दिल्ली:: खुलासों ने सुरक्षा एजेंसियों के हाेश फाख्ता कर दिए,15 साल से रह रहा भारत में


नई दिल्ली (मानवी मीडिया)-दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जिस आतंकी को गिरफ्तार किया है उससे हुए खुलासों ने सुरक्षा एजेंसियों के हाेश फाख्ता कर दिए हैं। फर्जी आईडी पर नूरी नाम से 15 साल से भारतीय नागरिक के तौर पर दिल्ली में रह रहा था, वह आने वाले त्योहारों पर लोन वुल्फ अटैक को अंजाम देना चाहता था। यह भी जानकारी सामने आई है कि उसने अपनी साजिशों को अंजाम देने के लिए लोकल ग्रुप भी तैयार कर लिया था। 

आरोपी से एके-47 राइफल, अन्य हथियार और गोला बारूद बरामद किए गए हैं।  बताया जा रहा है कि दिवाली और आगामी त्योहारों के आसपास आतंकी हमलों की साजिश में वह शामिल था। इस तरह से दिल्ली पुलिस ने एक बड़ी आतंकी साजिश का पर्दाफाश करते हुए शहर से खतरे को टालने का काम किया है। गिरफ्तार आतंकी अशरफ अली के मकान मालिक उजैब ने कहा कि वह यहां छह महीने तक रहा। उसके जाने के बाद हम उसके संपर्क में नहीं थे। जरूरत पड़ी तो हम पुलिस का सहयोग करेंगे। देश की राजधानी दिल्ली में 10 अक्तूबर को आतंकी हमले का इनपुट मिला था। हमले की सूचना मिलने के बाद दिल्ली पुलिस हाई अलर्ट हो गई थी। शनिवार को दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की थी। उक्त आतंकी ने पाकिस्तान की आईएसआई से प्रशिक्षण लिया था। पाक आतंकी नासिर ने इसे भर्ती किया था। डीसीपी सैल प्रमोद कुशवाहा ने बताया कि हमने इसकी गिरफ्तारी से आतंकी हमले को नाकाम किया है। आरोपी के पास कई फर्जी आईडी हैं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र