होली पर उ0प्र0को मुख्यमंत्री योगी ने दिया सात नई उड़ानो का तोहफा


 गोरखपुर (मानवी मीडिया): उत्तर प्रदेश के लोगों को होली के मौके पर सात नए रूट्स पर हवाई सेवा की सौगात मिली है। इनमें से पांच की शुरुआत रविवार को शुरू हो गयी जबकि दो रूट्स पर सोमवार को इंडिगो की उड़ाने शुरू होंगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी ने महायोगी गोरक्षनाथ हवाई अड्डा में एलाइंस एयर (एयर इंडिया) की गोरखपुर-लखनऊ पहली फ्लाइट को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर  योगी और श्री पुरी ने सिविल एयरपोर्ट टर्मिनल भवन के विस्तार का शिलान्यास भी किया।आज ही प्रयागराज-भोपाल (इंडिगो), प्रयागराज-भुवनेश्वर (इंडिगो), आगरा-भोपाल (इंडिगो) और आगरा-बेंगलुरु (इंडिगो) की फ्लाइट शुरू हुई है जबकि कल से आगरा-मुंबई (इंडिगो) और आगरा-अहमदाबाद (इंडिगो) की उड़ानें भी शुरू हो जाएंगीं

योगी ने कहा कि पिछले चार सालों में प्रदेश में हवाई सेवा का तेजी से विस्तार हुआ है। उत्तर प्रदेश पांच हवाई अड्डों से अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवा देने वाला देश में पहला प्रदेश बन रहा है। दो क्रियाशील हैं और तीन क्रियाशील होने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जहां भी यात्री मिलेंगे, वहां से उड़ान की सुविधा दी जाएगी। इसी कड़ी में ललितपुर, झांसी, सोनभद्र, श्रावस्ती, अलीगढ़ और मुरादाबाद में हवाई सेवा शुरू करने का कार्य चल रहा है।उन्होंने कहा कि मेरठ से दिल्ली रैपिड रेल का काम तेजी से जारी है। गोरखपुर में मेट्रो ट्रेन की कार्य योजना पर काम चल रहा है। वाराणसी और प्रयागराज को लाइट मेट्रो रेल की सौगात मिलने जा रही है। हवाई सेवा से क्षेत्र का तेजी से विकास होता है। मुख्यमंत्री ने बताया कि यहां अप्रेन के विस्तारीकरण की भी स्वीकृति मिल गई है। उन्होंने गोरखपुर एयरपोर्ट के विस्तार में केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और वायुसेना के योगदान, सहयोग की प्रशंसा की।मुख्यमंत्री ने कहा कि आज गोरखपुर के साथ प्रदेश के पांच हवाई अड्डों से देश के प्रमुख शहरों के लिए हवाई सेवा शुरू हो रही है। दो नई उड़ान की शुरूआत 29 मार्च से हो जाएगी। अब चप्पल पहनने वाले भी हवाई जहाज से यात्रा कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि लखनऊ हवाई जहाज से जाने में महज 1470 रुपए लगेंगे और सफर का समय मात्र एक घण्टा होगा। इससे अधिक खर्च और समय निजी वाहन से जाने में लग जाता है। अब तो गोरखपुर से सात प्रमुख शहरों के लिए फ्लाइट उपलब्ध है और इसका आगे भी विस्तार होता रहेगा। पुरी ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रयास से गोरखपुर समेत पूरे उत्तर प्रदेश में तेजी से हवाई सेवा का विस्तार हुआ है। गोरखपुर में जल्द ही विमानों की नाईट लैंडिंग सुविधा भी उपलब्ध होगी।


साथ ही अप्रन के विस्‍तारीकरण का कार्य भारतीय वायुसेना के माध्‍यम से किया जाने वाला है। आने वाले समय में गोरखपुर से 13 नहीं, 30 फ्लाइट की सुविधा होगी। कोविड संक्रमण काल में भी उड़ान के मामले में यहां का ग्रोथ रेट 98 फीसद रहा है। उन्होंने इस बात के लिए भी मुख्यमंत्री की तारीफ की कि उत्तर प्रदेश पहला राज्य है जिसकी अपनी सिविल एविएशन पॉलिसी है। उन्होंने प्रदेश सरकार की ओडीओपी योजना की सराहना करते हुए कहा कि योगी जी ने इसे आत्मनिर्भरता और रोजगार का सफल मॉडल बनाया है।नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने कहा कि चार साल पहले यूपी से 28 शहरों के लिए ही हवाई सेवा थी और अब यहां से 88 शहरों के लिए एयर कनेक्टिविटी है। इसका श्रेय उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को दिया

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र