आर्यन ड्रग्स केस में बड़ा ट्विस्ट, जांच कर रहे NCB अधिकारी समीर वानखेड़े को हटाया गया

नई दिल्ली (मानवी मीडिया): क्रूज ड्रग्स केस की जांच नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के अधिकारी समीर वानखेड़े की टीम से छीन ली गई है। आर्यन खान की गिरफ्तारी के बाद एनसीपी नेता नवाब मलिक के निशाने पर रहे वानखेड़े पर वसूली सहित कई आरोप लगाए गए थे। एनसीबी के साउथ-वेस्टर्न रीजन के डेप्युटी डीजी मुथा अशोक जैन ने कहा है कि आर्यन सहित कुल 6 केसों की जांच अब दिल्ली की टीम करेगी। नवाब मलिक के दामाद से जुड़े केस की जांच भी एनसीबी के जोनल डायरेक्टर वानखेड़े से वापस ले ली गई है।

समीर वानखेड़े को केसों की जांच से हटाए जाने से उत्साहित नवाब मलिक ने ट्विटर पर लिखा, समीर वानखेड़े से आर्यन खान केस सहित 5 केस वापस ले लिए गए हैं। ऐसे 26 केस हैं, जिनमें जाच की जरूरत है। यह तो सिर्फ शुरुआत है। इस सिस्टम को साफ करने के लिए अभी बहुत कुछ करने की जरूरत है और हम यह करेंगे। शनिवार को एनसीबी की एक टीम इन केसों की जांच अपने हाथ में लेने के लिए मुंबई पहुंचेगी। उधर, आर्यन खान केस से हटाए जाने की खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए समीर वानखेड़े ने कहा, मुझे जांच से हटाया नहीं गया है। कोर्ट में मैंने रिट पिटिशन दिया था कि मामले की जांच केंद्रीय एजेंसी से कराई जाए। इसलिए आर्यन केस और समीर खान (नवाब मलिक के दामाद) केस की जांच अब दिल्ली एनसीबी की एसआईटी करेगी। यह दिल्ली और मुंबई एनसीबी टीम के बीच समन्वय है।

इससे पहले मंगलवार को वानखेड़े ने कहा था कि ड्रग माफिया उन्हें झूठे केसों में फंसाने की कोशिश कर रहा है। वानखेड़े पर वसूली और सरकारी नौकरी के लिए दस्तावेजों में फर्जीवाड़े का आरोप लगाया गया है। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने आरोप लगाया है कि वानखेड़े मुस्लिम हैं, लेकिन उन्होंने फर्जी सर्टिफिकेट बनाकर अनुसूचित जाति के किसी व्यक्ति का हक छीना। मलिक यह भी कह चुके हैं कि एक साल के भीतर वानखेड़े की नौकरी चली जाएगी और वह जेल में होंगे। वानखेड़े की अगुआई में ही 2 अक्टूबर को मुंबई से गोवा जा रहे क्रूज पर छापेमारी की गई थी और शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था। वानखेड़े ने ही नवाब मलिक के दामाद को भी एक ड्रग्स केस में गिरफ्तार किया था।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक