गृहमंत्री अमित शाह का दावा, बंगाल और असम में भाजपा ही बनाएगी सरकार


नई दिल्ली  (मानवी मीडिया): भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज दावा किया कि पश्चिम बंगाल एवं असम के विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को हुए प्रथम चरण के मतदान में उनकी पार्टी को शुभ संकेत मिले हैं और भाजपा दोनों जगह सरकार बनाने जा रही है।शाह ने रविवार को अपने निवास पर संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पश्चिम बंगाल में 84 प्रतिशत एवं असम में 79 प्रतिशत से अधिक मतदान भाजपा के लिए शुभ संकेत है। पार्टी की चुनाव मशीनरी में लगे जिम्मेदार लोगों के आकलन के अनुसार पश्चिम बंगाल में इस चरण में 30 में से कम से कम 26 तथा असम में 47 में से कम से कम 37 सीटों पर भाजपा विजयी रहेगी। उन्होंने यह दावा भी किया कि पश्चिम बंगाल में आठों चरण के मतदान में भाजपा तृणमूल से काफी आगे रहेगी।

गृह मंत्री ने दोहराया कि भाजपा पश्चिम बंगाल में 200 से अधिक सीटें जीतेगी और नंदीग्राम में भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को 25 से 30 हजार वोटाें से शिकस्त देगी। उन्होंने कहा कि असम एवं पश्चिम बंगाल दोनों राज्य चुनावी हिंसा के लिए कुख्यात रहे हैं लेकिन असम में पिछले चुनावों से और पश्चिम बंगाल में इस बार से कोई हिंसा की सूचना नहीं है। किसी की भी जान नहीं गयी है। इसके लिए चुनाव आयोग बधाई का पात्र है। चुनाव में गड़बड़ी की तृणमूल कांग्रेस की ओर से भी कहीं कोई शिकायत नहीं आयी है।उन्होंने कहा कि दोनों राज्यों में सकारात्मक मतदान हुआ है। दोनों राज्य विकास एवं रोजगार के रास्ते पर चलने का मन बनाया है। असम को बाढ़ मुक्त बनाने के आश्वासन पर लोगों का विश्वास मिल रहा है। मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल और मंत्री हेमंत विश्व शर्मा की जोड़ी ने तस्वीर बदल दी है। ब्रह्मपुत्र पर छह पुल बनाये जा रहे हैं। 20 हजार किलोमीटर से अधिक लंबी सड़कें बनायी गयीं हैं। काजीरंगा की जमीन को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है। ऐसे ढेर सारे कामों से जनता की अपेक्षाएं आकांक्षाएं पूरी हुई हैं।उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल के अंदर जिस प्रकार से तुष्टीकरण का माहौल रहा है और बेरोकटोक घुसपैठ जारी रही। जिस प्रकार से पैसे का खेल होता रहा। औद्योगिक विकास की अनदेखी की गयी उससे राज्य की जनता को घोर निराशा है। वहां की जनता को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सोनार बांगला के नारे पर विश्वास हुआ है। राज्य को विकसित, शांतिपूर्ण एवं तुष्टीकरण से मुक्त बनाना है और धार्मिक स्वतंत्रता बहाल करनी है। राज्य की जनता ने इन मुद्दों को स्वीकार किया है।मतदान के बाद बोले अमित शाह- बंगाल में पहले चरण की 26 सीटों पर जीतेंगे -  उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में जनता ने परिवर्तन का मन बना लिया है। मां, माटी और मानुष के वादे खोखले साबित हुए हैं। ममता बनर्जी के पैरों के नीचे की जमीन खिसक चुकी है और जनता ने खिसकायी है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने स्वीकार किया कि नागरिकता संशोधन कानून असम एवं पश्चिम बंगाल दोनों राज्यों में एक बड़ा मुद्दा है। जनता में जागृति आयी है।प्रधानमंत्री मोदी के बंगलादेश के दौरे को लेकर बनर्जी के आरोपों के बारे में पूछे जाने पर शाह ने कहा कि चुनावी आचार संहिता भारत की सीमा में काम करती है। मोदी वहां भारत एवं बंगलादेश के संबंधों को मजबूत करने के लिए गये थे। उन्होंने वहां कोई चुनाव आदि की बात नहीं की है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि फोन टैपिंग की जिस बात को लेकर सनसनी फैलाने का प्रयास किया जा रहा है, वह कोई गोपनीय बात नहीं थी, चुनाव आयोग को वह लिखित में दिया गया है। पर प्रतिप्रश्न यह उठता है कि फोन टैप किसके आदेश पर कराये गये।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र