भारत ने 'अग्नि प्राइम' मिसाइल का किया सफल परीक्षण, 2000 KM तक साध सकती है सटीक निशाना

नई दिल्ली (मानवी मीडिया) भारत ने सोमवार को 10.55 बजे अत्याधुनिक साजो-सामान से सु‍सज्जित मिसाइल 'अग्नि प्राइम' का ओडिशा तट पर सफल परीक्षण किया। इस मिसाइल की क्षमता 1000 से 2000 किलोमीटर तक है। जानकारी के मुताबिक, अग्नि प्राइम मिसाइल अग्नि श्रेणी की मिसाइलों का उन्नत संस्करण है। इसकी मारक क्षमता 1000 से 2000 किलोमीटर के लगभग बताई जा रही है। परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम इस मिसाइल के बाद भारत की सामरिक क्षमता में काफी वृद्धि होगी।

प्राप्त जानकरी के अनुसार इस मिसाइल में अग्नि 4 और अग्नि 5 मिसाइल की खूबियों को शामिल किया गया था। डबल स्टेज अग्नि प्राइम को सड़क और लॉन्चर दोनों ही जगहों से फायर किया जा सकता है। अग्नि प्राइम मिसाइल को डीआरडीओ ने विकसित किया है। अग्नि प्राइम मिसाइल को 4000 किलोमीटर की रेंज वाली अग्नि-4 और 5000 किलोमीटर की अग्नि-5 मिसाइलों में इस्तेमाल होने वाली अत्याधुनिक तकनीकी को मिलाकर तैयार किया गया है। यह मिसाइल अत्याधुनिक साजो सामान से सुसज्जित है। 

भारत पिछले 3 दशकों के दौरान अग्नि रेंज की पांच मिसाइल विकसित कर चुका है। अग्नि प्राइम इसी अग्नि रेंज की नई और आधुनिक मिसाइल है। डीआरडीओ के अधिकारियों के मुताबिक पूर्वी तट पर पोजिशन्ड विभिन्न राडार और टेलिमेट्री स्टेशनों से मिसाइल को मॉनिटर किया गया। यह टेक्स्टबुक ट्रैजेक्टरी रही, जिसने मिशन के सभी उद्देश्यों को पूरा किया।भारत ने पहली बार साल 1989 में अग्नि का परीक्षण किया था। उस वक्त इस मिसाइल की मारक क्षमता 700 से 900 किलोमीटर थी। साल 2004 में इसे सेना में शामिल किया गया था।
 
 

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र