मामला जौनपुर का है, जहां शुक्रवार को लेखाकार की पत्नी का अर्धनग्न शव रेलवे क्रांसिंग के पास मिला था। मारी गई महिला की बेटी टीडी कॉलेज में स्नातक की छात्रा है। अपने फ्रेंड की मां के साथ हुई नृशंस वारदात की खबर मिलते ही सभी आक्रोशित हो गईं। शनिवार को कॉलेज खुलते ही सैकड़ों की संख्या में छात्राएं मार्च करते हुए एसपी दफ्तर पहुंच गईं। बड़ी संख्या में छात्राओं के पहुंचने से पुलिस वाले सकते में रह गए। तत्काल लाइन बाजार थाने से पुलिस फोर्स मौके पर बुला ली गई। छात्राओें की बातें सुनने की जगह लाइन बाजार थाने के एसओ अखिलेश मिश्रा पहुंचते ही छात्राओं पर फायर हो गए।

एक तरफ महिला पुलिसकर्मी छात्राओं को हटाने लगीं तो दूसरी तरफ थानेदार ने गालियों की बौछार शुरू कर दी। उन्होंने यह भी नहीं देखा कि स्नातक की छात्राओं से किस तरह से बात करनी चाहिए। थानेदार ने चिल्लाते हुए कहा कि तुम्हारे ही समाज का है मरने वाला, मारने वाला। दिमाग खराब हो गया है। नेता बनने चले आए। गाली देते हुए कहा कि टीवी मीडिया में देखकर दिमाग ज्यादा खराब हो गया है, नेता बनने का शौक ज्यादा चर्रा गया है। थानेदार के मुंह से छात्राओं को गालियां सुनकर मौके पर मौजूद महिला पुलिसकर्मी भी सकते में रह गईं। पुलिसकर्मी भी अपने थानेदार का मुंह ताकते दिखाईं दी

सहायक लेखाकार की पत्नी का शव लाइन बाजार थाना क्षेत्र के जगदीशपुर रेलवे क्रासिंग के पास शुक्रवार की सुबह अर्धनग्न मिला था। महिला के सिर पर बड़े पत्थर से वार किया गया था। जीभ बाहर निकली थी। शरीर पर मौजूद कपड़े पूरी तरह से फटे हुए थे। ऐसे में गैंगरेप के बाद हत्या की आशंका जताई गई। शव मिलने की जानकारी पर लोगों ने जौनपुर वाराणसी मार्ग पर मतापुर के पास चक्काजाम कर दिया।

Previous Post Next Post