श्रम कल्याण परिषद की 81वीं बोर्ड की बैठक , श्रमिको को यूनिफाइड नम्बर से मिलेगी पहचान

श्रम कल्याण परिषद श्रमिक परिवारो को ‘श्रवण कुमार पर्यटन योजना’ से कराएगा धार्मिक यात्रा

श्रमिको की कल्याणकारी योजनाओ के बेहतर कियान्वयन के लिए जनपदो में अभियान चलाकर समीक्षा बैठक की जाये

योजनान्तर्गत निर्धारित लक्ष्य पूरा न करने वाले अधिकारियों के खिलाफ होगी सख्त कार्यवाही

-सुनील भराला

लखनऊ:( मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश श्रम कल्याण परिषद के अध्यक्ष  सुनील भराला की अध्यक्षता में परिषद की  81वीं बोर्ड की बैठक तिलक हॉल में सम्पन्न हुई, जिसमें बोर्ड की पिछली बैठक की कार्यवाही की समीक्षा करते हुए वाणिज्यकर एवं कारखानो को श्रमिको के लिए यूनिफाइड नम्बर देने के लिए सर्व सम्मति से प्रस्ताव पारित किया गया। अब उ0प्र0 के श्रमिको को परिषद की योजनाओं के साथ-साथ यूनिफाइट नम्बर भी मिलेगा, जिससे किसी भी कारखाने एवं वाणिज्यकर के तहत काम और न्यूनतम वेतन भी मिलेगा।

 सुनील भराला ने बताया कि श्रम कल्याण परिषद की धार्मिक एवं पर्यटन श्रमिक योजना अब श्रवण कुमार धार्मिक पर्यटन योजना के नाम से जानी जायेगी। यह निर्णय बोर्ड की बैठक में सर्व सम्मति से लिया गया। श्रम कल्याण परिषद के सदस्यो ने यह भी प्रस्ताव रखा है कि श्रमिको की कल्याणकारी योजनाओ का बेहतर  कियान्वयन के लिए जनपदो में अभियान चलाकर सदस्यों द्वारा समीक्षा बैठक की जाये।  भराला ने कहा कि 10 नवम्बर, 2021 तक श्रवण कुमार धार्मिक पर्यटन योजना के पात्रों को लाभ देकर मुख्यमंत्री  द्वारा हरी झंडी दिखाकर यात्रियो को रवाना किया जायेगा। इसी प्रकार चेतन चौहान खेल क्रीड़ा योजना में 10 नवम्बर को श्रमिक परिवार खिलाड़ियों को योजना का हितलाभ विश्वैश्रैया हाल में मुख्यमंत्री  द्वारा मुख्य अतिथि के रूप में लाभान्वित किया जायेगा।

भराला ने समस्त श्रमायुक्त, सहायक श्रमायुक्त, श्रम प्रवर्तन अधिकारीयो को निर्देशित किया है कि उ0प्र0 के जनपदो में जहां भी योजनान्तर्गत 25 लाभार्थी नही हुए हैं अब उन संबंधित अधिकारियों पर कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी, उनके वेतन रोकने का आदेश भी जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि पिछली बोर्ड की बैठक में सभी अधिकारियों को लक्ष्य निर्धारित किया गया था, जो कि 30 सितम्बर, 2021 तक थी।

बैठक में सदस्य श्री अजीत कुमार जैन ने यह मुददा उठाया कि 02 अक्टूबर, 2021 को गांधी जयंती का कार्यक्रम जनपद बरेली में पूर्व निर्धारित था, जिसमें श्रम कल्याण परिषद की योजनाओ का प्रचार-प्रसार किया जाना था, लेकिन अधिकारियों की लापरवाही के कारण कार्यक्रम को स्थगित करना पड़ा, जिस पर बोर्ड के आपत्ति उठाते सम्बन्धित अधिकारी को र्निदेश जारी किया। इसी क्रम में महाराजा हरिश्चन्द्र मृतक आश्रित सहायता योजना के अंतर्गत पत्रांे को लाभान्वित करने के लिए सर्व सम्मति से 02 करोड 25 लाख रूपये पारित किया गया है।

 भराला ने कहा कि श्रम कल्याण परिषद द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओ के अंतर्गत सभी विभागीय अधिकारी पात्र लाभार्थियों की सूची बनायें, जिससे कि दत्तोपंत ठेगडी जयंती पर 10 नवम्बर, 2021 को इन्हें लाभान्वित किया जा सके। इसी प्रकार सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाले श्रमिक नेता, उघमी, वाणिज्यकर मालिक उघमी को सम्मानित करने का निर्णय लिया गया।

बोर्ड की बैठक में परिषद के सदस्य, आमन्त्रित सदस्य व अन्य विभागीय अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे। इसमें  राधे कृष्ण त्रिपाठी,  कन्हैयालाल भारती, अजीत जैन, मूरहू राजभर,  नवीन जैन, विशेष आमंत्रित सदस्यों में विवेक सक्सेना,  संजय दुबे, नमन भारद्वाज, सुचीता तिवारी,  डी0के0 सिंह अपर श्रम कल्याण आयुक्त,  प्रदीप कुमार उप श्रम कल्याण आयुक्त,  पंकज राणा सहायक श्रमायुक्त, मो० रिजवान अली आदि उपस्थित थे।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र