अब CoWin पोर्टल पर ही पासपोर्ट से लिंक हो जाएगा टीकाकरण प्रमाणपत्र, जानिए कैसे?


नई दिल्ली (मानवी मीडिया) कोरोना पर नियंत्रण के लिए देशभर में तेजी से टीकाकरण जारी है। वैक्सीन लगने के साथ-साथ व्यक्तियों को डिजिटल सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जा रहा है। अब भारत सरकार CoWin पोर्टल के यूजर्स की विदेश या अन्य प्रदेशों में यात्रा करना सरल बनाने के लिए टीकाकरण प्रमाण पत्र को पासपोर्ट से जोड़ने में सक्षम बना रहा है। आरोग्य सेतु ऐप के ऑफिशियल हैंडल ने ट्वीट करते हुए बताया, अब आप अपने टीकाकरण प्रमाण पत्र में अपना पासपोर्ट नंबर अपडेट कर सकते हैं। 


Now you can update your Passport number in your vaccination certificate.
Login to https://t.co/S3pUooMbXX.
Select Raise a Issue
Select the passport option

Select the person from the drop down menu

Enter passport number
Submit

You will receive the new certificate in seconds. pic.twitter.com/Ed5xIbN834

अपने पासपोर्ट को टीकाकरण प्रमाण पत्र से लिंक करने के लिए CoWin के ऑफिशियल पोर्टल www.cowin.gov.in पर जाएं। वेबसाइट खुलने पर ‘Raise an issue’ विकल्प पर क्लिक करें। फिर ‘पासपोर्ट’ विकल्प पर क्लिक करें तथा ड्रॉप-डाउन मेनू से उस शख्स का चयन करें जिसका सर्टिफिकेट आप लिंक करना चाहते हैं। इस प्रक्रिया के पश्चात् अपको अपना पासपोर्ट नंबर दर्ज करना होगा तथा विवरण सबमिट करने होंगे। इसके अतिरिक्त अगर वैक्सीन सर्टिफिकेट तथा पासपोर्ट के बीच का विवरण मैच नहीं हो रहा

तो यूजर्स अपने विवरण को एडिट भी कर सकता है।

साथ ही नई विवरण एडिट करने के लिए सबसे पहले यूजर्स को एक बार फिर CoWin के ऑफिशियल पोर्टल www.cowin.gov.in पर जाना होगा। ‘Raise an issue’ ऑप्शन पर क्लिक करें। फिर ‘करेक्शन इन सर्टिफिकेट’ के ऑप्शन पर क्लिक करें तथा ड्रॉप-डाउन मेनू से उस व्यक्ति को चयनित करें जिसका विवरण आप बदलना चाहते हैं। इसके पश्चात् उन विकल्पों को सेलेक्ट करें जिन्हें आपको सुधार करने तथा विवरण एडिट करने की आवश्यकता है, फिर सबमिट कर दें।
 

 

 

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र