मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने की राजनैतिक दलों के साथ बैठक


लखनऊः ( मानवी मीडिया) मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला द्वारा प्रदेश के मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के साथ बैठक निर्वाचन कार्यालय के सभागार में की गई। बैठक में मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा राजनैतिक दलों को जानकारी दी गई कि कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मतदेय स्थलों का सम्भाजन अधिकतम 1200 मतदाताओं के आधार पर कराने के निर्देश दिये गये हैं। राजनैतिक दलों से अनुरोध किया गया कि कृपया अपने दल के जनपद स्तरीय पदाधिकारियों को मतदेय स्थलों के सम्भाजन के सम्बन्ध में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्देशों एवं सम्भाजन के सम्बन्ध में मुख्य निर्वाचन अधिकारी, उत्तर प्रदेश द्वारा जारी की गई समय सारणी के सम्बन्ध में सूचित कर दें। राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से मतदेय स्थलों के सम्भाजन प्रक्रिया के दौरान सहयोग की अपेक्षा की गई।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा राजनैतिक दलों को यह भी अवगत कराया गया कि अर्हता दिनांक 01.01.2022 के आधार पर निर्वाचक नामावली के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के सम्बन्ध में भारत निर्वाचन आयोग द्वारा कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। आयोग द्वारा घोषित कार्यक्रम के अनुसार मतदाता सूची का आलेख्य प्रकाशन दिनांक 01.11.2021 को तथा अन्तिम प्रकाशन दिनांक 05.01.2022 को होना है।

बैठक में राजनैतिक दलों से दल के बूथ लेवल एजेण्टों की नियुक्ति का भी अनुरोध किया गया, ताकि वह बी0एल0ओ0 के साथ समन्वय स्थापित कर स्वच्छ मतदाता सूची बनाने में सहयोग प्रदान करें। मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा राजनैतिक दलों को यह भी जानकारी दी गई कि वर्तमान में  निर्वाचक नामावली के सतत पुनरीक्षण कार्यक्रम गतिमान है। उक्त कार्यक्रम के दौरान राजनैतिक दलों से सहयोग की अपेक्षा की गई, ताकि सभी अर्ह मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में सम्मिलित हो सकें।  रिट याचिका सं0-536 ऑफ 2011 एवं 784 ऑफ 2015 तथा रिट याचिका सं0-536 ऑफ 2011 के सम्बन्ध में दायर कन्टेम्प्ट पिटीशन (सी) नं0-2192 ऑफ 2018 में मा0 सर्वोच्च न्यायालय द्वारा पारित आदेशों एवं भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्देशों के क्रम में राजनैतिक दलों द्वारा की जाने वाली कार्यवाहियों के सम्बन्ध में अवगत कराया गया और उन्हें सभी प्रारूपों (ब्.1 से ब्.8) के सम्बन्ध में जानकारी दी गई।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा सर्विस मतदाताओं के पुनरीक्षण के सम्बन्ध में भी कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार सर्विस मतदाताओं हेतु भी आलेख्य प्रकाशन दिनांक 01.11.2021 एवं अन्तिम प्रकाशन दिनांक 05.01.2022 को होना है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा राजनैतिक दलों को यह भी जानकारी दी गई कि आगामी विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 के दृष्टिगत भारत निर्वाचन आयोग एवं इस कार्यालय द्वारा जारी नवीनतम निर्देश मुख्य निर्वाचन अधिकारी, उत्तर प्रदेश की वेबसाइट ceouttarpradesh.nic.in पर Forthcoming Legislative General Assembly Election-2022  शीर्षक के अन्तर्गत उपलब्ध है। राजनैतिक दलों से निर्वाचन सम्बन्धी समस्त गतिविधियों के दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल का भी ध्यान रखने का अनुरोध किया गया।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र