यूपी बोर्ड: कक्षा नौ की परीक्षा पैटर्न में बड़ा बदलाव

लखनऊ-(मानवी मीडिया) बोर्ड में शैक्षिक सत्र 2021-22 में कक्षा नौ में बड़ा बदलाव किया गया है। इसमें प्रत्येक विषय की परीक्षा 70 अंक की होगी। लगभग 30 प्रतिशत अंकों (20 अंक) के बहु विकल्पीय प्रश्नों की परीक्षा ओएमआर शीट पर होगी। इसके अलावा कक्षा 11 व 12वीं की अर्द्धवार्षिक, वार्षिक प्री बोर्ड परीक्षाओं में अंक विभाजन व्यवस्था पिछले वर्ष की भांति ही हैं। इसमें कोई बदलाव नहीं होगा। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के तहत माध्यमिक शिक्षा में प्रश्न पत्रों के प्रारूप में परिवर्तन किया गया है। इसमें लिखित परीक्षा के 70 अंक के प्रश्नपत्रों को दो भागों में विभक्त किया जाना है। 70 अंक के प्रश्न पत्र के लगभग 30 प्रतिशत अंक यानि 20 अंक का प्रथम भाग बहुविकल्पीय प्रश्नों पर आधारित होगा, जिसका उत्तर ओएमआर शीट पर देना होगा।

यह हैं निर्देश-अर्द्धवार्षिक परीक्षा में 70 अंक की लिखित परीक्षा होगी। 70 अंक के प्रश्न पत्र में 30 प्रतिशत अंकों के (20 अंक के) बहु विकल्पीय प्रश्न होंगे, जिसकी परीक्षा ओएमआर शीट पर ली जाएगी। एक-एक अंक के कुल 20 बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे।

-शेष 70 प्रतिशत अंकों के (50 अंक के) वर्णनात्मक प्रश्न होंगे।

-वार्षिक परीक्षा में अर्द्धवार्षिक परीक्षा की ही भांति 70 अंक की लिखित परीक्षा होगी। वार्षिक परीक्षा के बाद कुल योग 70$70$30=170 अंक होगा।

इस समय होगी परीक्षा-अर्द्धवार्षिक परीक्षा की प्रयोगात्मक परीक्षा का आयोजन नवंबर के दूसरे सप्ताह, अर्द्धवार्षिक परीक्षा की लिखित परीक्षा का आयोजन नवंबर तीसरे सप्ताह, सभी कक्षाओं का ऑनलाइन व ऑफलाइन शिक्षण कार्य 15 जनवरी, प्री बोर्ड की प्रयोगात्मक परीक्षा कक्षा 11 व 12वीं के लिए 24 से 31 जनवरी, प्री बोर्ड की लिखित परीक्षा व कक्षा नौ व 11वीं की वार्षिक गृह परीक्षा फरवरी के प्रथम सप्ताह में होगी।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक