कांग्रेस से असंतुष्ट, विधायक अदिति सिंह भाजपा में हुई शामिल

रायबरेली (मानवी मीडिया)- उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस की रायबरेली सदर सीट से असंतुष्ट विधायक अदिति सिंह और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की विधायक वंदना सिंह ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की मौजूदगी में यहां भाजपा प्रदेश कार्यालय में अदिति और वंदना सिंह ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। अदिति रायबरेली सदर सीट से और वंदना आजमगढ़ की सगड़ी सीट से विधायक हैं। सिंह ने कहा कि दोनों मौजूदा विधायक अपने क्षेत्र में लोकप्रिय हैं और इनके भाजपा में शामिल होने से पार्टी को लाभ मिलेगा।
अदिति सिंह 2017 में रायबरेली सदर सीट से कांग्रेस के टिकट पर विधायक का चुनाव जीती थीं। यद्यपि बाहुबली विधायक अखिलेश सिंह की पुत्री अदिति सिंह का राजनीतिक अनुभव बहुत पुराना नही है लेकिन अपने पिता के राजनीतिक पृष्ठभूमि का उन्हें बहुत लाभ मिला है। अखिलेश सिंह के 2019 में निधन के बाद अदिति सिंह का झुकाव भाजपा की ओर हो गया। कांग्रेस के दिशानिर्देश को नजरअंदाज कर उन्होंने भाजपा के पक्ष में अपने बयानबाज़ी शुरू कर दी जिसके बाद कांग्रेस ने उनसे किनारा कर लिया। पिछले चुनाव में अदिति सिंह को 1,28,319 वोट मिले जबकि दूसरे स्थान पर बसपा के शाहबाज खान को 39,156 वोट मिले थे। जबकि भाजपा इस सीट पर तीसरे स्थान पर रही थी और उसकी उम्मीदवार अनीता श्रीवास्तव को 28821 वोट मिले।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक