उ0प्र0 : पुलिस हिरासत में प्रताड़ना का एक और मामला


कानपुर (मानवी मीडिया) : कासगंज में एक युवक की हिरासत में मौत पर धूल जमती इससे पहले ही उत्तर प्रदेश में पुलिस की बर्बरता का एक और मामला सामने आया है। कानपुर पुलिस पर अब पुलिस हिरासत में एक युवक को प्रताड़ित करने का आरोप लगा है, जिससे सोमवार को उसकी मौत हो गई। मामले में युवक के पड़ोसी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, तेज नारायण के बेटे जितेंद्र उर्फ कल्लू को पुलिस 13 नवंबर को चोरी के एक मामले में पूछताछ के लिए ले गई थी। माधवपुरम का रहने वाला युवक मुंबई में काम करता था। उनके पड़ोसी वाई.एस. दीक्षित ने जितेंद्र के खिलाफ 20 लाख रुपये चोरी करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। पेट दर्द की शिकायत के चलते सोमवार की रात पनकी थाना चौकी प्रभारी ने जितेंद्र के परिवार को फोन कर घर ले जाने को कहा।

जितेंद्र को घर लाया गया तो उसने घरवालों को बताया कि पुलिस ने उसे बेरहमी से पीटा है। उसके भाई और बहन ने मीडिया को बताया कि जितेंद्र के शरीर पर नीले रंग के निशान थे। मृतक के परिजनों का आरोप है कि घर लौटने के बाद से जितेंद्र की हालत लगातार बिगड़ती जा रही थी। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस की पिटाई से उसे अंदरूनी चोटें भी आई थीं। जितेंद्र को गंभीर हालत में हैलेट अस्पताल ले जाया गया और सोमवार की रात बाद में उसका निधन हो गया।

मृतक जितेंद्र कुमार पर पैसे चुराने का आरोप लगाने वाले पड़ोसी के खिलाफ पुलिस ने मंगलवार को हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। उधर, पुलिस ने अब मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) पश्चिम बीबीजीटीएस मुथी ने संवाददाताओं से कहा, एक युवक की मौत का मामला सामने आया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। साथ ही पूरे मामले की जांच की जा रही है। परिवार के सदस्यों द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच की जाएगी और जरूरत पड़ने पर कार्रवाई की जाएगी।

यह घटना एक सप्ताह बाद हुई है जब कासगंज में एक लड़की के साथ भागने के आरोपी एक युवक की पुलिस हिरासत में रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई थी। पुलिस का दावा है कि उसने आत्महत्या कर अपनी जीवन लीला समाप्त की है।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक