पुलिस हिरासत में मौत के मामले में नौ पुलिसकर्मियो के खिलाफ वारंट


जौनपुर (मानवी मीडिया) : उत्तर प्रदेश में जौनपुर की एक अदालत ने पुलिस हिरासत में मौत के मामले में बक्शा के तत्कालीन थाना प्रभारी समेत नौ पुलिसकर्मियों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।

पुलिस सूत्रों ने बुधवार को बताया कि पिछली 11 फरवरी को बक्शा थाने में पुलिस की कस्टडी में चकमिर्जापुर निवासी पुजारी यादव की मौत हो गयी थी। इस मामले में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ( सीजेएम ) विकास कुमार ने मंगलवार को तत्कालीन थानाध्यक्ष बक्शा समेत नौ पुलिस कर्मियों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। सभी पुलिस कर्मी घटना के बाद निलंबित कर दिए गए थे जो फरार चल रहे हैं।

मामले की विवेचना कर रहे क्षेत्राधिकारी बदलापुर ने कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया कि कई स्थानों पर दबिश देने के बाद भी आरोपितों का पता नहीं चल रहा है। ऐसे में विवेचना प्रभावित हो रही है। आरोपित बनाए गए तत्कालीन थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह, एसओजी प्रभारी पर्व कुमार सिंह, कांस्टेबल कमल बिहारी बिंद, जितेंद्र सिंह, राजकुमार वर्मा, श्वेत प्रकाश सिंह, राजन सिंह, जयशील प्रसाद तिवारी, अंगद प्रसाद चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया जाए। इस पर कोर्ट ने सभी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया।

चक मिर्जापुर निवासी अजय कुमार यादव ने सभी के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराया कि 11 फरवरी को एसओजी टीम व थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह फोर्स के साथ घर पर आए और भाई कृष्ण कुमार यादव उर्फ पुजारी को पकड़कर थाने ले गए। सुबह सूचना मिली कि उनके भाई की मौत हो गई।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र