Posts

Showing posts from April, 2021

मुख्यमंत्री योगी ने अवध शिल्प ग्राम, में डी0आर0डी0ओ0 द्वारा स्थापित किए जा रहे अटल बिहारी वाजपेयी कोविड हॉस्पिटल का निरीक्षण किया

Image
500 बेड के इस अस्पताल में वेण्टीलेटर युक्त 150 आई0सी0यू0 बेड तथा शेष बेड ऑक्सीजन की सुविधा युक्त होंगे लखनऊ:( मानवी मीडिया )उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने आज यहां अवध शिल्प ग्राम में बनाए जा रहे अटल बिहारी वाजपेयी कोविड हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। यह चिकित्सालय डी0आर0डी0ओ0 द्वारा स्थापित किया जा रहा है।  निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने कोरोना मरीजों के उपचार के लिए अस्पताल में उपलब्ध करायी जाने वाली सुविधाओं की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि इस चिकित्सालय की स्थापना के सम्बन्ध में प्रदेश सरकार द्वारा हर सम्भव सहयोग प्रदान किया जा रहा है। इस अस्पताल में कोरोना मरीजों का उपचार प्रारम्भ हो जाने पर, कोविड-19 के विरुद्ध राज्य सरकार द्वारा किये जा रहे प्रयासों को और गति मिलेगी। ज्ञातव्य है कि डी0आर0डी0ओ0 द्वारा स्थापित किए जा रहे इस 500 बेड के कोविड चिकित्सालय में वेण्टीलेटर युक्त 150 आई0सी0यू0 बेड तथा शेष बेड ऑक्सीजन सुविधा से युक्त होंगे। अस्पताल का चिकित्सा स्टाफ भारतीय सेना का होगा।

बड़ी लापरवाही, डॉक्टरों ने जिसे मृत,घोषित किया, आधी रात को बेटी बोली- पापा हिल रहे हैं*

Image
लखनऊ ( मानवी मीडिया ) उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है. यहां डॉक्टरों ने एक जीवित इंसान को मृत घोषित कर दिया. इसके बाद परिवार में मातम पसर गया. परिजन रोते-बिलखते शव लेकर घर आए और उसे चिलर पर रख दिया. अचानक शव पर पड़ी चादर में हरकत हुई तो घर वाले हैरत में पड़ गए. उन्हें अपनी आंखों पर यकीन नहीं हो रहा था. तत्काल पड़ोस के डॉक्टर बुलाया गया. चेकअप हुआ तो पल्स और ऑक्सीजन लेवल दोनों ठीक थे. रोते परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई. तत्काल एंबुलेंस बुलाई गई और चिलर से उठाकर शख्‍स को इलाज के लिए लखनऊ ले जाया गया. हालांकि, करीब 7 घंटे बाद रोगी की मौत हो गई. कोतवाली नगर क्षेत्र में दरियापुर मोहल्ले के रहने वाले अब्दुल माबूद (50 साल) को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी. अब्दुल के भाई की पत्नी शाहेदा बानो बताती हैं कि जेठ को ऑक्सीजन की जरूरत थी. गुरुवार दोपहर करीब 2 बजे उन्हें सरकारी अस्पताल लेकर गए. बहुत कहने के बाद 3-4 इंजेक्शन लगाया गया. इसके बाद भी मरीज को उलझन थी. ऑक्सीजन की डिमांड की गई तो डाक्टर ने ऑक्सीजन सिलेंडर खाली नहीं होने की बात कहकर किनारा कर लि

मुख्यमंत्री योगी ने मई दिवस पर प्रदेश के कामगारों और श्रमिकों को हार्दिक बधाई दीं

Image
लखनऊ: ( मानवी मीडिया ) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मई दिवस पर प्रदेश के कामगारों और श्रमिकों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं।  आज यहां जारी एक संदेश में मुख्यमंत्री  ने कहा कि मई दिवस श्रमेव जयते का उद्घोष करता हुआ, विकास की प्रक्रिया में श्रम के महत्व को रेखांकित करता है। मई दिवस हमारे कामगारों एवं श्रमिक वर्ग की कड़ी मेहनत और उपलब्धियों के सम्मान का आयोजन है। मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र और प्रदेश सरकार श्रमिक हितों के लिए समर्पित भाव से कार्य करते हुए उनके श्रम को सम्मान देने के लिए कृतसंकल्पित हैं। इस अवसर पर हम सभी को प्रदेश को प्रगति की नई ऊँचाइयों की ओर ले जाने का संकल्प लेना चाहिए।

सरकार के तंत्र में जंग, मुख्यमंत्री कर रहे थोथी बयानबाजी-अजय कुमार लल्लू

Image
  सरकार संक्रमणकाल में भी हेडलाइन मैनेजमेंट में जुटी, टीम इलेवन के बाद अब टीम नाइन का छोड़ रही है शोशा -अजय कुमार लल्लू संकट के समय व्यवस्था के बजाय संवेदनहीनता की सीमाएं लांघ रही सरकार-अजय कुमार लल्लू लखनऊ ( मानवी मीडिया) उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भाजपा सरकार पर झूठ बोलने व जनता को धमकाने का आरोप लगाते हुए तीखा हमला करते हुए कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के भीषणतम संकटकाल में राज्य भाजपा की योगी आदित्यनाथ सरकार महामारी की विकरालता और जनमानस की समस्याओं को दरकिनार करते हुए सच का सामना करने के स्थान पर झूठ, भ्रम की राजनीति द्वारा संवेदनहीनता का परिचय दे रही है। एक वर्ष तक टीम इलेवन का ढिंढोरा पीटने वाली सरकार की मौजूदा समय मे टीम नाइन का एक नया शिगूफा छोड़ रही है। बेडो, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, आईसीयू, नेबूलाइजर, बायपिक मशीनों की व्यवस्था करने में पूरी तरह असमर्थ योगी सरकार इस संकटकाल मे सक्रिय भूमिका निभाने के बजाय आपदा के संकटकाल में आमजनमानस को धमकाने डराने का कार्य कर रही है,जिससे स्थितियां लगातार बिगड़ रही हैं। मुख्यमंत्री के जनपद गोरखपुर व प्रधानमंत्री के संस

दिल्ली पुलिस ने उत्तराखंड में पकड़ी नकली रेमडेसिविर बनाने वाली फैक्टरी, 25 हजार में बेचते थे इंजेक्शन- सरगना समेत 5 गिरफ्तार

Image
कोटद्वार ( मानवी मीडिया ) दिल्ली पुलिस ने उत्तराखंड के कोटद्वार में नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने की एक दवा कंपनी का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने सरगना समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि यह लोग एक इंजेक्शन को 25 हजार रुपये में बेचते थे। पुलिस ने आरोपियों के पास से रेमडेसिविर के 196 नकली इंजेक्शन बरामद किए हैं। साथ ही इंजेक्शन पैक करने के लिए काम आने वाले 3000 वायल्स भी पुलिस ने बरामद किए हैं।   आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वे अब तक कोरोना मरीजों को 2000 से ज्यादा रेमडेसिविर के नकली इंजेक्शन बेच चुके हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है और इनके अन्य साथियों के बारे में पता लगा रही है। बताते चलें कि देश के कई राज्यों में कोरोना की दूसरी लहर ने कहर मचाया हुआ है। कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन का इस्तेमाल किया जा रहा है। यही वजह है कि अधिकांश जगहों पर इंजेक्शन की भारी किल्लत देखने को मिल रही है और इसे ऊंचे दामों पर बेचा जा रहा है। कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते उत्तराखंड भी रेमडेसिविर की कमी से जूझ रहा है। उत्तराखंड को बीते

चारा घोटाला: हाईकोर्ट से जमानत मिलने के 12 दिन बाद जेल से बाहर निकले लालू प्रसाद यादव

Image
पटना   ( मानवी मीडिया ) चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव जेल से रिहा हो गए हैं। हाईकोर्ट से जमानत मिलने के 12 दिन बाद वह जेल से बाहर निकले हैं। वह झारखंड के दुमका कोषागार में अवैध निकासी से जुड़े मामले में 19 मार्च 2018 से सजा काट रहे थे। दुमका कोषागार से 3.13 करोड़ रुपए की अवैध निकासी के केस में लालू को हाईकोर्ट से यह राहत मिली थी। हाईकोर्ट ने आधी सजा पूरी करने के आधार पर लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले में सशर्त जमानत प्रदान की थी। बिना अनुमति के वे देश से बाहर नहीं जाएंगे। बता दें कि हाईकोर्ट ने बीते 17 अप्रैल को मामले में जमानत की सुविधा प्रदान की थी, लेकिन अधिवक्ताओं के कार्य नहीं किए जाने के कारण बेल बॉड नहीं भरा जा सका था। बार कौंसिल ऑफ इंडिया के आदेश के बाद गुरुवार को लालू प्रसाद के पैरवीकार अधिवक्ता ने दो निजी मुचलके दाखिल किए, जिसे कोर्ट ने सही पाकर बिरसा मुंडा केन्द्रीय कारा होटवार के जेल अधीक्षक को भेज दिया। साथ ही लालू प्रसाद को जेल से छोड़ने का आदेश जारी किया। चारा घोटाला से जुड़े अन्य मामलों जैसे चईबा

राज्यपाल ने मई दिवस पर बधाई दी

Image
लखनऊ: ( मानवी मीडिया ) उत्तर प्रदेश की राज्यपाल  आनंदीबेन पटेल ने मई दिवस के अवसर पर समस्त पत्रकार बन्धुओं एवं श्रमिक भाइयों को हार्दिक बधाई देते हुए सभी के मंगलमय एवं स्वस्थमय जीवन की कामना की है। राज्यपाल ने अपने बधाई सन्देश में कहा है कि राष्ट्र और समाज की प्रगति में श्रमिकों, कामगारों और मेहनतकशों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि मई दिवस हम सभी को श्रमिकों के हितों को संरक्षित रखने की प्रेरणा देता है। पटेल ने कहा कि सभी लोग वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण को देखते हुए बचाव के नियमों का कड़ाई से पालन करें और दूसरों को भी इसके लिये प्रेरित करें।

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से किया सवाल, कहा- वैक्सीन के लिए गरीब कहां से लाएंगे पैसे?

Image
नई दिल्ली ( मानवी मीडिया ) सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना वैक्सीन की कीमत को लेकर सरकार से कई सवाल किया हैं। कोर्ट ने पूछा कि गरीब लोग इसे खरीदने के लिए कहां से पैसे लाएंगे। कोर्ट ने यह भी सलाह दी है कि केंद्र सरकार एक राष्ट्रीय टीकाकरण मॉडल अपनाए और सभी नागरिकों को मुफ्त टीका देने पर विचार करे,  क्योंकि गरीब लोग कोरोना का टीका नहीं खरीद पाएंगे। देश में कोविड-19 की मौजूदा स्थिति से जुड़े केसों की सुनवाई करते हुए जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा, ''कीमत का मुद्दा बहुत गंभीर है।'' जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस एल नागेश्वर राव और जस्टिस रविंद्र भट ने टीकों की नई खरीद नीति पर सवाल उठाते हुए केंद्र सरकार से पूछा सभी वैक्सीन वह खुद क्यों नहीं खरीदती। कोर्ट ने यह भी कहा कि राज्यों को टीकों की खरीद अधिक कीमत पर करनी पड़ेगी। कोर्ट ने यह भी पूछा कि केंद्र और राज्य सरकारें उन लोगों का रजिस्ट्रेशन कैसे कराएंगी जो निरक्षर हैं या जिनके पास इंटरनेट की पहुंच नहीं है। जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने कहा, ''आज आप कहते हैं कि केंद्र को

16 घंटे तक पिता को जगाती रही 8 वर्षीय बच्ची, रिश्तेदार के वीडियो कॉल करने पर पता चली मौत की खबर

Image
नई दिल्ली ( मानवी मीडिया ): बिहार में एक दर्दनाक वाक्या सामने आया है जहां एक छोटी सी मासूम बच्ची ने अपने पिता को खो दिया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 8 वर्षीय मासूम बेटी हर दिन की तरह अपने पापा को जगा रही थी। कभी पेट पकड़कर भूख का बहना बनाती तो कभी कुछ और बात कहकर पापा को जगाने का प्रयास करती रही, लेकिन वह नहीं उठा। उसे नहीं पता था कि उसके पिता अब इस दुनिया में नहीं हैं।जानकारी के अनुसार, किसी रिश्‍तेदार ने जब वीडियो कॉल की तो तब जाकर बच्‍ची के पिता की मौत होने की सूचना मिली। 8 साल की मासूम ने गुरुवार को होटल पाटलिपुत्र अशोक में कोरोना की जांच कराने के दौरान रो-रोकर जब यह कहानी सुनाई तो डॉक्टरों की आंख भी नम हो गईं। मासूम 16 घंटे तक अपने पिता को किसी न किसी बहाने से जगाती रही, लेकिन पिता मौत की नींद सो चुके थे।  रिपोर्ट के मुताबिक, हिलसा के रहने वाले प्रभात कुमार (45 वर्ष) पटना के पूर्वी राम कृष्णा नगर के मधुबन कालोनी रोड नम्बर 5 के NTPC निवासी मनोहर कुमार के घर में किराए पर पांचवीं मंजिल पर कमरा लेकर रहते थे। प्रभात पटना के राजा मार्केट में गोस्वामी नाम के एक व्यक्ति के साथ हार्डवेयर की

बदइंतजामी के कारण देश की छवि हुई धूमिल: अखिलेश यादव

Image
लखनऊ ( मानवी मीडिया) : वैश्विक महामारी कोरोना को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर लगातार हमले कर रहे समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को कहा कि सरकार की बदइंतजामी के कारण दुनिया में भारत की छवि धूमिल हुयी है।यादव ने ट्वीट किया “ भाजपा सरकार की बदइंतज़ामी की वजह से कोरोना मौतों की ख़बरें दुनिया भर के प्रतिष्ठित अख़बारों-पत्रिकाओं में छपने से हमारे देश की वैश्विक छवि बहुत धूमिल हुई है।” उन्होंने तंज कसा कि झूठ बोलने वाली सरकार क्या अब उन प्रकाशनों की संपत्ति जब्त करने अथवा रासुका के तहत कार्रवाई करने की कार्रवाई करेगी।  पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा “सरेआम झूठ बोलने वाले लोग अब क्या उन प्रकाशनों की संपत्ति जब्त करेंगे या उन पर रासुका लगाएंगे।” गौरतलब है कि श्री यादव केन्द्र और उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकारों पर कोरोना संक्रमण के प्रसार का जिम्मेदार का आरोप लगाते हुये लगातार बयान दे रहे हैं। पिछले दिनो सूबे के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने उनको भड़काऊ बयानबाजी से बचने की सलाह दी थी।

विराज सागर दास पहुंचा रहे हैं एक कॉल पर कोविड मरीजों के घर निःशुल्क खाना

Image
  लखनऊ ( मानवी मीडिया) बीबीडी ग्रुप के विराज सागर दास पहुंचा रहे हैं एक कॉल पर कोविड मरीजों के घर निःशुल्क खाना राहुल यादव, लखनऊ: लखनऊ में कोरोना से संक्रमित लोगों को विराज सागर दास निशुल्क भोजन उपलब्ध करा रहे हैं. विराज सागर दास ऐसे कोविड संक्रमित लोगों को उनके घर पर सुबह-शाम दोनों वक्त का खाना उपलब्ध करा रहे हैं जिनका कोई नहीं है या जो किसी कारण से मजबूर हैं. विराज सागर दास ने लखनऊ में कोविड मरीजों के लिए दोनों वक्त का खाना उपलब्ध कराने की यह मुहिम शुरू कर रखी है. इसके लिए कोविड मरीज को दिये गये मोबाइल नंबर 7392975957 और 7392975958 पर अपनी जानकारी देनी होती है. इसमें कोविड मरीज को अपना नाम, फोन नंबर, पता और कोरोना की पॉजिटिव रिपोर्ट उपलब्ध करानी रहती है. इसके बाद उस कोविड पीड़ित जरूरतमंद को उसके घर पर खाना पहुंचाया जाता है. कोविड मरीज को इस बात का ध्यान रखना होगा कि दोपहर के खाने यानि लंच के लिए सुबह 10 बजे तक और रात के खाने के लिए शाम चार बजे तक सूचना दे देनी होती है. जिससे हर जरूरतमंद भर का खाना भी बन जाए और अतिरिक्त खाना बेकार भी न जाए. बस इस आसान प्रक्रिया के तहत विराज सागर दास

मुख्यमंत्री केजरीवाल बोले- हमें अभी तक टीके नहीं मिले हैं, कल टीकाकरण केंद्रों के बाहर कतार न लगाएं

Image
नई दिल्ली ( मानवी मीडिया ): मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 18 से 44 वर्ष की आयु वाले लोगों से एक मई से कोविड-19 टीकाकरण केंद्रों के बाहर कतार न लगाने की शुक्रवार को अपील करते हुए कहा कि दिल्ली को अभी टीके नहीं मिले हैं। उन्होंने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अगले एक-दो दिनों में करीब तीन लाख कोविशील्ड टीके मिलेंगे और 18 साल से अधिक आयु वाले लोगों के लिए टीकाकरण अभियान शुरू होगा। देशभर में 18 से 44 वर्ष की आयु वर्ग वाले लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान एक मई से शुरू होगा। हालांकि दिल्ली और कुछ अन्य राज्यों ने कहा है कि टीकों की कमी के कारण वे टीकाकरण अभियान शुरू नहीं कर पाएंगे। केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार ने तीन महीनों में कोविशील्ड और कोवैक्सीन में प्रत्येक की 67 लाख खुराकों का ऑर्डर दिया है।उन्होंने कहा, ‘‘हमारा उद्देश्य है कि अगर कंपनियां टीकों की पर्याप्त मात्रा में आपूर्ति कर दें तो अगले तीन महीनों में हर किसी को टीका लगा दिया जाए।’’ उन्होंने दिल्लीवासियों को आश्वस्त किया कि हर किसी को टीका लगाया जाएगा। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सरकार ने वैक्‍सीनेशन की पूरी तैयारी कर ली

सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर सुप्रीम कोर्टकी टिप्पणी, हमें लोगों की आवाज सुननी चाहिए- मदद मांगने वालों पर कार्रवाई की तो मानेंगे अवमानना

Image
नई दिल्ली ( मानवी मीडिया ): देश में कोविड-19 की स्थिति, ऑक्सीजन सप्लाई और दवाओं के मुद्दे पर स्वत: संज्ञान लेने के मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार पर सवालों की बौछार कर दी। सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि अगर कोई नागरिक सोशल मीडिया पर अपनी शिकायत दर्ज कराता है, तो इसे गलत जानकारी नहीं कहा जा सकता है। अगर कार्रवाई के लिए ऐसी शिकायतों पर विचार किया जाता है तो हम इसे अदालत की अवमानना मानेंगे। देश में ऑक्सीजन और दवाइयों की मारामारी है  सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि कोविड-19 पर सूचना के प्रसार पर कोई रोक नहीं होनी चाहिए। कोविड-19 संबंधी सूचना पर रोक अदालत की अवमानना मानी जाएगी, इस सबंध में पुलिस महानिदेशकों को निर्देश जारी किए जाएं। उच्चतम न्यायालय ने केंद्र से कहा कि सूचनाओं का मुक्त प्रवाह होना चाहिए, हमें नागरिकों की आवाज सुननी चाहिए।कोर्ट ने यह भी कहा कि इस बारे में कोई पूर्वाग्रह नहीं होना चाहिए कि नागरिकों द्वारा इंटरनेट पर की जा रही शिकायतें गलत हैं। उच्चतम न्यायालय ने पाया कि यहां तक कि डॉक्टरो

दिल्ली में लगाया जाए राष्ट्रपति शासन- आप विधायक की हाईकोर्ट से अपील

Image
नई दिल्ली ( मानवी मीडिया ): दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों और ध्वस्त होती स्वास्थ्य सेवाओं के बीच दिल्ली सरकार को उनके ही एक विधायक ने तगड़ा झटका दिया है। विधायक शोएब इकबाल ने बिगड़ती स्थिति को लेकर पार्टी पर सवाल खड़े कर दिए हैं। मटिया महल से विधायक का कहना है कि कोरोना से दिल्ली में स्थित बदतर हो गई है। उन्होंने हाईकोर्ट से अपील की है कि दिल्ली में अव्यवस्था फैल गई है और यहां राष्ट्रपति शासन लगाया जाए। पार्टी विधायक ने कहा कि दिल्ली में कोई काम नहीं हो रहा है। दिल्ली में कोई सुनने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में न बेड है, न ऑक्सीजन है और ना दवाइयां मिल रही है। यहां कोई काम नहीं हो रहा है। ऐसे में दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए।दिल्ली के मौजूदा हालात से आप विधायक खफा, हाई कोर्ट से की राष्ट्रपति शासन  लगाने की मांग | आप विधायक ने कहा कि दिल्ली में कागजों पर ही सरकार चल रही है। उन्होंने कहा कि मैं छह बार से विधायक हूं। मैं सबसे सीनियर विधायक हूं। कोई सुनने वाला नहीं है, कोई नोडल अधिकारी नहीं। उन्होंने कहा कि ऐसे में तुरंत प्रभाव से दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगाया

पटना और पूर्व चंपारण जिले के लोग तरकारी मार्ट से खरीदेंगे ऑनलाइन सब्जी

Image
पटना ( मानवी मीडिया ): बिहार की राजधनी पटना और पूर्वी चंपारण जिले के लोग अब ऑनलाइन सब्जी खरीद सकेंगे। तरकारी मार्ट के माध्यम से पटना एवं पूर्वी चंपारण जिले के लोगों को ऑनलाइन सब्जी क्रय करने की सुविधा मिलेगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सहकारिता विभाग की समीक्षा बैठक की। बैठक में सहकारिता विभाग की सचिव बंदना प्रेयसी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने पूर्व में निर्देश दिया था कि सहकारिता विभाग को-ऑपरेटिव सोसायटी के माध्यम से लोगों के लिये ऑनलाइन सब्जी क्रय की व्यवस्था करें।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार अब ई-कॉमर्स की शुरूआत की जा रही है। इसके तहत तरकारी मार्ट के माध्यम से पटना एवं पूर्वी चंपारण जिले के लोगों को ऑनलाइन सब्जी क्रय करने की सुविधा मिलेगी। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में सब्जी का अच्छा उत्पादन हो रहा है। यहां के किसान सब्जी को राज्य के बाहर भी भारी मात्रा में भेजते हैं। उन्होंने कहा कि को-ऑपरेटिव सोसायटी के माध्यम से ऑनलाइन सब्जी की उपलब्धता होने से अब लोगों को काफी सहूलियत होगी।कोरोना के इस प्रतिबंधित दौर में

रोहित सरदाना ,मौत से एक दिन पहले तक दूसरों की मदद के लिए सक्रिय थे , लगातार ट्वीट कर लोगों को कर रहे थे जागरूक

Image
नई दिल्ली ( मानवी मीडिया ): इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का लोकप्रिय चेहरा रहे रोहित सरदाना का आज सुबह अचानक निधन हो गया। कई वर्षों से टीवी मीडिया का जाना-पहचाना चेहरा रहे रोहित सरदाना की अचानक हुई मौत से हर कोई हैरान है। ट्विटर पर उनके हजारों प्रशंसक श्रद्धांजलि दे रहे हैं। भले ही कोरोना और दिल का दौरा पड़ने से वह दुनिया छोड़कर चले गए, लेकिन एक दिन पहले तक वह लोगों की मदद के लिए सक्रिय थे। कोरोना का शिकार हुए लोगों के इलाज के लिए वह रेमडेसिविर इंजेक्शन, ऑक्सीजन, बेड आदि तक की व्यवस्था के लिए वह लगातार सोशल मीडिया पर एक्टिव थे और लोगों से सहयोग की अपील कर रहे थे। यहां तक कि अपनी मौत से ठीक एक दिन पहले 29 अप्रैल को भी उन्होंने ट्वीट कर एक महिला के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शनों की व्यवस्था करने की अपील की थी। इससे पहले 28 अप्रैल को उन्होंने लोगों से प्लाज्मा डोनेट करने की भी अपील की थी। रोहित सरदाना ने एक ट्वीट करते हुए लिखा था कि जितनी तादाद में कोरोना से मरीज़ ठीक हो रहे हैं उसके एक चौथाई लोग भी अगर प्लाज़्मा डोनेट करने के लिए आगे आने लगें, तो बहुत से लोगों की जान बच सकती है। आप ठीक हो गए हैं, तो क

देश के पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का निधन, 91 वर्ष की उम्र में ली अंतिम सांस

Image
नई दिल्ली ( मानवी मीडिया ): देश के पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का निधन हो गया है। वह 91 साल के थे। कई दिनों से उनकी तबीयत खराब चल रही थी। सोराबजी को कोरोना संक्रमण था या नहीं, फिलहाल इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है। परिवार की तरफ से अभी तक इस बारे में कोई बयान नहीं जारी किया गया है। बता दें कि सोली सोराबजी का पूरा नाम सोली जहांगीर सोराबजी था।पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी जानकारी के अनुसार वरिष्ठ वकील, पूर्व अटॉर्नी जनरल और पद्म विभूषण सोली सोराबजी का निधन आज सुबह हुआ है। वह 1989 से 90 और फिर 1998 से 2004 तक देश के अटॉर्नी जनरल थे। सोली सोराबजी का जन्म 1930 में बॉम्बे में हुआ था। वह 1953 से बॉम्बे हाई कोर्ट में प्रैक्टिस कर रहे थे। 1971 में सोली सोराबजी सुप्रीम कोर्ट के सीनियर काउंसिल बन गए। वह दो बार भारत के अटॉर्नी जनरल रहे। पहली बार 1989 से 90 और दूसरी बार 1998 से 2004 तक वह अटॉर्नी जनरल रहे।सोली सोराबजी की पहचान देश के बड़े मानवाधिकार वकील में होती है। यूनाइटेड नेशन ने 1997 में उन्हें नाइजरिया में विशेष दूत बनाकर भेजा था, ताकि वहां के मानवाधिकार के हालत के बारे में पता चल सके। इस

उ0प्र0 के हालात भयावह, प्रदेश की हालत अंधेर नगरी चैपट राजा जैसी - अजय कुमार लल्लू

Image
मुख्यमंत्री को खुली चुनौती देता हूं, खुद अपना एक नम्बर और अधिकारियों का एक नम्बर टी.वी. और मीडिया में करें जारी, ट्विटर हैंडिल से करें सार्वजनिक - अजय कुमार लल्लू मुख्यमंत्री द्वारा बार-बार यह कहना कि आक्सीजन, बेड, वेंटीलेटर, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी नहीं है, पूरी तरह झूठ- अजय कुमार लल्लू आरटी-पीसीआर की टेस्टिंग क्यों घटाई गयी? कांटैक्ट टेªेसिंग न होने से महामारी तेजी के साथ गांवों की ओर फैल रही- अजय कुमार लल्लू कोविड से हो रही मौतों को छिपाने का प्रयास कर रही है योगी सरकार- अजय कुमार लल्लू मुख्यमंत्री ने सदन में यह दावा किया था कि हम डेढ़ लाख बेड बनाकर रखे हैं। कहां गये वह दावे?- अजय कुमार लल्लू सुप्रीमकेार्ट और हाईकोर्ट की तल्ख टिप्पणी के बाद भी योगी सरकार- मेरा कायदा, वरना कोई कायदा नहीं, पर अड़ी- अजय कुमार लल्लू गांव-गांव में सभी जनपदों में महामारी तेजी के साथ फैली, कहीं भी आरटी-पीसीआर जांच की कोई व्यवस्था नहीं - अजय कुमार लल्लू  एक-एक दिन की जांच की रिपोर्ट 5-5 और 6-6 दिन में आ रही है। गांव के लोग बड़ी संख्या में बेड, डाक्टर,  इलाज, आक्सीजन के अभाव में मर रहे हैं, पूरे प्रदेश के हर

अमेरिका ने अपने नागरिकों से की अपील, जल्द से जल्द छोड़ें भारत

Image
वाशिंगटन   ( मानवी मीडिया ) अमेरिका ने अपने नागरिकों को भारत की यात्रा न करने और जल्द से जल्द देश छोड़ने की सलाह दी है। उसने कहा कि ऐसा करना सुरक्षित है क्योंकि भारत में कोविड-19 के मामले बढ़ने के बीच सभी तरह की चिकित्सीय देखभाल के संसाधन सीमित हो गए हैं। अमेरिका ने भारत पर चौथे चरण का यात्रा परामर्श जारी किया है जो विदेश विभाग द्वारा जारी किए जाने वाला सबसे अधिक स्तर का परामर्श होता है। परामर्श में अमेरिकी नागरिकों से भारत की यात्रा न करने या जल्द से जल्द वहां से निकलने के लिए कहा गया है क्योंकि देश में मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के कारण ऐसा करना सुरक्षित है। विदेश विभाग ने ट्वीट किया, ‘भारत में कोविड-19 के मामलों के कारण चिकित्सीय देखभाल के संसाधन बेहद सीमित हैं। भारत छोड़ने की इच्छा रखने वाले अमेरिकी नागरिकों को अभी उपलब्ध वाणिज्यिक विकल्पों का इस्तेमाल करना चाहिए। अमेरिका के लिए रोज चलने वाली उड़ानें और पेरिस तथा फ्रैंकफर्ट से होकर आने वाली उड़ानें उपलब्ध हैं।‘ स्वास्थ्य अलर्ट जारी करते हुए नई दिल्ली में स्थित अमेरिकी दूतावास ने कहा कि भारत में कोविड-19 के मामले बढ़ने