स्वयं का व्यवसाय खड़ा करने में सरकार करेगी मदद-::डा0 नवनीत सहगल


लखनऊः (मानवी मीडिया) प्रदेश सरकार ने भारत सरकार की स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत लखनऊ जनपद को स्मार्ट सिटी बनाने के दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाया है। आज लोक भवन मंे अपर मुख्य सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम एवं उद्यमिता विकास संस्थान के चेयरमैन डा0 नवनीत सहगल तथा लखनऊ के कमिश्नर एवं लखनऊ स्मार्ट सिटी के अध्यक्ष  रंजन कुमार की उपस्थिति में 1000 महिलाओं, शहरी गरीब, प्रवासी मजदूरों को विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षित किये जाने के सम्बंध में एमओयू हस्ताक्षरित किया गया। निदेशक, उद्यमिता विकास संस्थान  डी0पी0सिंह एवं महाप्रबंधक, परियोजना, लखनऊ स्मार्ट सिटी  एस0सी0सिंह द्वारा समझौता ज्ञापन का आदान-प्रदान किया गया।

      डा0 नवनीत सहगल ने बताया कि उद्यमिता विकास संस्थान एवं लखनऊ स्मार्ट सिटी परियोजना के मध्य एक वर्ष के लिए एमओयू हुआ है, जिसके अन्तर्गत उद्यमिता विकास संस्थान लखनऊ में लोगों को अलग-अलग क्षेत्रों में स्मार्ट ट्रेनिंग देकर उन्हें रोजगार से जोड़ा जायेगा। साथ ही प्रशिक्षण प्राप्त लाभार्थियों को उनका स्वयं का व्यवसाय खड़ा करने मंे सरकार मदद भी करेगी। उन्होंने बताया कि स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत इस प्रकार की पहल करने वाला उत्तर प्रदेश देश में पहला राज्य होगा।

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि प्रशिक्षण कार्यक्रम के महिलाओं को पालना गृह संचालन की स्मार्ट ट्रेनिंग दी जायेगी। इसके साथ ही महिलाओं को स्मार्ट लेडी ड्राइवर का भी प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसके अतिरिक्त स्मार्ट वेलनेस संेटर, कैटरिंग, स्मार्ट सैलून, स्मार्ट होम सर्विस तथा स्मार्ट सिक्यूरिटी सर्विसेज के लिए प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। उन्होंने बताया है स्मार्ट सिटी परियेजना के तहत उत्तर प्रदेश में स्मार्ट सिटी में आटो, कान्स्ट्रक्शन, रिटेल, फूड प्रोसेसिंग एवं हेल्थ केयरनेस के क्षेत्र में लोगों को प्रशिक्षित करने तथा उन्हें रोजगार से जोड़ने की योजना है। उद्यमिता विकास संस्थान के साथ लखनऊ स्मार्ट सिटी का समझौता इस दिशा में उठाया गया महत्वपूर्ण कदम होगा जो आगे चलकर अन्य जिले के स्मार्ट सिटी परियोजना के लिए मील का पत्थर साबित होगा।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक