आईएएस नितिन रमेश गोकर्ण दूसरी बार भी मिला प्रतिष्ठित स्कॉच अवार्ड।


लखनऊ (मानवी मीडिया)सिविल निर्माण कार्यों मे विशिष्ट  और उल्लेखनीय  योगदान के लिए  नितिन रमेश गोकर्ण, प्रमुख सचिव, उत्तर प्रदेश शासन, लोक निर्माण विभाग को  77वां स्कॉच पब्लिक सर्विस अवार्ड प्रदान  कर सम्मानित किया गया है ।  पिछले दिनों वर्ड हैबिटेड सेन्टर नई दिल्ली में आयोजित स्काच समिट में यह अवार्ड प्रदान किया गया।

देश में अधिक जनसंख्या वाले उत्तर प्रदेश में  रोड नेटवर्क  को  फ़ैलाने मे अपने बेहतर प्रयासों व प्रबंधन व लोक निर्माण विभाग में ई-सेवाओं को प्रभावी ढंग लागू कर लोक निर्माण विभाग को  नई पहचान दिलाने में  गोकर्ण द्वारा उत्कृष्ट व उल्लेखनीय प्रयास किये गये हैं।

स्कॉच अवार्ड की गिनती देश के प्रतिष्ठित गैर सरकारी अवार्ड के रूप में की जाती है, जो विभिन्न श्रेणियों में उल्लेखनीय सेवाओं हेतु सरकारी और गैर सरकारी संस्थाओं तथा व्यक्तियों को प्रदान किया जाता है। 

गौरतलब है कि पिछले वर्ष भी प्रतिष्ठित 67वां स्कॉच अवार्ड  कोविड-19 महामारी के दौरान किये गये विशिष्ट कार्यो और उल्लेखनीय मानवसेवा हेतु  नितिन रमेश गोकर्ण, प्रमुख सचिव, लोक निर्माण विभाग, उत्तर प्रदेश शासन को स्कॉच अवार्ड (गोल्ड) प्रदान किया गया था।कोविड-19 महामारी के दौरान लोक निर्माण विभाग द्वारा जनपथ स्थित सचिवालय परिसर में प्रदेश का सबसे बड़ा कन्ट्रोल रूम संचालित किया गया ,जिसमें महाराष्ठ, छत्तीसगढ़ एवं मध्यप्रदेश राज्य के असहाय प्रवासी जनमानस को सर्वप्रथम लॉकडाउन अवधि में उनके रूकने के स्थानों पर स्थानीय प्रशासन के सहयोग से जिन मूलभूत सुविधाओं की उन्हें आवश्यकता थी, उनको पूर्ण निष्ठा से पूरा किया गया था

कोविड-19 महामारी के दौरान लोक निर्माण विभाग द्वारा उत्तर प्रदेश के प्रत्येक जनपद में आम जनमानस की आवश्यकताओं के अनुरूप उन्हें पका हुआ शुद्ध भोजन व पानी तथा सूखा राशन जरूरतमंद को उनके घर-घर तक पहुंचाने का कार्य किया गया। गत वर्ष कोविड-19 महामारी के दौरान लोक निर्माण विभाग द्वारा पूरे प्रदेश के रूके हुए कार्यो को कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करते हुए प्रारम्भ कराया गया तथा जरूरतमंद आम जनमानस को रोजगार प्रदान कर उनके जीवन यापन में उल्लेखनीय सहयोग किया गयाथा जिसके लिए  स्काई एवार्ड से सम्मानित किया गया था।


Previous Post Next Post