शहर के अन्त्येष्टि स्थलों का होगा सौंदर्यीकरण व विकास कार्य::आशुतोष टंडन

 शहर के अन्त्येष्टि स्थलों का होगा सौंदर्यीकरण व विकास कार्य                                            बैकुंठ धाम भैसाकुंड, बैकुंठ धाम वीआईपी रोड आलमबाग व नगर निगम गुलालाघाट के अन्त्येष्टि स्थलों पर करोड़ों की धनराशि से होगा विकास कार्य

-नगर विकास मंत्री, आशुतोष टंडन


लखनऊ:( मानवी मीडिया)नगर विकास मंत्री  आशुतोष टंडन ने कहा है कि राजधानी लखनऊ में अन्त्येष्टि स्थलों का नवीनीकरण व सौंदर्यीकरण कार्य किये जाएंगे। इसके लिए 830.72 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृत हुई जिससे ये कार्य किया जाएगा। इसमें बैकुंठ धाम (भैसाकुंड) , बैकुंठ धाम (वीआईपी रोड आलमबाग) व  नगर निगम गुलालाघाट के शवदाह गृह शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इन सभी अन्त्येष्टि स्थलों पर नागरिकों की सुविधा के लिए भी निर्माण कराया जाना है, इसके बजट की पहली किश्त स्वीकृत कर दी गई है। इन सभी अन्त्येष्टि स्थलों पर नागरिकों की सुविधा के लिए विकास व सौंदर्यीकरण के कार्य नगर विकास विभाग की ओर से करवाएं जाएंगे।

श्री टंडन ने बताया कि बैकुंठ धाम भैसाकुंड पर विद्युत शवदाह बनाया जायेगा, इसके अलावा एक और अतिरिक्त रोड पार्किंग स्थल का निर्माण कराया जाएगा। और अन्य जनसुविधा विकास कार्य भी कराये जाएंगे। इस निर्माण कार्य के लिए 445.81 लाख रुपये की स्वीकृति दी गई है, जिसकी प्रथम किश्त 222.905 लाख रूपये अवमुक्त की गई है। वीआईपी रोड आलमबाग स्थित बैकुंठ धाम में अन्त्येष्टि स्थल का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। इसके लिए 189.21 लाख रूपये की धनराशि स्वीकृत की गई है, जिसमें से 94.605 लाख रुपये अवमुक्त किए गए हैं। नगर निगम गुलालाघाट के शमशान घाट में भी विकास कार्य किया जाएगा। इसके लिए 195.70 लाख रुपये स्वीकृत किए गए हैं, जिससे अन्त्येष्टि स्थल में निर्माण व विकास कार्य किया जाएगा। इस कार्य के लिए पहली किस्त 97.85 लाख रुपये अवमुक्त किए जा चुके हैं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र