लखीमपुर खीरी हिंसा मामले पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, उ0प्र0 सरकार से केस की स्टेटस रिपोर्ट तलब की

 


लखीमपुर खीरी (मानवी मीडिया): उत्तर प्रदेश में लखीमपुर-खीरी हिंसा के मामले में सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद पुलिस ने आज दो आरोपियों अशीष पाण्डेय और लवकुश को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि मुख्‍य आरोपी आशीष मिश्रा अभी भी लापता है। दरअसल, केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष के खिलाफ थाने में नामजद रिपोर्ट दर्ज की गई है।

लखनऊ जोन की पुलिस महानिरीक्षक लक्ष्मी सिंह ने बताया कि तीन अक्टूबर को तिकोनिया क्षेत्र में हुई हिंसा की घटना चार किसानों व एक पत्रकार समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में पुलिस किसानों को रौंदने वाले वाहन पर सवार अशीष कुमार और लवकुमार को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आरोपी आशीष मिश्रा के दोस्त हैं। उन्होंने बताया कि इस मामले में नामजद केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री के पुत्र अशीष मिश्रा को पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा।

गौतरलब है कि तीन अक्टूबर को लखीमपुर-खीरी जिले के तिकुनिया क्षेत्र में हुई हिंसा में आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद प्रदेश में राजनीति नेताओं की लखीमपुर जाने की होड लगी है।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र