वायु सेना प्रमुख ने साइबर सुरक्षा को अभेद्य बनाने पर दिया जोर

नई दिल्ली (मानवी मीडिया) सैन्य क्षेत्र में उच्च प्रौद्योगिकी के बढ़ते इस्तेमाल के मद्देनजर वायु सेना प्रमुख ने शुक्रवार को कहा कि चाक चौबंद साइबर सुरक्षा समय की जरूरत है। वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया ने आज यहां संपन्न पश्चिम वायु कमान के दो दिन के सम्मेल को संबोधित करते हुए सेना को इस बारे में आगाह किया। 

कोरोना महामारी के चलते मिश्रित माध्यम से आयोजित सम्मेलन में उन्होने गहन विश्लेषण और संक्रियात्मक यानी संचालन तैयारियों को उन्नत बनाने के उपायों, रखरखाव के तरीकों में सुधार और अभेद्य साइबर सुरक्षा की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कमांडरों को सभी प्लेटफॉर्म्स, शस्त्र प्रणाली और परिसंपत्तियों की उच्च स्तर पर संक्रियात्मक तैयारियों को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

सम्मेलन में कुछ अधिकारियों ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए हिस्सा लिया। महामारी की चुनौतियों के बावजूद उत्तरी सीमा पर हाल ही में उभरे तनाव में त्वरित प्रतिक्रिया और उच्च समर्पण के प्रदर्शन के लिए वायु सेना अध्यक्ष ने पश्चिम वायु कमान के सभी वायु सेना प्रतिष्ठानों की प्रशंसा की। उन्होंने कोविड संबंधी कार्यों के लिए प्रत्येक स्टेशन के प्रयासों और किए गए कार्यों की सराहना की।

एयर चीफ मार्शल भदौरिया ने पश्चिम वायु कमान के उड़ान सुरक्षा रेकॉर्ड की भी प्रशंसा की और सभी कमांडरों से सुरक्षित संचालन माहौल वातावरण के लिए गंभीर प्रयास करते रहने का आग्रह किया। आत्मनिर्भरता और स्वदेशीकरण के बल पर उन्होने वौयसेना को बड़ी एयरोस्पेस शक्ति बनाने पर भी जोर दिया।

 


Previous Post Next Post