पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लोकार्पण के लिए उल्टी गिनती शुरू

 


लखनऊ (मानवी मीडिया) लखनऊ से गाजीपुर तक को जाने वाली पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के लोकार्पण के लिए उल्टी गिनती शुरू हो गई है. इसी को लेकर यूपी के मुख्य कार्यपालक और अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी लखनऊ से इसी मार्ग से निरीक्षण करते हुए आजमगढ़ पहुंचे. उन्होंने कहा कि इसी महीने प्रधानमंत्री के इस रोड के लोकार्पण का कार्यक्रम है.

अवनीश अवस्थी ने कहा कि इस बार बारिश कुछ ज्यादा हुई है जिसके चलते मार्ग पर कुछ जगह पानी लग गया था. जिसको दुरुस्त कराया जा रहा है. इसके अलावा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर सभी जगह बिजली के तार, लाइटें, सिग्नल लगाने का कार्य पूरा हो चुका है. लेन मार्किंग कर ली गई है. रोड पर कंप्लीट है. करीब 97 फीसदी कार्य पूरा हो गया है. इसके अलावा सुल्तानपुर में कूड़ेभार में एयर स्ट्रिप को लेकर आज एयर फोर्स के अधिकारियों के साथ भी निरीक्षण किया गया. इस पर वायुसेना के विमान उतारे जाएंगे.

उन्होंने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे मार्ग की क्वालिटी अच्छी है और इस पर 160 से 170 की स्पीड से चला जा सकता है. हालांकि 120 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से ही नियम निर्धारित है. इसके अलावा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के किनारे इंडस्ट्रियल पार्क के लिए मुख्यमंत्री का प्रस्ताव है. जिस पर कार्य हो रहा है. चिन्हित किया जा रहा है कि कहां-कहां पर इंडस्ट्रियल पार्क बनेगा. क्योंकि इसी से पूर्वांचल के विकास का मार्ग निर्धारित होगा.

यह 340.824 किलोमीटर पूर्वांचल एक्सप्रेसवे लखनऊ-सुल्तानपुर रोड (एनएच-731) पर चंदसराय गांव से शुरू होता है और उत्तर प्रदेश-बिहार सीमा से लगभग 18 किलोमीटर दूर गाजीपुर जिले (एनएच-19) के हैदरिया गांव में समाप्त होता है. ये छह लेन का एक्सप्रेसवे आठ लेन तक विस्तार योग्य है. एक्सप्रेसवे लखनऊ, बाराबंकी, अमेठी, सुल्तानपुर, अयोध्या, अंबेडकर नगर, आजमगढ़, मऊ और गाजीपुर के नौ जिलों को कवर करेगा. यह वाराणसी, अयोध्या, गोरखपुर और इलाहाबाद जैसे महत्वपूर्ण शहरों को भी लिंक सड़कों के माध्यम से जोड़ेगा. इसके अलावा, सुल्तानपुर जिले के कुडेभर में एक्सप्रेस-वे का तीन किलोमीटर लंबा रनवे भी होगा. इस रनवे को आपात स्थिति के दौरान भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों की लैंडिंग और टेक-ऑफ के लिए प्रस्तावित किया गया है.

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र