लोकसभा उपचुनाव लड़ेगी अभिनेत्री कंगना रनौत? दावेदारों की रेस में सबसे आगे


मंडी (मानवी मीडिया): बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत हिमाचल प्रदेश की मंडी सीट से होने वाले उपचुनाव में बीजेपी की सीट से चुनाव लड़ सकती हैं। ये सीट इस साल मार्च में बीजेपी सांसद रामस्वरूप शर्मा की मौत के बाद खाली हो गई थी। बीजेपी 30 अक्टूबर को होने उपचुनाव के लिए चार विधासभा सीटों समेत मंडी लोकसभा पर अपने उम्मीदवार फाइनल करने के लिए धर्मशाला में बैठक करने वाली है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कंगना ने खुलकर चुनाव लड़ने की इच्छा जाहीर नहीं की है। वहीं बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व ने भी उम्मीदवारों को लेकर एक दौर की चर्चा कर ली है, लेकिन पार्टी का एक धड़ा कंगना रनौत को टिकट देने के पक्ष में हैं। बता दें कंगना रनौत मंडी जिले के भांबल गांव से हैं और हाल ही में उन्होंने मनाली में अपना नया घर बनाया है। ये भी मंडी संसदीय क्षेत्र में ही आता है।

जोगिंदरनगर से बीजेपी नेता और पूर्वोत्तर के सात राज्यों के लिए बीजेपी के संगठन सचिव अजय के छोटे भाई पंकज जम्वाल भी मंडी सीट से उपचुनाव के लिए टिकट के प्रमुख दावेदार हैं। वहीं सीएम जयराम ठाकुर के सहयोगी निहाल चंद भी उपचुनाव में टिकट की दौड़ में हैं, वहीं कारगिल युद्ध के हीरो ब्रिगेडियर कुशल ठाकुर भी टिकट पाना चाहते हैं।

पार्टी की चुनावी समिति में जयराम ठाकुर, केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर, प्रदेश पार्टी चीफ सुरेश कश्यप, बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सौदान सिंह, सह प्रभारी संजय टंडन, हिमाचल प्रभारी अविनाश राय खन्ना, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, बीजेपी संगठन सचिव पवन राणा, पार्टी महासचिव त्रिलोक जम्वाल, पूर्व स्पीकर राजीव बिंदल , राकेश जामवाल और त्रिलोक कपूर शामिल हैं।

प्रदेश में फतेहपुर, जुब्बल कोथकाई और अर्की विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं। आर्की सीट 6 बार सीएम रहे वीरभद्र सिंह के 8 जुलाई को निधन के बाद खाली हुई है। वहीं बाकी दो सीटें यहां के विधायकों की मौत के बाद ही खाली हुई हैं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र