पाकिस्तान में सिद्धिविनायक मंदिर में तोड़फोड़ को लेकर मोदी सरकार सख्त, दिल्ली में पाक के शीर्ष राजनयिक को किया तलब


नई दिल्ली (मानवी मीडिया): पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में बुधवार की देर रात भीड़ ने एक हिंदू मंदिर पर हमला कर दिया। कट्टरपंथियों की भीड़ ने मंदिर में लगी देवी-देवताओं की प्रतिमाओं को भी काफी नुकसान पहुंचाया है। इसपर भारत ने गुरुवार को दिल्ली में पाकिस्तान के शीर्ष राजनयिक को तलब किया और पाकिस्तान में हिंदू मंदिर की तोड़फोड़ पर कड़ा विरोध दर्ज कराया है। बता दें क‍ि पिछले एक साल में पाकिस्तान में कई जगह हिंदू मंदिरों के साथ तोड़फोड़ की गई है। इन सभी मामलों को लेकर वहां का प्रशासन लापरवाह रहा है।

पाकिस्तान में सिद्धिविनायक मंदिर में तोड़फोड़, इलाके में भारी पुलिस बल तैनात

 दरअसल, चार अगस्त की देर रात पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के सादिकाबाद जिले के भोंग शरीफ गांव में सिद्धिविनायक मंदिर पर हमला कर दिया। इस भीड़ ने मंदिर में लगी देवी-देवताओं की प्रतिमाओं को भी तहस-नहस कर डाला। इस घटना का विरोध भारत में हुआ। सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों ने पाकिस्तान की इमरान खान सरकार पर निशाना साधा। इसी कड़ी में अब भारत सरकार ने ना सिर्फ दिल्ली में पाकिस्तान के शीर्ष राजनयिक को तलब किया बल्कि मंदिर की तोड़फोड़ पर कड़ा विरोध दर्ज कराया है।

पाकिस्तान के मंदिर में तोड़फोड़, भारत सख्त; PAK उच्चायोग के डिप्टी  को समन - 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि भारत ने पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदायों की धार्मिक स्वतंत्रता पर निरंतर हमलों को लेकर अपनी गंभीर चिंताओं से भी पाकिस्तानी राजनयिक को अवगत कराया है। बागची ने मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि यहां पाकिस्तानी उच्चायोग के प्रभारी को गुरूवार दोपहर तलब किया गया और पाकिस्तान में हुई इस निंदनीय घटना को लेकर, अल्पसंख्यक समुदायों की धार्मिक स्वतंत्रता एवं उनके धार्मिक स्थलों पर लगातार हो रहे हमलों पर अपनी गंभीर चिंता प्रकट करते हुए कड़ा विरोध दर्ज कराया है। 


पाकिस्तान में मंदिर में तोड़फोड़ के मामले में भारत सरकार सख्त, विदेश  मंत्रालय ने पाक उच्चायोग के अधिकारी को तलब किया - 

पाकिस्तान के मंदिर में यह हमला उस समय हुआ जब पंजाब प्रांत में मुस्लिमों की भीड़ ने मंदिर पर धावा बोल दिया। हालात इतने बेकाबू थे कि पुलिस भी मूकदर्शक बनी रही और आखिरकार स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पाकिस्तानी रेंजर्स को बुलाना पड़ा। पुलिस ने बताया कि मुस्लिमों की भीड़ ने बुधवार को मंदिर पर हमला किया। यह मामला रहीम यार खान जिले के भोंग शहर का है, जो लाहौर से करीब 590 किलोमीटर दूरी पर है।पुलिस के मुताबिक, भीड़ ने कथित तौर पर एक मदरसे के अपमान का बदला लेने के लिए मंदिर में तोड़फोड़ की। स्थानीय पुलिस द्वारा की गई लापरवाही शर्मनाक है।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र