न पंखा, न लाइट, गरीब रात को उठेगा तो बच्चे ही पैदा करेगा: बदरुद्दीन अजमल


नई दिल्ली (मानवी मीडिया): देश में ऐसे कई मौके आए हैं जब कई दिग्गजों ने अपने-अपने स्तर पर कई अजीबोगरीब बयान दिए हैं। ऐसा ही एक विवादित बयान जनसंख्या विस्फोट को लेकर ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट यानी अखिल भारतीय संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा के अध्यक्ष बदरुद्दीन अजमल ने दिया है। अजमल ने एक समुदाय विशेष पर बात करते हुए कहा कि उनके पास एंटरटेनमेंट के लिए क्या आपने दिया? रहने के लिए तो घर नहीं है। हवा के लिए पंखा उनके पास नहीं है। करंट नहीं है, बिजली नहीं है। इंसान हैं वो भी। गरीब जब रात को उठेगा, मियां-बीवी हैं, दोनों जवान हैं। क्या करेंगे? बच्चे ही तो पैदा करेंगे और क्या करेंगे? 

उत्तर प्रदेश के देवबंद से पढ़ाई पूरी करने वाले अजमल ने साल 2005 में अपनी पार्टी बनाई थी। साल 2006 में हुए विधानसभा चुनाव में वे मैदान में उतरे।  तत्कालीन मुख्यमंत्री तरुण गोगोई ने सवाल किया था कि यह बदरुद्दीन अजमल कौन है? असम की राजनीति में अजमल की हैसियत को ध्यान में रखते हुए अब कोई भी यह सवाल करने का साहस नहीं कर सकता। पहली बार मैदान में उतरी अजमल की पार्टी ने साल 2006 में अल्पसंख्यकों के समर्थन से 10 सीटें जीतने के बाद साल 2011 में 18 सीटें जीती थी। अजमल ने कहा, पॉपुलेशन एक समस्या है। इससे कोई इनकार नहीं कर सकता है। सॉल्युशन यही है कि लोगों को तालीम दो, एजुकेट करो, पढ़ाओ। जब वो पढ़-लिख लेंगे तो अपने अच्छे-बुरे को खुद समझेंगे

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र