माफियाओं और अपराधियों पर कार्यवाई से क्यों होता है अखिलेश को दर्द?: सिद्धार्थनाथ


लखनऊ (मानवी मीडिया)प्रदेश सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि ट्वीट करने से जमीनी हकीकत का पता नहीं चलता। मैदान में आइए। आपको जनता के मूड मिजाज का पता चल जाएगा। सपा के शासन काल की अराजकता और कुशासन वह आज तक भूली नहीं है। पहली बार उसने एक दमदार,ईमानदार  एवं पारदर्शी सरकार और उसके काम देखे हैं। वह इन कामों के नाते योगी सरकार की मुरीद हो चुकी है। चुनावों में आपका मुगालता दूर हो जाएगा तब तक ख्वाब देखते रहिए।  

सोमवार को यहां जारी एक बयान में उन्होंने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने साढ़े चार साल में सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की भावना से कार्य किया है. इस दौरान हम प्रदेश के बारे में देश-दुनिया के लोगों का नजरिया बदला है। कानून का राज कायम हुआ है। अपराधी और माफिया त्रस्त हैं और जनता भयमुक्त, पर इससे आपको क्यों दर्द होता है?

प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि प्रदेश सरकार की साढ़े  चार साल की उपलब्धियां सोलह आने सच का दस्तावेज है,पर जिसके राजनीति की बुनियाद ही झूठ हो उसे सब झूठ ही दिखेगा।

 भाजपा राज में ठगों की दुकान बंद है। पहले ठगों का विकास होता था सरकार के सारे काम ठगों के भरोसे होते थे। अब पारदर्शी सरकार मे जनता का विकास हो रहा है। प्रदेश प्रवक्ता ने अखिलेश यादव को नसीहत दी कि वे आनलाइन झूठ के प्रशिक्षण की बजाय जनता के बीच आफलाइन आयें तो असलियत से वाकिफ होंगे. चुनाव में उन्हें जनता बता देगी दमदार कौन है और दुमदार कौन है. सिद्धार्थनाथ ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष से यह पूछा कि वैश्विक महामारी कोरोना कालखंड में वह कहाँ थे?बाढ़ में भी आप कहीं नजर नहीं आए। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कहां थे सब जानते हैं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र