हाय एक झटके में 12 रुपए बढ़ गए पेट्रोल के दाम


इस्लामाबाद (मानवी मीडिया)- पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों ने आम जनता को परेशान कर दिया है। पिछले कई दिनों से पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ने का सिलसिला जारी है। 

ईंधन की बढ़ती कीमतों में आ रहा उछाल आम जनता के बजट को बिगाड़ने लगा है। भारत में डीजल की दरें एक दर्जन राज्यों में 100 के पार पहुंच गई है। वही मुंबई में डीजल 102.15 रुपये प्रति लीटर बिकने लगा है। अगर दिल्ली की बात करें तो पेट्रोल की कीमत 105 के पार और डीजल भी 94.22 रुपए पर पहुंच गया है।  इस बढ़ती महंगाई के बीच अगर पड़ोसी मुल्क की बात करें तो पाकिस्तान के हालत और भी बदतर नजर आ रहे है। यहां भी पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ते ही जा रहे हैं।  पाकिस्तान की मीडिया डॉन की खबर के मुताबिक बीते दिन ही पेट्रोल की कीमत में 10 रुपए प्रति लीटर का इजाफा हुआ है। वहीं, डीजल की बात करें तो 12.44 रुपए प्रति लीटर तक महंगा हो गया है। गौरतलब है कि पाकिस्तान में भारत की तरह पेट्रोल-डीजल के रेट रोजाना जारी नहीं होते। वहां 15 दिन पर कीमतों में बदलाव होता है। ताकि पाकिस्तान स्टेट ऑयल की आयात लागत के आधार पर मासिक गणना के पिछले सिस्टम के बजाय प्लैट्स ऑयलग्राम में प्रकाशित अंतरराष्ट्रीय कीमतों को पारित किया जा सके। पाकिस्तान की इमरान सरकार ने महीने की शुरुआत में पेट्रोल की कीमत में 4 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी। यहां पाकिस्तान में 16 अक्टूबर से प्रभावी पेट्रोल की नई कीमत 137.79 रुपये प्रति लीटर है, जबकि हाई स्पीड डीजल 134.48 रुपये में बिक रहा है।

 पाकिस्तान में पेट्रोल डीजल का रेट तेजी से बढ़ने का एक कारण सरकार चलाने के लिए इमरान खान द्वारा अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष से लिया गया भारी भरकम कर्ज है। इस साल जुलाई में IMF ने पाक सरकार पर दबाव बनाना शुरू कर दिया कि वह राजस्व मॉडल तैयार करे ताकि कर्ज वापसी की सूरत बन सके। IMF ने पाकिस्तान को 50 करोड़ डॉलर का कर्ज देते वक्त यह शर्त रखी थी कि सरकार को ढांचागत सुधार कर अपने राजस्व मॉडल को बढ़ाना होगा। इसके लिए इमरान सरकार ने रेवेन्यु इकट्ठा करने के लिए पेट्रोल डीजल के रेटों में बढ़ोतरी की हुई है।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक