जम्मू-कश्मीर में अगले सालहो सकता हैं चुनाव, परिसीमन आयोग ने बढ़ाई विधानसभा की सात सीटें


श्रीनगर/नई दिल्ली (मानवी मीडिया) : जम्मू और कश्मीर में परिसीमन को लेकर तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। इसके लिए शुक्रवार को परिसीमन आयोग ने जम्मू का दौरा किया। इस दौरान चुनाव आयोग आयुक्त सुशील चंद्रा ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि राज्य में अगले साल तक चुनाव कराए जा सकेंगे। जम्मू-कश्मीर में पहली बार अनुसूचित जनजातियों के लिए भी सीटों को आरक्षित किया जाएगा। परिसीमन के बाद सात विधानसभा सीटें बढ़ जाएंगी। इसके बाद विधानसभा में 83 सीटों की जगह 90 सीटें हो जाएंगी। यह पूरी प्रक्रिया मार्च 2022 तक पूरी हो जाएगी। पीओके के हिस्से की 24 सीटें खाली रहेंगी। मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा

मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि 2011 की जनगणना के आधार पर परिसीमन होगा। इस परिसीमन का जो ड्राफ्ट बनेगा उसे जनता के बीच रखा जाएगा, फिर जनता के जो सुझाव आएंगे उसे शामिल कर फाइनल ड्राफ्ट सामने आएगा। परिसीमन 5 मार्च तक पूरा हो जाएगा।आपको बता दें कि परिसीमन आयोग अपनी चार दिवसीय जम्मू-कश्मीर यात्रा के दूसरे चरण में गुरुवार को यहां पहुंचा और उसने दर्जनों नेताओं एवं नागरिक समाज समूहों के साथ बातचीत की। इससे पहले जस्टिस (सेवानिवृत्त) रंजना प्रकाश देसाई के नेतृत्व में आयोग छह जुलाई को श्रीनगर पहुंचा था

Previous Post Next Post