फोन टैपिंग विवाद: प्रियंका गांधी के आरोप पर सूचना मंत्रालय ने लिया संज्ञान, जल्द जांच शुरू कराने की तैयारी


 नई दिल्ली (मानवी मीडिया) : कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा के फोन टैपिंग संबंधी आरोपों को लेकर केंद्र सरकार एक्‍टिव मोड में आ गई है। इसके साथ ही केंद्र सरकार ने प्रियंका गांधी वाड्रा के आरोपों को गंभीरता से ल‍िया है। केंद्र सरकार से जुड़े  सूत्रों के मुताबि‍क प्रियंका गांधी वाड्रा के फोन टैपिंग संबंधी आरोपों का इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने संज्ञान लिया है। वहीं इसके साथ ही सूत्रों ने दावा क‍िया है क‍ि मंत्रालय कांग्रेस महासच‍िव के इन आरोपों की पड़ताल के ल‍िए एक व‍िस्‍तत जांच कराने की तैयारी कर रहा है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को लखनऊ में केंद्र सरकार पर बडा आरोप लगाया था। कांग्रेस महासचिव ने फोन टैपिंग, प्रवर्तन निदेशालय व (आईटी छापेमारी को लेकर केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा था क‍ि फोन टैपिंग की तो बात ही छोड़ दीजिए, वे (केंद्र) मेरे बच्चों के इंस्टाग्राम अकाऊंट भी हैक कर रहे हैं। प्रियंका ने कहा था क‍ि क्‍या केंद्र सरकार के पास कोई और काम नहीं है।

दरअसल, पत्रकारों ने प्रियंका गांधी वाड्रा से फोन टैपिंग के मसले पर सवाल किया था। जिसका जवाब प्रियंका गांधी ने दिया। वहीं इससे पहले पेगासस जासूसी मामला सामने आने के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी केंद्र सरकर पर हमला बोला था। कांग्रेस नेता ने संसद के बाहर संवाददाताओं से बातचीत में कहा था, ‘मैं संभावित टारगेट नहीं हूं। मेरा फोन टैप किया गया था। सिर्फ यही फोन नहीं बल्कि सभी फोन्स को टैप किया गया था।’

नए साल में उत्तर प्रदेश में व‍िधानसभा चुनाव प्रस्‍तावित हैं। इन चुनाव में कांग्रेस प्रियंका गांधी वाड्रा की अगुवाई में सक्रि‍य है। इससे पहले भी व‍िपक्ष पेगासस जासूसी मामले को लेकर केंद्र सरकार पर हमलावर हो चुका है। वहीं राजनीतिक व‍िशेषज्ञ का मानना था क‍ि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को जो फोन टैपिंग संबंधी आरोप लगाए हैं, वह व‍िधानसभा चुनाव में पेगासस जासूसी मामले को लेकर भाजपा सरकार की घेराबंदी करने को लेकर हो सकते है, लेक‍िन जिस तरीके से केंद्र सरकार ने प्रियंका गांधी वाड्रा के आरोपों को  गंभीरता से ल‍िया है और जांच शुरू कराने की तैयारी की है। उससे तय है क‍ि व‍िधानसभा चुनाव में इस मामले को लेकर राजनीत‍ि गर्मा सकती है।

Previous Post Next Post