उ0प्र0 में 59 प्रतिशत लोगों को लग चुका है कोरोना का पहला टीका


लखनऊ (मानवी मीडिया): उत्तर प्रदेश में 18 साल से अधिक उम्र की 59 फीसदी आबादी ने कोरोना के टीके की पहली खुराक ग्रहण कर ली है। सूबे के अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने शनिवार को बताया कि कोविड टीकाकरण के लिए पात्र प्रदेश की 59 प्रतिशत से आबादी ने टीके की पहली डोज प्राप्त कर ली है। अब तक 8 करोड़ 74 लाख लोगों को टीके की पहली डोज लगाई जा चुकी है। इसी प्रकार, 02 करोड़ 14 लाख लोगों को टीके की दोनों खुराक मिल चुकी है।

उन्होने कहा कि प्रदेश में कुल कोविड वैक्सीनेशन 10 करोड़ 88 लाख से अधिक हो चुका है। यह किसी एक राज्य में हुआ सर्वाधिक टीकाकरण है। प्रदेश के 31 जिलों में कोविड का एक भी एक्टिव केस नहीं है। 22 जिलों में केवल एक-एक एक्टिव मरीज ही शेष हैं। पिछले 24 घंटे में हुई 01 लाख 92 हजार 692 सैम्पल की टेस्टिंग में 14 नए मरीजों की पुष्टि हुई। इसी अवधि में 13 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए। अब तक 16 लाख 86 हजार 797 प्रदेशवासी कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर स्वस्थ हो चुके हैं।

 सहगल ने कहा कि विगत दिवस हुई कोविड टेस्टिंग में 66 ज़िलों में संक्रमण का कोई भी नया केस नहीं मिला। वर्तमान में 153 कोरोना संक्रमितों का उपचार हो रहा है। अब तक 07 करोड़ 89 लाख 56 हजार 839 सैम्पल की कोविड जांच की जा चुकी है। यह देश के किसी एक राज्य में हुई सर्वाधिक टेस्टिंग है। औसतन हर दिन सवा दो लाख से ढाई लाख तक टेस्ट हो रहें हैं, जबकि पॉजिटिविटी दर 0.01 फीसदी से भी कम हो गई है और रिकवरी दर 98.8 फीसदी है।

उन्होने बताया कि कोविड की ताजा स्थिति के अनुसार प्रदेश के 31 जिलों अमेठी,अमरोहा,बागपत,बलिया, बलरामपुर, बाराबंकी, चन्दौली, एटा, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, गाजीपुर, गोंडा, हमीरपुर, हापुड़, हरदोई, हाथरस, जालौन, कानपुर देहात, कासगंज, लखीमपुर-खीरी, ललितपुर, महोबा, मैनपुरी, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, रामपुर, संतकबीरनगर, श्रावस्ती, सिद्धार्थ नगर, सीतापुर और उन्नाव में कोविड का एक भी मरीज शेष नहीं है। यह जिले आज कोविड संक्रमण से मुक्त हैं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र