उ0प्र0 के 9 रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी, डाक से आया पत्र-


मेरठ (मानवी मीडिया) : कल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मेरठ के दौरे पर रहेंगे। लेकिन, सीएम के आगमन से पहले ही मेरठ के रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी मिली है। दरअसल, स्टेशन मास्टर को डाक से एक पत्र चिट्ठी आई थी। इस चिट्ठी में ही रेलवे स्टेशन में बम रखे की बात कही गई थी। इसके बाद से ही अधिकारियों ने देर रात तक चेकिंग की और पश्चिमी उत्तर प्रदेश को अलर्ट पर रख दिया गया है मुख्यमंत्री योगी प्रस्तावित दौरे से पहले मेरठ रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी, डाक से आया खत

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मेरठ में सिटी रेलवे स्टेशन पर मंगलवार दोपहर 3:30 बजे डाक से धमकी भरा पत्र पहुंचा। इस पत्र में मेरठ सहित कई जिलों में रेलवे स्टेशनों को 26 नवंबर और 6 दिसंबर को धार्मिक स्थलों को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। इसको लेकर जीआरपी ने रेलवे स्टेशन पर संघन चेकिंग कराई है।  

मेरठ सिटी रेलवे स्टेशन अधीक्षक के नाम से भेजे गए इस पत्र में लिखा है कि मैं अपने जिहादियों की मौत का बदला जरूर लूंगा। खुदा मुझे माफ कर देना, हम हिंदुस्तान को तबाह कर देंगे। 26 नवंबर को गाजियाबाद, हापुड़, मेरठ, मुजफ्फरनगर, अलीगढ़, खुर्जा, कानपुर, लखनऊ, शाहजहापुर सहित कई रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ा देंगे। छह दिसंबर को अयोध्या के हनुमानगढ़ी, रामजन्मभूमि, इलाहाबाद, गाजियाबाद, मेरठ, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर समेत यूपी के कई मंदिरों को बम से उड़ा देंगे। हालांकि इससे पहले तीन धमकी भरी चिट्ठी रेलवे स्टेशन पर आई है। 

टूंडला रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी, बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था

इस पत्र को पढ़ने के बाद स्टेशन अधीक्षक आरपी सिंह ने जीआरपी थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। इसके बाद जीआरपी और आरपीएफ ने बम डिस्पोजल की टीम को लेकर रेलवे स्टेशन पर संघन चेकिंग अभियान चलाया। 

बताया है कि मंगलवार दोपहर में डीआरएम डिमी गर्ग ने रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया था। जीआरपी प्रभारी विजय कांत सत्यार्थी ने बताया कि संवेदनशील मामले को देखते शाम को सभी ट्रेनों में चेकिंग कराई गई है। वहीं, प्लेटफार्म पर मेटल डिटेक्टर की मदद से यात्रियों के सामान की चेकिंग की गई है।

Previous Post Next Post