चुनावों में जनता भाजपा और कांग्रेस दोनों का सफाया करेंगी:: अखिलेश यादव

 


लखनऊ (मानवी मीडिया)समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार किसान विरोधी, लोकतंत्र विरोधी और संविधान विरोधी सरकार है। भाजपा से ज्यादा झूठ और कोई नहीं बोलता है। भाजपा के जैम (श्र।ड) की सही परिभाषा है झूठ, अहंकार और महंगाई। उन्हें अपने जैम का जवाब देना है। यह बेचने वाली सरकार है, लोगों को रोजगार कहां मिलेगा? स्वास्थ्य-शिक्षा, कानून-व्यवस्था ध्वस्त है। प्रदेश बर्बाद हो गया है। उन्होंने कहा अगले वर्ष विधानसभा चुनावों में जनता को भाजपा और कांग्रेस दोनों का सफाया करना है। दोनों के कार्यक्रमों और सिद्धांतों में कोई फर्क नहीं है। दोनों एक ही दल हैं।

   अखिलेश यादव ने कुशीनगर में प्रेस वार्ता के पश्चात फाजिलनगर, किसान पीजी कॉलेज, कसया बाजार में मालती पाण्डेय कॉलेज में आयोजित जनसभाओं को सम्बोधित किया। उन्होंने गोरखपुर और कुशीनगर में मिल रहे अपार जनसमर्थन के लिए जनता को धन्यवाद देते हुए विश्वास दिलाया कि वे जनता की उम्मीदों को पूरा करेंगे। उनकी सरकार आने पर कानून व्यवस्था को मजबूत करेंगे। सरकार बनने पर गरीबों को 5 साल तक मुफ्त अनाज देंगे।    


    अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने किसानों, व्यापारियों, गरीबों, पिछड़ों, दलितों और महिलाओं से झूठ बोलकर वोट लिया। साढ़े चार वर्षों में कोई वादा नही पूरा किया। अपनी मांगों को लेकर आंदोलन और लोकतांत्रिक ढंग से प्रदर्शन करने वाले किसानों, नौजवानों, कर्मचारियों को भाजपा ने अपमानित किया। आज उत्तर प्रदेश में सभी वर्ग मिलकर भाजपा के अपमान का बदला लेने को तैयार हैं। तीन काले कानून लाकर भाजपा किसानों की जमीन उद्योगपतियों के हाथ सौंपना चाहती है। किसान भाजपा की चाल को समझ गया है। समाजवादी पार्टी किसानों के साथ है।

    अखिलेश यादव ने कहा कि सपा सरकार आने पर किसानों के लिए खुशहाली और उनके विकास का कानून लाएंगे। भाजपा सरकार को किसानों की कोई परवाह नहीं है। भाजपा ने कहा था उनकी आय दुगनी करेंगे, आय कहां दोगुनी हुई? किसान को एमएसपी भी नहीं मिली। भाजपा के नेता किसानों को कुचल रहे हैं। चुनाव में किसान इसका जवाब देगा। डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस की गैस के दाम महंगा कर भाजपा सरकार गरीबों को लूट रही है और अमीरों की तिजोरिया भर रही है। भाजपा सरकार सरकारी संस्थानों को बेचकर गरीबों, पिछड़ों, दलितों का हक छीन रही। श्री यादव ने कहा कि हम पिछड़े होकर भी विकास की सोचते हैं और वे अगड़े होकर भी बैकवर्ड हैं।

   अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार में पूर्वांचल की खुशहाली के लिए समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे दिया था। पहले तो बीजेपी सरकार ने द्वेश के चलते इसका काम रोक दिया। बाद में समाजवादी शब्द हटाकर इसके निर्माण की क्वालिटी खराब कर दी। उत्तर प्रदेश में एक्सप्रेस-वे और मेट्रो परियोजनाएं समाजवादी सरकार की देन है। हमने उत्तर प्रदेश को विकास के रास्ते पर ले जाने का काम किया। नौजवानों के लिए नौकरी और रोजगार का इंतजाम किया, अच्छी स्वास्थ्य सेवा के लिए पहले 108 एम्बुलेंस सुविधा दी, अच्छी कानून व्यवस्था के लिए विश्वस्तरीय डायल 100 सेवा दी, किसानों को मुफ्त सिंचाई की सुविधा दी लेकिन भाजपा सरकार ने 5 साल में सब कुछ बर्बाद कर दिया। श्री अखिलेश यादव ने गोरखपुर, कासगंज और हाथरस समेत तमाम घटनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि पुलिस खुद घटनाओं को अंजाम दे रही है। सबसे ज्यादा पुलिस हिरासत में मौतें उत्तर प्रदेश में हुई हैं।

   अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश की जनता जानती है कि भाजपा ने कैसा काम किया है। सरकार कह रही थी निवेश आएगा लेकिन कोई निवेश नहीं आया। बीजेपी सरकार अपने सबसे बड़े नेता और पूर्व प्रधानमंत्री तक को सम्मान नहीं दे पाई। पूर्व प्रधानमंत्री के नाम पर बनी यूनिवर्सिटी लखनऊ में सपा सरकार द्वारा बनाए गए डॉ0 राम मनोहर लोहिया संस्थान में 9वें तल पर चल रही है। श्री अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार के पास नौजवानों और युवाओं को रोजगार और नौकरी देने के लिए कोई योजना नहीं है। केंद्र सरकार, एयरपोर्ट, पोर्ट, ट्रेन समेत सब कुछ बेचने पर जुटी है। इन्हें खरीदने वाले तेल भी बेच रहे हैं। महंगा तेल बेचकर गरीबों की जेब काट रहे हैं। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं सांसद मोहम्मद आजम खां का जिक्र करते हुए श्री अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी सरकार उनके साथ अन्याय कर रही है। झूठे मुकदमों में फंसाकर अत्याचार हो रहा है।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक