जिला स्तरीय उद्योग बन्धु समिति की बैठक सम्पन्न


लखनऊ (मानवी मीडिया)मण्डल लखनऊ  जिलाधिकारी श्री अभिषेक प्रकाश की अध्यक्षता में जिला स्तरीय उद्योग बन्धु समिति की बैठक सम्पन्न हुई।

  इस बैठक में जनपद में स्थापित औद्योगिक क्षेत्रों के उद्यमी संगठन के पदाधिकारियों, सम्मानित उद्यमियों, उ0प्र0 व्यापारी कल्याण बोर्ड के सदस्यों एवं जनपद के विभिन्न विभागों के अधिकारीगण द्वारा प्रतिभाग किया गया।

जिलाधिकारी ने कहा कि तुलसीदास मार्ग निकट बालाजी मंदिर के पहले बनी पुरानी पुलिया के चौड़ीकरण के सम्बन्ध में अध्यक्ष द्वारा इसी माह पूर्ण कराने के निर्देश दिये।

      उन्होंने कहा कि औद्योगिक क्षेत्र चिनहट, नादरगंज तथा राजकीय औद्योगिक आस्थान, तालकटोरा रोड एवं मटियारी चौराहा एवं देवा रोड पर भारी वाहनों तथा किये गये अतिक्रमण के सम्बन्ध में द्वारा निर्देशित किया गया कि नगर निगम/यूपीसीडा/पीडब्लूडी/पुलिस विभाग संयुक्त रूप से अतिक्रमण हटाओं विशेष अभियान चलाकर अतिक्रमण को शीघ्र हटवाने का कार्य करें। इसी प्रकार अन्य प्रकरणों के सम्बन्ध में जिलाधिकारी (अध्यक्षता) द्वारा निर्देशित किया गया कि उद्यमियों से सम्बन्धित जो प्रकरण लम्बित हो उसे सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों द्वारा उद्यमी हित में समस्याओं का यथाशीघ्र निस्तारण कराया जाय।

  डीएम  प्रकाश ने कहा कि समस्त औद्योगिक क्षेत्र की सड़कें तथा सम्पर्क मार्ग को एक माह के अन्दर गढ़ढामुक्त करने हेतु पीडब्लूडी तथा नगर निगम को निर्देशित किया।

         समिति के माध्यम से उद्यमियों को डिफेन्स कारिडोर के ब्रह्मोस मिसाइल उत्पादन इकाई तथा इससे सम्बन्धित एन्सीलरी इकाई की स्थापना के सम्बन्ध में अवगत कराया गया। उद्यमियों द्वारा इस कार्य हेतु जिलाधिकारी अध्यक्ष का आभार प्रकट किया गया।

          बैठक में निवेश मित्र पोर्टल पर उद्यमियो द्वारा ऑन लाइन दाखिल स्वीकृतियां/अनापत्तियाँ/अनुमतियों के लम्बित आवेदनों के स्वीकृतियां/अनापत्तियाँ/फीडबैंक/शिकायतों का समयबद्ध तथा गुणवत्तापूर्वक निस्तारण के सम्बन्ध में सम्बन्धित विभागों को निर्देशित किया। इस सम्बन्ध में शिथिलता स्वीकार्य नहीं होगी।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र