हरियाणा में फैल रही दुर्लभ बीमारी, जान बचाने के लिए लगता है करोड़ों की कीमत वाला इंजेक्शन


अंबाला (मानवी मीडिया): कोरोना मरामारी के बीच हरियाणा में कैंसर से भी खतरनाक बीमारी एसएमए फैलने लगा है। एसएमए, यानी स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी, जेनेटिक बीमारी है। यह शरीर में एसएमएन-1 जीन की कमी से होता है। इससे छाती की मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं और सांस लेने में कठिनाई होती है। इस बीमारी का इलाज काफी महंगा है। इसके लिए जो इंजेक्शन कारगर है, उसकी एक डोज की कीमत ही 16 करोड़ है। 

 राज्य में अब तक  25 बच्चों और युवाओं में इस बीमारी की शिकायत मिली है। इस बीमारी का शिकार बना नारायणगढ़ के डहर निवासी राम कुमार का 19 वर्षीय बेटा दिपांशु सरकारी मदद के लिए शनिवार को अंबाला छावनी के लोक निर्माण विभाग रेस्ट हाउस में आयोजित प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज के दरबार में पहुंचा। यहां विज की अनुपस्थिति में समस्याएं सुन रहे पीए ने सरकार से मदद दिलाने का भरोसा जताया। हरियाणा में कैंसर से भी खतरनाक बीमारी पसार रही पैर, एक इंजेक्शन की कीमत 16 करोड़राम कुमार बताते हैं कि मेरा बेटा पढ़ाई के साथ साथ खेल कूद में बहुत अच्छा था। करीब चार साल पहले खेलते समय अचानक गिर गया। यह कई बार हुआ। फिर उसे खेल से भय हो गया और खेलने से दूर रहने लगा। इसके बाद जब उसका चार साल पहले पीजीआई में इलाज शुरू हुआ तो उसमें एसएमए की पुष्टि हुई। आपकी जानकारी के लिए बता दें, सरकार की मंजूरी के बिना कंपनी यह दवाई उपलब्ध नहीं करवाती।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र