, जय माता ज्वाला जी के उद्घोष के साथ हवन कुंड में कूद गया श्रद्धालु


कांगड़ा(मानवी मीडिया)-शरद कालीन नवरात्रों के अष्टमी के दिन शक्तिपीठ माता श्री बज्रेश्वरी देवी मंदिर में एक बड़ा हादसा घटित हो गया। मंदिर में बने हवन कुंड में एक श्रद्धालु ने जय माता ज्वाला जी व जय कांगड़ा वाली बोलते हुए कूद गया। श्रद्धालु जिस समय हवन कुंड में गिरा उस समय हवन कुंड की आग काफी तेज थी और हवन कुंड के ईद-गिर्द बैठे अन्य श्रद्धालु हवन कुंड में अष्टमी की आहुति डाल रहे थे और मंदिर के कुछ पुजारी  हवन के लिए मंत्रों का जाप कर रहे थे। हवन कुंड में श्रद्धालु के गिरते ही वहां मौजूद अन्य श्रद्धालुओं, मंदिर के पुजारियों व मंदिर के सुरक्षा कर्मियों में हडक़ंप मच गया। हवन कुंड में गिरे श्रद्धालु को बाहर निकालते हुये मंदिर के सुरक्षा कर्मी उसे कांगड़ा के उपमंडलीय चिकित्सालय ले गये परन्तु श्रद्धालु की गंभीर हालत को देखते हुये डाक्टरों ने श्रद्धालु को टांडा मेडिकल कालेज रैफर कर दिया गया।

हवन कुंड की आग से झुलसे श्रद्धालु की पहचान मनफूल सिंह(68 वर्षीय) पुत्र बिहारी लाल, नगला जाख, नगला कंचन, मैनपुरी, परहाम,  उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। बताया यह भी जा रहा है कि हवन कुंड में सुबह से ही हवन के लिए आग जली हुई थी जिससे हवन कुंड की ज्यादा लौ के कारण श्रद्धालु लगभग 40 प्रतिशत झुलस गया। बताया जा रहा है कि श्रद्धालु की हालत गंभीर बनी हुई है और हवन कुंड में क्यों कूदा इसके बारे में पुलिस को उसने अभी ब्यान नहीं दिया। थाना प्रभारी कांगड़ा भारत भूषणने बताया मंदिर से उन्हें श्रद्धालु के हवन कुंड में गिरने की जानकारी मिली जिसे पर त्विरत कार्रवाई करते हुए उन्होंने कांगड़ा पुलिस स्टेशन से पुलिसकर्मियों व गाड़ी को भेज दिया। वही मंदिर अधिकारी दलजीत शर्मा ने बताया श्रद्धालु के हवन कुंड में गिरने की जानकारी तो मिली है परन्तु  श्रद्धालु हवन कुंड में कैसे गिरा यह जानकारी सामने नहीं आ पाई है जिसकी जांच की जा रही है। उन्होंने बताया पुलिस की मदद से श्रद्धालु को टांडा भेज दिया गया है।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र