उ0प्र0 गोसेवा आयोग के उपाध्यक्ष ने हरदोई के गो आश्रय स्थलों का किया निरीक्षण


लखनऊ: (मानवी मीडिया)उ0प्र0 गोसेवा आयोग द्वारा प्रदेशव्यापी निरीक्षण अभियान के क्रम में आज उ0प्र0 गोसेवा आयोग के उपाध्यक्ष, अतुल सिंह द्वारा अस्थायी गो आश्रय स्थल बाहर जनपद हरदोई का निरीक्षण किया गया। गोशाला में लगभग 163 गोवंश संरक्षित है। उक्त गोशाला में गोवंशों का समुचित रख-रखाव किया गया है। गोवंश के पेय जल हेतु तालाब एवं छायादार वृक्षों की व्यवस्था भी गोवंश आश्रय स्थल पर है, जिसकी मा0 उपाध्यक्ष  अतुल सिंह ने प्रसंशा की तथा क्षेत्र में घूम रहे निराश्रित गोवंश को यहां संरक्षित करने हेतु गोशाला संचालकों को निर्देशित किया।

भ्रमण के पश्चात् जनपद हरदोई की गो संरक्षण समिति के अधिकारियों/पदाधिकारियों के साथ गोवंश संरक्षण एवं संवर्धन विषयक बैठक की गयी। बैठक में अवगत कराया गया कि जनपद हरदोई में 105 अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल, 2 कान्हा गोशाला, 5 कांजी हाउस, 2 वृहद गो संक्षण केन्द्रों में लगभग 16000 गोवंशों को संरक्षित किया गया है। बैठक में उपस्थित डा0 जे0एन0 पाण्डे, मुख्य पशुचिकित्सा अधिकारी ने अवगत कराया कि जनपद के सभी गोवंश आश्रय स्थलों में गोवंशों को मौसमी बीमारियों से बचाव हेतु टीकाकरण कराया गया है तथा संरक्षित गोवंशों की टैगिंग भी की गयी है। इस पर उपाध्यक्ष  द्वारा संतोष व्यक्त किया गया।

बैठक के उपरान्त वृहद गो संरक्षण केन्द्र तेंदुआ मल्लावां हरदोई का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में गोशाला प्रबंधक ने बताया कि सभी गोवंश स्वस्थ हैं उन्हें सामायिक टीका लगाया जा चुका है। उनके चारे एवं पेयजल का समुचित प्रबंध है और गोवंशों के टैग भी लगे हैं। निरीक्षण के दौरान जिले के वरिष्ठ पदाधिकारीगण, डा0 वीरेन्द्र सिंह, सचिव, उ0प्र0 गोसेवा आयोग, डा0 प्रतीक सिंह, विशेष कार्याधिकारी गोसेवा आयोग उपस्थित रहे।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र