उ0प्र0 कोर्ट परिसर में दिनदहाड़े वकील की गोली मारकर हत्या; सवालों के घेरे में कानून व्यवस्था


लखनऊ (मानवी मीडिया): उत्तर प्रदेश में शाहजहांपुर के सदर बाजार क्षेत्र में स्थित कचहरी परिसर में एक वकील उपेंद्र प्रताप की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। हत्‍या के बाद कातिल मोके पर देसी पिस्‍टल फेंककर चले गए। इस घटना ने पूरे जिले में हड़कंप मचा दिया है। घटना की सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल के साथ डीएम-एसपी भी मौके पर पहुंचे। उधर, घटना से आक्रोशित वकीलों ने चौराहे पर जाम लगा दिया है। वकीलों को समझाने के लिए एसएसपी, एसपी सिटी सहित लिस के कई आला अधिकारी पहुंचे हैं। 

पुलिस का कहना है कि गोली चलने की आवाज सुनकर लोग रिकार्ड रूम के भीतर गये जहां वकील का लहूलुहान शव पड़ा था। उनकी कनपटी पर गोली लगी है। पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है। हालांकि इस घटना ने न्यायालय सुरक्षा पर बड़े सवाल खड़े कर दिए हैं क्योंकि न्यायालय परिसर में अवैध असलाह लाने की मनाही है। इस वारदात को वकीलों की सुरक्षा के साथ-साथ न्यायालय की सुरक्षा में भी चूक होना माना जा रहा है। पुलिस अधीक्षक एस आनंद का कहना है कि हर पहलू की गंभीरता से जांच की जा रही है जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे उनके हिसाब से कार्रवाई की जाएगी।

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने कहा कि शाहजहांपुर कचहरी परिसर में वकील की हत्या ने उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की लचर हालत की पोल खोल दी है। मायावती ने ट्वीट किया, यूपी के जिला शाहजहाँपुर के कोर्ट परिसर में वकील की आज दिन दहाड़े हुई हत्या अति-दुखद व शर्मनाक जो यहाँ की भाजपा सरकार में कानून-व्यवस्था की स्थिति व इस सम्बंध में सरकारी दावों की पोल खोलती है। अब अन्ततः यही सवाल उठता है कि यूपी में आखिर सुरक्षित कौन। सरकार इस ओर समुचित ध्यान दे।

 कोर्ट में घुसकर वकील की गोली मारकर हत्या, आरोपी  फरार, मौके पर पुलिस फोर्स

गौरतलब है कि शाहजहांपुर कचहरी परिसर स्थित रिकार्ड रूम में सोमवार सुबह एक वकील की गोली लगने से मौत हो गयी है। पुलिस ने अभी यह साफ नहीं किया है कि यह हत्या है अथवा आत्महत्या मगर इस वारदात ने कचहरी परिसर की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल जरूर खड़े कर दिये हैं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक