उ0प्र0 ::कारोबारी की हत्या का मामला उठाएंगी निर्भया की वकील

 


कानपुर (मानवी मीडिया) : निर्भया केस में इंसाफ की लड़ाई लड़ने वाली और हाथरस रेप और मर्डर पीड़िता का केस लड़ने वाली वकील सीमा समृद्धि अब मनीष गुप्ता मर्डर केस की पैरवी करेंगी। पिछले महीने गोरखपुर के एक होटल में पुलिस की छापेमारी के दौरान व्यवसायी मनीष गुप्ता की कथित तौर पर हत्या कर दी गई थी और इस मामले में 6 पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया गया है।

सीमा ने कहा कि वह बिना कोई फीस लिए मनीष गुप्ता का केस लड़ेंगी। उन्होंने कहा कि मृतक मनीष की पत्नी ने उससे मदद की गुहार लगाई थी। उन्होंने कहा कि वह मामले को दिल्ली स्थानांतरित करने की कोशिश करेगी क्योंकि उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान इस मामले में शामिल हैं।

इस बीच, मारे गए व्यवसायी की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता ने कहा कि राज्य सरकार की सिफारिश के बावजूद अभी तक सीबीआई ने जांच शुरू नहीं की है।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, अब मैं सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने की तैयारी कर रही हूं। मैं सीबीआई की लखनऊ इकाई से जांच नहीं करवाना चाहती हूं। याचिका में मैं सीबीआई की दिल्ली इकाई से जांच कराने की मांग करूंगी।

मीनाक्षी ने यह भी कहा कि उन्हें एसआईटी से कोई शिकायत नहीं है जो इस समय मामले की जांच कर रही है।

उन्होंने कहा, एसआईटी अपना काम कर रही है लेकिन गोरखपुर पुलिस सबूतों को नष्ट करने पर आमादा है। अगर महत्वपूर्ण सबूत नष्ट कर दिए जाते हैं, तो यह मामला कमजोर हो जाएगा और आरोपी पुलिसकर्मियों को उनके पापों के लिए दंडित नहीं किया जाएगा, जैसा कि उन्हें होना चाहिए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले ही परिवार को आर्थिक मदद दे चुके हैं और मीनाक्षी गुप्ता को कानपुर विकास प्राधिकरण में ओएसडी की नौकरी दे चुके हैं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक