मोदी सरकार ने किसानों को दिया बड़ा तोहफा- गेहूं समेत इन रबी फसलों की MSP बढ़ाई, जानिए


नई दिल्ली (मानवी मीडिया)- सरकार ने दलहन में मसूर और तिलहन में सरसों के उत्पादन में वृद्धि को ध्यान में रख कर इसके न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में पिछले साल की तुलना में 400-400 रुपये प्रति क्विंटल की वृद्धि कर दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की आर्थिक माामलों की समिति की आज यहां हुई बैठक में कृषि मंत्रालय के वर्ष 2022-23 के दौरान रबी सीजन के कृषि उत्पादों के एमएसपी बढाने के प्रस्तावों को मंजूरी दी गई। सरकार ने चने के एमएसपी में 130 रुपये प्रति क्विंटल और सूरजमुखी में 114 रुपये प्रति क्विंटल की वृद्धि करने को भी स्वीकृति प्रदान कर दी है। अब सरसों का समर्थन मूल्य बढ़कर 5050 रुपए प्रति क्विंटल हो गया है, जो सरसों उत्पादन की लागत (2523 रुपए प्रति क्विंटल) से लगभग 100 प्रतिशत अधिक है। सरकार के इस प्रयास से देश में तिलहन उत्पादन बढ़ाने में मदद मिलेगी। रबी दलहन की बात करें तो चने और मसूर के समर्थन मूल्य में भी जोरदार बढ़ोतरी हुई है, चने का समर्थन मूल्य 130 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ाया गया है और अब चने का MSP बढ़कर 5230 रुपए प्रति क्विंटल हो गया है। मसूर का MSP 400 रुपए प्रति क्विंटल बढ़कर 5500 रुपए प्रति क्विंटल घोषित किया गया है।

रबी फसलों के लिए मार्केटिंग सीजन (2022-23) के लिए MSP

गेहूं की MSP 2015 रुपए

चना की MSP 3004 रुपए

जौ की MSP 1635 रुपए

मसूर दाल MSP 5500 रुपए

सूर्यमुखी MSP 5441 रुपए

सरसों MSP 5050 रुपए


पिछले साल के मुकाबले किस फसल की कितनी MSP बढ़ाई गई?

गेहूं की MSP में 40 रुपए की बढ़ोतरी

चना की MSP में 130 रुपए की बढ़ोतरी

जौ की MSP में 35 रुपए की बढ़ोतरी

मसूर दाल की MSP में 400 रुपए की बढ़ोतरी

सूर्यमुखी की MSP में 114 रुपए की बढ़ोतरी

सरसों की MSP में 400 रुपए की बढ़ोतरी

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र