संविधान के उद्देश्यों को युवाओं और जन-जन तक पहुंचाएंगे: अनुराग ठाकुर

स्वतंत्रता आंदोलन के संघर्षों को दर्शाने वाली 75 फिल्मों के चित्रांजलि पोस्टर का अनावरण 


नई दिल्ली (मानवी मीडिया) : केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर सहित पांच मंत्रियों ने शुक्रवार को नेशनल मीडिया सेंटर में संविधान का निर्माण ई चित्र प्रदर्शनी और देश के स्वतंत्रता आंदोलन के संघर्षों को दर्शाने वाली 75 फिल्मों के चित्रांजलि पोस्टर का अनावरण किया। यह कार्यक्रम आजादी के अमृत महोत्सव के तहत किया गया। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, जी किशन रेड्डी, अर्जुन राम मेघवाल और एल मुरुगन, मीनाक्षी लेखी ने उद्घाटन और अनावरण करते हुए जनभागीदारी के माध्यम से संविधान के उद्देश्यों को जनता तक पहुंचाने पर जोर दिया।

इस मौके पर केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि हम युवाओं के बीच में ई-चित्र प्रदर्शनी लेकर जा रहे हैं ताकि युवाओं को पता चले कि देश का संविधान कैसे बना। इस चित्र प्रदर्शनी का उद्देश्य युवाओं को उनके अधिकारों की जानकारी के साथ कर्तव्य बोध भी कराना है। हम नो योर कांस्टीट्यूशन कार्यक्रम चलाएंगे, जिससे यह समझा जा सके संविधान को जिन उद्देश्यों के साथ बनाया गया उसको आत्मसात कर सके। कोविड के कारण डिजिटल प्रदर्शनी का आयोजन किया गया है। जन भागीदारी से संविधान को जन-जन तक पहुंचाने की तैयारी है। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने भारतीय फिल्म इंडस्ट्री से अपील करते हुए कहा, फिल्म इंडस्ट्री के पास मौका है, अपने गौरवमयी इतिहास को दिखाने का। चित्रांजलि 75 वर्ष के भारतीय सिनेमा का प्रतिनिधित्व करता है। भारतीय सिनेमा ने समाज की छवि को आईने के रूप में दिखाया है। 

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि वर्ष 1913 में राजा हरिश्चंद नामक पहली फीचर फिल्म के निर्माण से लेकर आज भारत दुनिया में सबसे ज्यादा फिल्म निमार्ता देश बना है। यह सफलता की लंबी छलांग है। हमारी फिल्म इंडस्ट्री ने समाज से जुड़े विभिन्न विषयों को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य किया है। बहुत सारी फिल्में स्वतंत्रता संग्राम में बहुत बड़ी भूमिका निभाने वाली हस्तियों पर बनीं, इसे चित्रांजलि में दिखाया गया है। केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री  किशन रेड्डी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद् मोदी आजादी का अमृत महोत्सव को युवाओं की भागीदारी वाला बनाना चाहते हैं। 2047 में भारत की आजादी के सौ साल हो जाएंगे। युवाओं से अनुरोध है कि अगले 25 वर्षों में देश को आगे ले जाने के बारे में सोचें। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव अपूर्व चंद्रा ने भी कार्यक्रम के उद्देश्यों की जानकारी दी।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र