Posts

Showing posts from March, 2020

कैदी का सनसनीखेज खुलासाः कैदियों के शव की खाद बनाकर की जाती है सेना के जवानों के लिए खेती

Image
अजब गज़ब  मंगलवार 31मार्च 2020 | नई दिल्ली उत्तरी  कोरिया से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। इस खबर को पढ़कर आप भी चौंक जाएंगे कि ऐसा कैसे हो सकता है। दरअसल एक पूर्व कैदी ने ये दावा किया है कि उत्तरी कोरिया में राजनीतिक कैदियों के शवों से खाद बनाकर उनसे सेना के जवानों के लिए फसलें उगाई जा रही हैं। मिली जानकारी के मुताबिक उत्तरी कोरिया के केचियॉन कैंप में बंद एक पूर्व महिला कैदी किम इल सून ने बताया कि केचियॉन कैंप एक कंसेंट्रेशन कैंप है। ये कैंप यहाँ की राजधानी प्योंगयांग में स्थित है। यहां कैदियों को जो यातनाएं दी जाती हैं, वैसी कहीं नहीं दी जाती होंगी। किम इल सून ने बताया कि पहाड़ी इलाकों में फसले उग नहीं रही थी, तब किसी ने यह सलाह दी कि मारे गए कैदियों के शवों से खाद बनाकर जमीन में डाली जाए, तो फसलें अच्छी होंगी। इसके बाद से यह परंपरा चालू हो गई। फसलें अच्छी होने लगी तो कैदियों को मारकर उनके शवों के खाद बनाए जाने लगे। ये शव प्राकृतिक खाद का काम कर रहे हैं। हालांकि इस बात का खुलासा उस समय हुआ है जब पूरी दुनिया उत्तरी कोरिया के मिसाइल परीक्षणों से नाराज है। क्योंकि उत्तरी क

जनता को राहतः एक्सपायर हो चुके ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी भी 30 जून तक वैध रहेंगे

Image
बिज़नेस  मंगलवार 31 मार्च 2020 | नई दिल्ली केंद्रीय भूतल परिवहन परिवहन मंत्रालय ने ड्राइविंग लाइसेंस और वाहनों के परमिट और रजिस्ट्रेशन की वैधता अवधि 30 जून तक बढ़ा दी है। मंत्रालय ने उन वाहनों के निबंधन की वैधता बढ़ाई है, जिसकी अवधि 1 फरवरी, 2020 के बाद खत्म हो गई थी। इस संदर्भ में मंत्रालय की ओर से सभी राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को परामर्श (एडवाइजरी) जारी किया जा चुका है।मंत्रालय ने यह फैसला देशभर में उपभोक्ताओं को हो रही परेशानियों के मद्देनजर लिया है। मंत्रालय ने कहा है, चूंकि पूरे देश में लॉकडाउन लागू है, इसलिए उपभोक्ता अपने-अपने वाहनों के लाइसेंस का नवीनीकरण नहीं करा पा रहे हैं। लिहाजा, मंत्रालय ने वैधता अवधि बढ़ाने का फैसला किया। जिन मामलों में ये रियायत दी है, उनमें वाहनों के फिटनेस, ड्राइविंग लाइसेंस परमिट, रजिस्ट्रेशन और मोटर व्हिकल एक्ट के अंतर्गत आने वाले अन्य दस्तावेज शामिल हैं।मंत्रालय ने इस संदर्भ में सभी राज्य सरकारों से कहा है कि इसका कड़ाई से पालन होना चाहिए। इसके लिए राज्य और केंद्र सरकार सभी संबंधित विभागों को निर्देश दे, ताकि आवश्यक समानों की आ

कोरोना से जंग में देश को झटका दे गया निजामुद्दीन मरकज, 19 राज्यों के डेढ़ हजार से अधिक लोग थे समारोह में

Image
मुख्य समाचार राष्ट्रीय मंगलवार 31 मार्च, 2020 | नई दिल्ली निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात में आए लोगों में से 441 व्यक्तियों में कोरोना वायरस के लक्षण के पाए गए हैं। कोरोना वायरस के लक्षण वाले इन सभी व्यक्तियों को अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। लॉकडाउन के बावजूद यहां बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। दिल्ली सरकार का दावा है कि यहां से 15 सौ से अधिक अधिक लोगों को निकाला गया है। इनमें से 24 लोग कोरोना वायरस के टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मौलाना साद और अन्य तबलीगी जमात के अन्य लोगों पर सरकारी निर्देशों के उल्लंघन के लिए महामारी रोग अधिनियम 1897 के अलावा सेक्शन आईपीसी की धारा 269, 270, 271 और 120-बी के तहत केस दर्ज किया है।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, निजामुद्दीन मरकज से कुल 1548 लोगों को निकाला गया है। इनमें से 441 व्यक्तियों में कोरोना वायरस के लक्षण मिले हैं। वहीं मरकज के 24 व्यक्तियों का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है। मुख्यमंत्री ने कहा, कोरोना वायरस के लक्षण वाले सभी 441 व्यक्तियों को अस्पताल में भर्ती कराया जा चुका है जह

पुलिस आयुक्त सुजीत पाण्डेय के निर्देशों का पालन डीसीपी नॉर्थ सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी सेवा भाव

Image
लखनऊ मगलवार 31मार्च  2020                        पुलिस आयुक्त श्री सुजीत पाण्डेय के निर्देशों का पालन करते हुए डीसीपी नॉर्थ श्री सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी व एडीसीपी श्री राजेश कुमार श्रीवास्तव के निर्देशन में नॉर्थ जोन की पुलिस एक सेवाधारी के रूप में नजर आ रही है मानों लखनऊ पुलिस के प्रत्येक सदस्यों ने सेवा व्रत ले रखा हो, जिसके परिणामस्वरूप उत्तरी जोन में लॉक डाउन को सफल बनाने व शांति व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस और जनता के बीच मजबूत सामञ्जस्य देखने को मिल रहा है जिससे लॉक डाउन पूर्णतया सफल हो रहा है।       नॉर्थ जोन के समस्त एसीपी व प्रभारी निरीक्षकों ने जहाँ एक तरफ सख्ती के साथ लॉक डाउन का अनुपालन कराते हुए जोन में शांति व्यवस्था स्थापित की; वहीं दूसरी तरफ लखनऊ की संस्कृति-सभ्यता व तहज़ीब की अवधारणा को जीवंत रखते हुए जगह जगह घूम कर गरीब और असहाय लोगों को  भोजन राशन प्रदान किया व साथ ही साथ पुलिस की मदद से स्वयं सेवी संस्थाओं ने भूखों-प्यासों और गरीब मजदूरों व दूर दराज से आकर फंसे हुए लोगों को भोजन पानी कराकर शेल्टर होम भी भिजवाया।     सड़कों पर आज पिछले दिनों की अपेक्षा एकदम सन्नाटा देखने

मुख्यमंत्री पीड़ित सहायता कोष में अधिक से अधिक लोग दान करें

लखनऊ: मंगलवार 31 मार्च, 2020 अपर मुख्य सचिव, गृह एवं सूचना  अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिल्ली की घटना को गम्भीरता से लेते हुये कहा है कि लाॅकडाउन को शत-प्रतिशत सख्ती से लागू करें। लाॅक डाउन को लेकर और सख्ती बढ़ायी जाये। पैदल यात्रा करने वालों को राउण्ड अप करके जिले के शेल्टर हाउस में भेजकर निर्धारित प्राविधानों का अनुपालन करते हुये उनकी स्क्रीनिंग करायी जाये। तब्लीगी जमात से वापस आने वाले लोगों को ट्रैक कर जांच करायी जाये, यदि रिपोर्ट पाॅजिटिव आती है, तो उन्हें क्वारेन्टाईन करायें। यह भी सुनिश्चित किया जाये कि बिना सूचना दिये कहीं भी, किसी रूप में लोग इकट्ठा निवास न करें। उन्होनंे कहा कि जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक इस कार्य के लिये प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करें।  श्री अवस्थी आज लोक भवन स्थित मीडिया सेन्टर में मीडिया प्रतिनिधियों को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी द्वारा ****मुख्यमंत्रीपीड़ित सहायता कोष का खाता सेन्ट्रल बैंक आॅफ इण्डिया, कैण्ट रोड लखनऊ, खाता संख्या-1378820696, आईएफएससी कोड-सीबीआईएन0281571 तथा ब्रान्च को

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने करोना वायरस जुड़े ; संगठन के कार्यों की सराहना

लखनऊः मंगलवार 31 मार्च, 2020 प्रदेश के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने  करोना से ग्रस्त लोगों की चिकित्सा ,व परीक्षण के क्षेत्र में लगे सभी चिकित्सको व पैरामेडिकल स्टाफ की सराहना की  है। उन्होंने  करोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु समाज में जागरूकता पैदा करने वाले तथा गरीबों मजदूरों व  श्रमिकों की मदद करने वाले सभी संगठनों की भी सराहना की है और विश्वास व्यक्त किया है  कि सब लोगो द्वारा मिलकर देश व प्रदेश में लाक डाउन के बारे में जन जागरूकता पैदा करने से इस संकट से उबरने मे राहत मिलेगी । प्रदेश में कोई भूखा न रहे ,इस संकल्प को दोहराते हुए नवरात्रि के पुनीत अवसर पर सभी लोगों से अपील की है कि वह अपने आसपास रहने वाले गरीबों, व रोज कमाने खाने वाले लोगों की भरपूर मदद करें। उन्होंने कहा कि सरकार हर संभव उपाय कर रही है कि देश व प्रदेश में बीमारी को फैलने से रोका जाए। संकट के इस दौर में लाक डाउन के चलते गरीबों के सामने जो संकट आया है उनकी  सरकार पूरी तरह मदद कर रही है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा के अनुरूप प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में इस बात के पुख्ता प

सभी जनपदों में आवश्यक वस्तुओं की रेटलिस्ट जारी कड़ाई से अनुपालन- मुख्यमंत्री योगी

Image
लखनऊ: मंगलवार 31 मार्च, 2020   उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि कोरोना वायरस कोविड-19 पर नियंत्रण के लिए लाॅकडाउन व्यवस्था को शतप्रतिशत सफल बनाना होगा। इसके दृष्टिगत लाॅकडाउन व्यवस्था को और प्रभावी बनाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं। पुलिस पेट्रोलिंग बढ़ायी जाए।      मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर कोरोना वायरस कोविड-19 पर नियंत्रण हेतु लागू लाॅकडाउन व्यवस्था की समीक्षा हेतु आहूत बैठक में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्हांेने कहा कि विगत तीन दिनों में अन्य राज्यों से आए लोगों को उनके गांवों में भेजने से पहले जनपद स्तर पर शेल्टर होम्स स्थापित कर क्वारेन्टाइन मंे रखा जाए। आवश्यकतानुसार विद्यालयों, सामुदायिक केन्द्रों आदि को शेल्टर होम्स में परिवर्तित कर लिया जाए। शेल्टर होम्स में सोशल डिस्टैंसिंग का पूरा ध्यान रखा जाए। शेल्टर होम्स में भोजन, पेयजल, दवा आदि की पूरी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। शेल्टर होम्स में स्वास्थ्य विभाग की टीम लगायी जाए तथा यहां रखे गए लोगों की नियमित थर्मल स्कैनिंग की जाए।      मुख्यमंत्री जी ने कहा कि सभी जनपदों में मुख्य चिकित्

228  फ्लोर मिल/आटा चक्की , 50 तेल मिलें तथा मास्क बनाने वाली 33 यूनिटें सेनिटाईजर बनाने वाली 59 इकाइयांे में प्रोडेक्शन चालू -डा0 नवनीत सहगल

लखनऊः मंगलवार31 मार्च, 2020       उत्तर प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग के प्रमुख सचिव डा0 नवनीत सहगल ने बताया कि श्रमिकों के वेतन आदि भुगतान के संबंध में अद्यतन प्रदेश के प्रमुख 67 जनपदों की 15505 औद्योगिक इकाइयों से सम्पर्क किया गया, जिनमें से करीब 13034 इकाइयों द्वारा श्रमिकों को वेतन भुगतान किया जा चुका है। शेष 2471 इकाइयों द्वारा अवगत कराया गया कि शीघ्र ही कर्मियों के वेतन भुगतान कर दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि कि शासनादेश के अनुसार सभी जनपदों में एमएसएमई विभाग द्वारा कार्मिकों/श्रमिकों के वेतन भुगतान हेतु पास जारी करते हुए भुगतान की कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है। प्रमुख सचिव ने बताया कि प्रदेश में स्थापित 228  फ्लोर मिल/आटा चक्की क्रियाशील हो चुकी हैं। 28 मिलें गेहॅं के अभाव में पूरी क्षमता से कार्य नहीं कर पा रही है, इस संबंध में खाद्य आयुक्त को आवश्यक कार्यवाही हेतु अवगत करा दिया गया है। इसके साथ ही बंद इकाइयों को जल्द से जल्द चालू कराने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 50 तेल मिल इकाइयों का संचालन हो चुका है। कुछ मिल कच्चा माल आदि के का

लखनऊ में दत्तोपंत ठेंगड़ी अंत्योदय आईसोलेशन सेंटर’ शुरू

Image
लखनऊ मंगलवार 31 मार्च2020             देश में कोरोना महामारी के मद्देनजर किए गए लॉकडॉउन के बाद जन सामान्य को विभिन्न प्रकार की चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। विशेषकर चिकित्सा, आवास, भोजन की कठिनाई गरीब, बेसहारा, मजदूर वर्ग और झुग्गी बस्तियों में रहने वाले परिवारों के लिए उत्पन्न हो गई है। देश के विभिन्न हिस्सों से इस वर्ग की समस्याओं के समाधान में विद्या भारती ने अपने स्तर से ऐसे लोगों की सेवा और उनकी देखभाल के लिए भारत सरकार, राज्य सरकार, लखनऊ जिला प्रशासन को सहयोग के लिए सहमति दी है।  विद्या भारती (विश्व के सबसे बड़ा शैक्षिक संगठन) ने इस दिशा में पहल करते हुए लखनऊ स्थित निराला नगर में एक सेंटर की स्थापना भी की है। ‘ दत्तोपंत ठेंगड़ी अंत्योदय आईसोलेशन सेंटर ’   में लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नरेन्द्र अग्रवाल की अनुमति मिलने के बाद कोरोना संदिग्ध रोगियों के लिए प्राथमिक स्तर पर 15 बेड का प्राथमिक चिकित्सा केंद्र बनाया गया है। विद्या भारती के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री यतीन्द्र शर्मा जी के मुताबिक 10 बेड आईसोलेशन वार्ड के तौर पर माधव सभागार में लगाए गए हैं और 5 बेड विशेष आई

राज्यपाल की अध्यक्षता में उत्तर प्रदेश रेडक्रास सोसायटी की बैठक

Image
लखनऊ: मंगलवार 31 मार्च, 2020 उत्तर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल की अध्यक्षता में आज यहां राजभवन में कोरोना पीड़ितों व लाॅकडाउन प्रभावितों के संबंध में इंडियन रेडक्रास सोसायटी, उत्तर प्रदेश स्टेट शाखा की बैठक हुई। इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि संस्था को अपने वालंटियर की संख्या को ओर बढ़ाना चाहिए, जिससे लोगों की मदद करने में आसानी हो सके। उन्होंने कहा कि रेडक्रास सोसायटी के पदेन अध्यक्ष जिलाधिकारियों को चाहिए कि संस्थाओं को अधिक से अधिक उपयोग में लायें और उनके सदस्यों के ड्यूटी पास भी जारी करें, जिससे सामग्री वितरण में कोई कठिनाई न हो। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश रेडक्रास सोसायटी के महासचिव डा0 श्याम स्वरूप, उपाध्यक्ष डा0 हिमा बिन्दु नायक सहित अन्य प्रतिनिधि भी उपस्थित थे। इससे पहले उत्तर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने आज यहां राजभवन में मराठी समाज उत्तर प्रदेश एवं इण्डियन बुलियन ज्वैलर्स संस्था की ओर से 500 पैकेट जरूरतमंद परिवारों के लिए राहत सामग्री ( प्रति पैकेट में सामग्री 5 किग्रा आटा, 5 किग्रो चावल, 2 किग्रा चीनी, 2 किग्रा दाल, 1 किग्रा नमक, 250 ग्राम चाय पत्ती

कोरोना फैलाने की सबसे बड़ी वजह बन सकते हैं तब्लीगी जमात के प्रचारक, 10 लाख प्रचारकों ने किए

Image
मुख्य समाचार राष्ट्रीय मंगलवार 31 मार्च, 2020 | नई दिल्ली/इस्लामाबाद  इस्लामिक प्रचारक तब्लीगी जमात के सदस्यों को कई एशियाई देशों में कोरोनावायरस महामारी प्रतिबंध के बीच बड़ी धार्मिक सभाओं में हिस्सा लेकर प्रचार करते पाया गया है, जहां सैकड़ों लोग संक्रमित हुए हैं। इस समुदाय की यह लापरवाही कई देशों के लोगों पर भारी पड़ती दिख रही है।हर साल फरवरी और मार्च में दुनिया भर के दस लाख से अधिक इस्लामिक उपदेशक दक्षिण एशियाई और दक्षिण पूर्व एशियाई देशों में इस्लामिक प्रचार-प्रसार से संबंधित कार्यक्रमों के लिए आते हैं। चीन के हुबेई प्रांत के वुहान शहर से दिसंबर में नोवेल कोरोनावायरस की शुरुआत होने के बाद इसके संक्रमण को रोकने के लिए कई देशों ने यात्रा प्रतिबंध लगाए। हालांकि इस्लामाबाद के सूत्रों ने कहा कि तब्लीगी जमात अपने पूर्व नियोजित समारोहों के साथ आगे बढ़ा। पाकिस्तानी मीडिया ने सोमवार को बताया कि हैदराबाद व सिंध में जमात के सदस्यों के बीच वायरस संबंधी सामुदायिक प्रसार के 36 मामलों का पता चला। कोरोनावायरस से हुई कम से कम दो मौतों को सीधे तौर पर जमात की रायविंड में हुई सभा से जोडक़र देखा गया

जिंदगी की तलाश में ब्लड कैंसर पीड़ित बच्ची 110 किलोमीटर पैदल चली

Image
राष्ट्रीय मंगलवार 31 मार्च, 2020 | रांची एक तरफ कातिल कोरोनावायरस ने पूरी दुनिया में कोहराम मचा रखा है, तो दूसरी तरफ गंभीर बीमारी से जूझ रहे मरीजों को भी काफी तकलीफें झेलनी पड़ रही है। ऐसा ही दर्दनाक मामला उस समय सामने आया, जब बिहार के भागलपुर से पैदल चल कर झारखंड के देवघर में पुलिस थाने पहुंची एक महिला और उसकी आठ साल की बेटी।दरअलस 8 साल की बच्ची सरस ब्लड कैंसर से पीड़ित है। जमशेदपुर की रहने वाली इस बच्ची को उसकी मां ब्लड कैंसर के इलाज के सिलसिले में भागलपुर लेकर आई थी, लेकिन अचानक हुए लॉकडाउन के ऐलान ने इनके लिए वापसी के सारे दरवाजे बंद कर दिए, ऐसे में अनजान शहर में अपनी बच्ची को लेकर महिला भागलपुर में तैनात बिहार सरकार के उन तमाम मुलाजीमो से मदद की गुहार लगाती रही, लेकिन नतीजा सिफर ही रहा। लिहाजा और कोई रास्ता नजर आता न देख, इस महिला ने पैदल ही अपनी बीमार बच्ची के साथ सफर शुरू कर दिया और चार दिनों बाद एक सौ दस किलोमीटर चलकर झारखंड के देवघर पहुंची। देवघर के थाने में इस मां-बेटी ने अपना दुखड़ा सुनाया। इस बात की जानकारी जैसी ही स्थानीय प्रशासन को लगी,प्रशासन ने इसकी सुध ली और

दिल्ली के मामले की जांच हो, लोगआकर अपना टेस्ट करवाएं- मौलाना खालिद रशीद

Image
लखनऊ , मंगलवार 31 मार्च 2020, ऐशबाग ईदगाह के इमाम मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने कहा कि तबलीगी जमात एक धार्मिक संगठन है जो दुनिया भर में फैला हुआ है। ये संस्था एक रिलीजियस संस्था है जो लोगों को रोज, हज, नमाज जकात के बारे में बताती है इसका मकसद ये है कि एक इंसान का दूसरे इंसान से क्या व्यव्हार होना चाहिए। उस पर ये लोग काम करते हैं और प्यार का पैगाम दुनिया भर में पहुंचाने की कोशिश करते हैं। उसी के चलते ये हमारे मुल्क में तशरीफ लाते हैं और मरकज निजामुद्दीन में रहते हैं। वहां पर जो हुआ है ये बहुत ही ज्यादा अफसोस नाक है इसकी जांच होनी चाहिए और उसके मुताबिक ही जिम्मेदारियां तय होनी चाहिए। मेरी तमाम लोगों से गुजारिश है जो कि मरकज में शामिल हुए हैं कि वह मुल्क के जिस भी हिस्से में गए हो वहां के स्थानीय प्रशासन को अपनी जानकारी दें। अपना टेस्ट कराएं जिससे कि प्रशासन उनकी भी जांच करके इलाज कर सकें उनकी जान की हिफाजत को यकीनी बना सके और आप के जरिए से किसी दूसरे को यह बीमारी ना लगे यह आपका मजहबी दायित्व है। मजहब इस्लाम में इंसान की जान को बहुत ज्यादा अहमियत दी गई है। दिल्ली निजामुद्दीन का मामला..

EMI की किस्त को लेकर ग्राहकों में कन्फ्यूजन बरकरार, राहत पर अभी भी खामोश हैं बैंक

Image
मुख्य समाचार बिज़नेस मंगलवार 31 मार्च 2020 | नई दिल्ली रिजर्व बैंक ने भले ही लोन लेने वाले ग्राहकों को यह राहत दे दी हो कि वे चाहें तो अगले तीन महीने तक अपने लोन की किस्त न चुकाएं। लेकिन किसी भी बैंक ने अभी तक ग्राहकों को इस संबंध में कोई भी जानकारी नहीं दी है। ज्यादातर ग्राहकों को तो बैंक की ओर से EMI कटने से पहले रिमाइंड कराने वाले मैसेज भी आ चुके हैं। अब EMI को लेकर ग्राहकों में कन्फ्यूजन सी हो गई है क्योंकि रिजर्व बैंक की ओर से राहत दी गई है, वहीं दूसरी तरफ सभी बैंकों ने इस मामले में चुप्पी साधी हुई है।जानकारी के अनुसार अगली ईएमआई का साइकिल शुरू होने में केवल एक दिन रह गया है, लेकिन ग्राहकों को उधार देने वाले ज्यादातर बैंक भारतीय रिजर्व बैंक के आदेशों का पालन करने के लिए तैयार नहीं हैं। दरअसल रिजर्व बैंक की घोषणा के बाद कुछ लोग यह मानने लगे थे कि अब उन्हें तीन महीने तक लोन की ईएमआई नहीं चुकानी पड़ेगी, लेकिन भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक बैंक और एक्सिस बैंक जैसे उधारदाताओं ने RBI के फैसले पर चुप्पी साध ली है।दरअसल भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कोरोना वाय

EMI की किस्त को लेकर ग्राहकों में कन्फ्यूजन बरकरार, राहत पर अभी भी खामोश हैं बैंक

Image
मुख्य समाचार बिज़नेस मंगलवार 31 मार्च 2020 | नई दिल्ली रिजर्व बैंक ने भले ही लोन लेने वाले ग्राहकों को यह राहत दे दी हो कि वे चाहें तो अगले तीन महीने तक अपने लोन की किस्त न चुकाएं। लेकिन किसी भी बैंक ने अभी तक ग्राहकों को इस संबंध में कोई भी जानकारी नहीं दी है। ज्यादातर ग्राहकों को तो बैंक की ओर से EMI कटने से पहले रिमाइंड कराने वाले मैसेज भी आ चुके हैं। अब EMI को लेकर ग्राहकों में कन्फ्यूजन सी हो गई है क्योंकि रिजर्व बैंक की ओर से राहत दी गई है, वहीं दूसरी तरफ सभी बैंकों ने इस मामले में चुप्पी साधी हुई है।जानकारी के अनुसार अगली ईएमआई का साइकिल शुरू होने में केवल एक दिन रह गया है, लेकिन ग्राहकों को उधार देने वाले ज्यादातर बैंक भारतीय रिजर्व बैंक के आदेशों का पालन करने के लिए तैयार नहीं हैं। दरअसल रिजर्व बैंक की घोषणा के बाद कुछ लोग यह मानने लगे थे कि अब उन्हें तीन महीने तक लोन की ईएमआई नहीं चुकानी पड़ेगी, लेकिन भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक बैंक और एक्सिस बैंक जैसे उधारदाताओं ने RBI के फैसले पर चुप्पी साध ली है।दरअसल भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कोरोना वाय

आखिर क्या है तबलीगी जमात, जिसकी मरकज में शामिल लोगों की मौत से देश में मचा हड़कंप

Image
राष्ट्रीय मंगलवार  23 मार्च, 2020 | नई दिल्ली कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए देशभर में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है। सरकार का भरपूर प्रयास है कि इस महामारी को हमारे देश में फैलने से किसी भी हालत में रोका जाए। इसी बीच, सोमवार को तेलंगाना से एक ऐसी खबर आई जिससे पूरे देश में हड़कंप मच गया। कोरोना वायरस के चलते तेलंगाना में छह लोगों की मौत हो गई। बताया गया कि ये सभी दिल्ली में आयोजित तबलीगी जमात के एक बड़े धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद वापस घर लौटे थे।इसके बाद से हर कोई जानना चाह रहा है कि आखिर क्या है ये 'तबलीगी जमात'। कुछ दिनों पहले ही दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात का कार्यक्रम आयोजित हुआ था, जिसमें 400 के करीब लोग शामिल हुए थे। तेलंगाना के छह लोगों की मौत के बाद अभी तक 24 लोग कोविड-19 के पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके बाद अब यह आशंका जताई जा रही है कि इसमें शामिल 200 के करीब लोग कोरोना के संक्रमित हो सकते हैं। ये है तबलीगी जमात और मरकज का मतलब तबलीगी जमात और मरकज... । तबलीगी का मतलब होता है, अल्लाह के संदेशों का प्रचार करने वाला। जमात मतलब, समूह और मरकज का अर्थ ह

पूरा पैसा लौटाना चाहते हैं विजय माल्या, ट्वीट में लिखा-सरकार करे हमारी मदद

बिज़नेस मंगलवार 31 मार्च 2020 | नई दिल्ली दुनिया में कोरोना कहर के बीच भारत से फरार बिजनेसमैन विजय माल्या ने केंद्र की मोदी सरकार से गुहार लगाई है। उसका कहना है कि वह सारा पैसा लौटाना चाहता है। लेकिन बैंक और ईडी ही कोई सहयोग नहीं कर रहे हैं। उन्होंने मंगलवार को एक बार फिर कहा कि वह अपनी कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस द्वारा उधार ली गई राशि का 100 प्रतिशत बैंकों को वापस करने के लिए तैयार हैं। माल्या ने कहा कि पैसे चुकाने के उनके बार-बार प्रस्ताव के बावजूद बैंक पैसे लेने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैंशराब कारोबारी विजय माल्या ने लिखा, ‘भारत सरकार ने पूरे देश को लॉकडाउन किया है, जो किसी ने सोचा नहीं था। हम इसका सम्मान करते हैं, लेकिन इसकी वजह से मेरी सभी कंपनियों का काम ठप हो गया है। सभी तरह की मैन्युफैक्चरिंग भी बंद है। इसके बावजूद हम अपने कर्मचारियों को घर नहीं भेज रहे हैं और उसकी कीमत चुका रहे हैं। सरकार को हमारी मदद करनी होगी।’माल्या ने ट्वीट कर लिखा, 'मैंने बैंकों को किंगफिशर एयरलाइंस द्वारा उधार ली गई राशि का 100 प्रतिशत भुगतान करने के लिए बार-बार प्रस्ताव दिए हैं। न तो बैंक पै

निजामुद्दीन मरकज से निकाले गए 1300 लोग, 24 मिले पॉजिटिव-700 लोगों को किया क्वारंटाइन

Image
दिल्ली मंगलवार 31 मार्च, 2020 | नई दिल्ली   दक्षिण दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में पिछले दिनों आयोजित हुए तब्लीगी जमात में शामिल कई लोगों के कोरोना वायरस संक्रमित होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। इस बीच दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि हमारे पास बिल्कुल सही संख्या मौजूद नहीं है, लेकिन 1500-1700 के बीच लोग तब्लीगी जमात में शामिल हुए थे। अब तक 1300 लोगों को यहां से निकाला गया है। इनमें 334 को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि 700 लोगों को क्वारंटाइन सेंटर भेजा गया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि मरकज बिल्डिंग से निकाले गए लोगों में से अब तक 24 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि हमें सही तरीके से नहीं पता है कि वहां कुल कितने लोग मौजूद थे।बता दें कि देशव्यापी लॉकडाउन का आज 7वां दिन है और दिल्ली-एनसीआर में इसका व्यापक असर भी देखने को मिल रहा है। कोरोना संक्रमित 25 और मरीज सोमवार को दिल्ली में सामने आए हैं। इनमें से 18 निजामुद्दीन स्थित मरकज में शामिल होने वाले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती मरीजों की रिपोर्ट आने

कोरोना के खिलाफ जंग में उतरे 'हिटमैन', सरकार समेत 4 संस्थाओं को डोनेट किए लाखों रुपए

Image
खेल मंगलवार 31 मार्च, 2020 | नई दिल्ली भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज व हिटमैन के नाम से मशहूर रोहित शर्मा ने भी कोरोना वायरस से लड़ाई लड़ रहे देश की मदद करने का फैसला किया है। इतना ही नहीं, रोहित शर्मा ने केंद्र और राज्य सरकार के अलावा दो अन्य संस्थाओं को भी बड़ी रकम डोनेट करने का ऐलान किया है। भारतीय वनडे टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए 80 लाख रुपये दान किए हैं। उन्होंने 45 लाख पीएम केयर्स फंड, 25 लाख सीएम रिलीफ फंड (महाराष्ट्र), 5 लाख फीडिंग इंडिया और 5 लाख डॉग्स की मदद के लिए दान किए हैं। उन्होंने इस बात की जानकारी अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करके दी।जानकारी के अनुसार रोहित शर्मा से पहले सचिन तेंदुलकर, सुरेश रैना, गौतम गंभीर, अजिंक्य रहाणे, विराट कोहली भी मदद के लिए आ चुके हैं और बड़ी राशि को दान कर चुके हैं। रोहित शर्मा खुद को मदद के लिए आगे आए ही हैं, बल्कि वो साथ में लगातार लोगों से सोशल मीडिया के जरिए घर पर रहने की अपील भी कर रहे हैं।आपको बता दें कि भारत समेत पूरे विश्व इस समय कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है और अभी तक इसी बीमारी के 7,0

कनिका कपूर की हालत में नहीं हो रहा सुधार, कोविड-19 की जांच में पांचवी बार भी मिली पॉजिटिव

Image
मनोरंजन र मंगलवार 31 मार्च, 2020 | लखनऊ गायिका कनिका कपूर कोरोना वायरस संक्रमण की जांच में लगातार पांचवी बार संक्रमित पाई गई हैं। हर 48 घंटे में कोरोना संक्रमित मरीजों के सैंपल टेस्ट किए जाते हैं। कनिका वर्तमान में संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एसजीपीजीआईएमएस) में भर्ती हैं। संस्थान के निदेशक प्रोफेसर आर.के. धीमान ने कहा कि कोविड-19 के लिए पांचवीं बार जांच में पॉजिटिव पाए जाने के बाद भी गायिक की हालत स्थिर है और फिलहाल चिंता की कोई बात नहीं है।बता दें, कनिका कोरोनो वायरस के परीक्षण के बाद 20 मार्च को अस्पताल में भर्ती हुईं। वो 9 मार्च को लंदन से लौटी थीं। इसके बाद उन्होंने कानपुर और लखनऊ की यात्रा भी की और इस प्रवास के दौरान उन्हें खांसी और बुखार हुआ था। कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद कनिका को मीडिया से खासी आलोचना झेलनी पड़ी थी, क्योंकि इस दौरान वो पार्टियों में हिस्सा लेती रहीं, लोगों से भी मिलती रहीं. हालांकि जो भी लोग उनके संपर्क में आए उनमें से कोई भी पॉजिटिव नहीं पाया गया। कनिका वर्तमान में संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज

क्यों नोएडा की भरी मीटिंग में डीएम पर नाराज हुए मुख्यमंत्री 

Image
लखनऊ मंगलवार 31मार्च 2020 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को बैठक करने गौतमबुध नगर आए तो शुरू से ही उनके तेवर तीखे थे। सीएम ने बैठते ही सबसे पहले नोएडा की सीज फायर कंपनी में आए लंदन के युवक और उसके कारण जिले में फैले संक्रमण पर सवाल किया। इसके बाद दिल्ली की ओर से आए प्रवासी मजदूरों पर बात की।मुख्य चिकित्सा अधिकारी और जिलाधिकारी ने जवाब देने की कोशिश की। लेकिन सीएम ने नाइत्तेफाकी जाहिर कर दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सीधे बोल दिया कि वह इन इंतजामों से खुश नहीं है। सही मायने में अच्छे ढंग से इंजाम नहीं किए गए हैं। ब्रिटिश नागरिक से फैले संक्रमण पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सही ढंग से सूचनाएं नहीं दी जा सकीं। सीएमओ और डीएम ने स्पष्टीकरण दिया और तैयारियां बताईं लेकिन सीएम ने उहें खारिज कर दिया।मुख्यमंत्री ने कहा कि ब्रिटेन से आए नागरिक को लेकर सतर्कता नहीं बरती गई। उसके संपर्क में आने वाले लोगों को सही तरह से जानकारी नहीं पहुंचाई गई। जिसकी वजह से यह परेशानी उत्पन्न हुई है। इस बारे में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अनुराग भार्गव ने स्पष्टीकरण भी दिया। डीएम ने इस मसले पर जवाब

क्यों नोएडा की भरी मीटिंग में डीएम पर नाराज हुए मुख्यमंत्री 

Image
लखनऊ मंगलवार 31मार्च 2020 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को बैठक करने गौतमबुध नगर आए तो शुरू से ही उनके तेवर तीखे थे। सीएम ने बैठते ही सबसे पहले नोएडा की सीज फायर कंपनी में आए लंदन के युवक और उसके कारण जिले में फैले संक्रमण पर सवाल किया। इसके बाद दिल्ली की ओर से आए प्रवासी मजदूरों पर बात की।मुख्य चिकित्सा अधिकारी और जिलाधिकारी ने जवाब देने की कोशिश की। लेकिन सीएम ने नाइत्तेफाकी जाहिर कर दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सीधे बोल दिया कि वह इन इंतजामों से खुश नहीं है। सही मायने में अच्छे ढंग से इंजाम नहीं किए गए हैं। ब्रिटिश नागरिक से फैले संक्रमण पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सही ढंग से सूचनाएं नहीं दी जा सकीं। सीएमओ और डीएम ने स्पष्टीकरण दिया और तैयारियां बताईं लेकिन सीएम ने उहें खारिज कर दिया।मुख्यमंत्री ने कहा कि ब्रिटेन से आए नागरिक को लेकर सतर्कता नहीं बरती गई। उसके संपर्क में आने वाले लोगों को सही तरह से जानकारी नहीं पहुंचाई गई। जिसकी वजह से यह परेशानी उत्पन्न हुई है। इस बारे में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अनुराग भार्गव ने स्पष्टीकरण भी दिया। डीएम ने इस मसले पर जवाब

बी0एन0 सिंह के विरुद्ध कोविड-19 की रोकथाम, दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही  बरतने के कारण सरकार द्वारा कार्यवाही के आदेश 

Image
लखनऊ: सोमवार 30 मार्च, 2020 राज्य सरकार द्वारा जनपद गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी श्री बी0एन0 सिंह को तत्काल प्रभाव से हटाते हुए श्री सुहास एल0वाई0 को जनपद गौतमबुद्धनगर का जिलाधिकारी नियुक्त किया गया है। उन्हें आज ही कार्यभार ग्रहण करने के निर्देश दिए गए हैं। श्री सुहास एल0वाई0 पूर्व में जनपद प्रयागराज के जिलाधिकारी रह चुके हैं।        यह जानकारी आज यहां देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि जनपद गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी श्री बी0एन0 सिंह को राजस्व परिषद लखनऊ से सम्बद्ध किया गया है। श्री बी0एन0 सिंह के विरुद्ध कोविड-19 की रोकथाम, सर्विलांस में कमी, आउटब्रेक रिस्पाॅन्स कमेटी के अध्यक्ष के रूप में अपने दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही बरतने के कारण राज्य सरकार द्वारा विभागीय कार्यवाही के आदेश देते हुए औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन को जांच अधिकारी नामित किया गया है। उनके विरुद्ध यह भी आरोप है कि जनपद की समीक्षा के दौरान उनके द्वारा अपने उत्तरदायित्वों का निर्वहन नहीं किया गया। साथ ही, समीक्षा के बाद उन्होंने अवकाश का प्रार्थना-पत्र दिया, जिसे स्वयं ही मीडिया में रिलीज़ कर दि

मुख्यमंत्री योगी ने अपनेअधिकारियों को टीम भावना एवं अधिक  संवेदनशीलता के साथ कार्य करने के निर्देश

Image
लखनऊ: सोमवार 30 मार्च, 2020 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत जनपद गौतमबुद्धनगर का भ्रमण किया। उन्होंने गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के सभागार में अधिकारियों के साथ एक बैठक में समीक्षा करते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत गौतमबुद्धनगर अत्यन्त संवेदनशील जनपद है। यहां बड़ी संख्या में विदेशों से आने वाले नागरिक प्रवास करते हैं। इसके दृष्टिगत उन्होंने जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, प्राधिकरण एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को टीम भावना के साथ कार्य करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री जी द्वारा कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत व्यवस्थाओं में मानकों के अनुरूप तैयारी न होने पर नाराजगी व्यक्त की गई। उन्होंने अधिकारियों को अधिक संवेदनशील होकर कार्य करने के निर्देश देते हुए कहा कि इस सम्बन्ध में किसी भी स्तर पर शिथिलता क्षम्य नहीं होगी। उन्होंने कहा कि इण्टीग्रेटेड कण्ट्रोल रूम मानकों के अनुसार संचालित किया जाए, ताकि कोरोना वायरस से सम्बन्धित समस्त व्यक्तियों का डेटाबेस मानकों के अनुसार तैयार हो सके और उन्हें स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई जा सकें।  मुख

पंजाब में कोरोना वायरस से तीसरी मौत, कर्फ्यू 14 अप्रैल तक बढ़ा

Image
पंजाब , सोमवार 30 मार्च 2020 | चंडीगढ़ पंजाब में कोरोना वायरस से तीसरी मौत हो गई है। इसके बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने सूबे में कफ्र्यू की अवधि 14 अप्रैल तक बढ़ा दी है। इसके साथ ही उन्होंने राज्य की सीमाओं को सील करने का भी आदेश दिया। आज पटियाला के राजिंदरा अस्पताल में एक महिला की मौत हो गई। महिला कोरोना वायरस की मरीज बताई जाती है। 42 वर्षीय यह महिला दुबई से लौटी थी। दूसरी ओर ट्राईसिटी में एक 65 वर्षीय मरीज नयागांव से सामने आया है। वहीं 32 साल का एक एनआरआई कपल, 8वें कॉविड पॉजिटिव का 23 वर्षीय दोस्त और 8वें कॉविड पॉजिटिव मरीज की 40 वर्षीय मां शामिल हैं।  उधर वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान लिए गए फैसले के तहत मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो रहे 2000 सैनीटाइजेशन वर्करों का कार्यकाल तीन माह के लिए बढ़ा दिया है। कैप्टन अमरिंदर ने वित्त मंत्री को आकस्मिक वित्तीय योजना बनाने को कहा है ताकि कोविड 19 के संकट से लड़ा जा सके और निर्बाध चिकित्सा और आवश्यक आपूर्ति बनाई जाए। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि किसी भी बड़े संकट से निपटने के ल

सिलेंडर डिलिवरी ब्वॉय को कोरोना से कुछ हुआ तो मिलेंगे 5 लाख 

Image
बिज़नेस  सोमवार 30 मार्च, 2020 | इंडियन ऑयल, बीपीसीएल और एचपीसीएल के मानवीय निर्णय का स्वागतः केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान नई दिल्ली - 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान भी किसी नागरिक को कोई परेशानी न हो इसके लिए सरकारी विभाग अपना काम लगातार कर रहे हैं। इसी कड़ी में देशभर में एलपीजी सिलिंडरों की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने वालों डिलिवरी ब्वायस के लिए सरकारी तेल कंपनियों ने पांच लाख रुपये के एक्सग्रेशिया की घोषणा की है। अगर आसान शब्दों में कहा जाये तो डिलिवरी ब्वॉय को अगर कुछ होता है तो पेट्रोलियम कंपनियां पांच लाख रुपये मदद के रूप में देंगी। यह राशि कोरोना वायरस के संक्रमण से जान गंवाने वाले एलपीजी डीलर्स के सभी कर्मचारियों के परिवार को मिलेगी।कंपनियों के इस फैसले का पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने स्वागत किया है।  प्रधान ने ट्वीट के माध्यम से कहा, “इंडियन ऑयल, बीपीसीएल और एचपीसीएल द्वारा उठाए गए मानवीय निर्णय का स्वागत करते हैं। हमारे वर्करों का कल्याण सर्वोपरि है, यह करुणामयी कदम हमारे कार्यबल के सुरक्षा जाल को मजबूत करेगा, जिससे भारत की कोरोना के खि

परिवार से मिलने के लिए 200 किमी पैदल चला युवक, बहन को आखिरी फोन-फिर चली गई जान

Image
राष्ट्रीय सोमवार 30 मार्च, 2020 | नई दिल्ली वायरस से निपटने के लिए पीएम मोदी ने 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी। लेकिन इस लॉकडाउन ने हजारों लोगों की रोजी रोटी छीन ली है। जिसके चलते दूसरे राज्यों से आए लोग अब पलायन कर रहे हैं। भूखे प्यासे पलायन कर रहे लोगों को कई परेशानियों का सामना कारण पड़ रहा है। इसी बीच एक दुःख भरी खबर समय आई है।    खबर के मुताबिक दिल्ली से मुरैना जाने के लिए निकले एक मजदूर की 200 किलोमीटर की यात्रा करने के बाद मौत हो गई। बताया जा रहा है कि दिल्ली में टिफिन डिलिवरी का काम करने वाले इस मजदूर की आगरा के सिकंदरा थाना क्षेत्र में मौत हो गई थी। परिवार के मुताबिक, मौत से कुछ देर पहले ही उसने अपनी बहन को फोन करके ये कहा था कि उसकी तबीयत बिगड़ गई है।टिफिन डिलीवरी करने वाले इस दिहाड़ी मजदूर रणवीर की लॉकडाउन की वजह से होटल मालिक ने छुट्‌टी कर दी थी। उसके पास वापस अपने गांव जाने के अलावा कोई चारा नहीं बचा था, लेकिन बस और ट्रेन बंद थी इसलिए वह शुक्रवार को शाम 3 बजे अपने कुछ साथियों के साथ पैदल मुरैना के लिए निकल पड़ा। अपनी मौत से पहले रणवीर 200 किलोमीटर चल चुका था।रणवीर म

परिवार से मिलने के लिए 200 किमी पैदल चला युवक, बहन को आखिरी फोन-फिर चली गई जान

Image
राष्ट्रीय सोमवार 30 मार्च, 2020 | नई दिल्ली वायरस से निपटने के लिए पीएम मोदी ने 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी। लेकिन इस लॉकडाउन ने हजारों लोगों की रोजी रोटी छीन ली है। जिसके चलते दूसरे राज्यों से आए लोग अब पलायन कर रहे हैं। भूखे प्यासे पलायन कर रहे लोगों को कई परेशानियों का सामना कारण पड़ रहा है। इसी बीच एक दुःख भरी खबर समय आई है।    खबर के मुताबिक दिल्ली से मुरैना जाने के लिए निकले एक मजदूर की 200 किलोमीटर की यात्रा करने के बाद मौत हो गई। बताया जा रहा है कि दिल्ली में टिफिन डिलिवरी का काम करने वाले इस मजदूर की आगरा के सिकंदरा थाना क्षेत्र में मौत हो गई थी। परिवार के मुताबिक, मौत से कुछ देर पहले ही उसने अपनी बहन को फोन करके ये कहा था कि उसकी तबीयत बिगड़ गई है।टिफिन डिलीवरी करने वाले इस दिहाड़ी मजदूर रणवीर की लॉकडाउन की वजह से होटल मालिक ने छुट्‌टी कर दी थी। उसके पास वापस अपने गांव जाने के अलावा कोई चारा नहीं बचा था, लेकिन बस और ट्रेन बंद थी इसलिए वह शुक्रवार को शाम 3 बजे अपने कुछ साथियों के साथ पैदल मुरैना के लिए निकल पड़ा। अपनी मौत से पहले रणवीर 200 किलोमीटर चल चुका था।रणवीर म

शिथिलता पाये जाने पर की जायेगी कड़ी कार्यवाही मुख्यमंत्री योगी

Image
, लखनऊ सोमवार 30 मार्च 2020 अपरमुख्य सचिव, गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश के क्रम में प्रदेश के समस्त जनपदों के जिलाधिकारियों एवं पुलिस अधीक्षक से जनपद में शत-प्रतिशत लाॅक डाउन का अनुपालन सुनिश्चित किये जाने की अपेक्षा की गई है। लाॅक डाउन में शिथिलता पाये जाने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश के सभी जनपदों में बनाये गये क्वारेंटाइन सेंटर व क्वारेंटाइन किये गये व्यक्तियों की सूची उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये है। समस्त जनपदों के जिलाधिकारियों को यह भी निर्देश दिया गया है कि सभी संदिग्ध व्यक्तियों को शत-प्रतिशत क्वारेंटाइन किया जाय। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी के सख्त निर्देश हैं कि प्रदेश में किसी को भोजन की कमी नहीं होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी द्वारा आज प्रदेश के 27.15 लाख मनरेगा श्रमिकों के खाते में 611 करोड़ रूपए की धनराशि भारतीय स्टेट बैंक के माध्यम से भेज दी गई है, इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने 5 लाभार्थियों को वीडियो काॅल करके उनसे बात की, उनका हालचाल लिया और उन्हें धनराशि भेजने की सूचना

उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने 25 जनपदों के व्यापारी संघ के नेताओं साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग माध्य से वार्ता

Image
 लखनऊ 30 मार्च,सोमवार 2020 प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के बैनर तले  प्रदेश के 25 जिलो के व्यापारी संघों के नेताओ के साथ वीडीओ कोंफ्रेसीग के माध्यम से वार्ता की । वीडियो  कॉन्फ्रेंसिंग में लखनऊ, बनारस ,आगरा, लखीमपुर, महमूदाबाद, बांदा ,जालौन, उन्नाव, गाजियाबाद, सुल्तानपुर, उरई ,प्रयागराज ,नोएडा, बाराबंकी ,शाहजहांपुर, रायबरेली ,झांसी, सीतापुर ,मथुरा के पदाधिकारी एवं व्यापारी नेता शामिल हुए ।प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय गुप्ता के नेतृत्व में प्रदेश में आयोजित पहली वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हुई बैठक में प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने वैश्विक आपदा के इस समय व्यापारियों द्वारा किए जा रहे सेवा कार्य की सराहना की ।उन्होंने कहा कि सरकार अपने स्तर से हर व्यक्ति को राहत पहुंचाने तथा भोजन की व्यवस्था का कार्य कर रही है किंतु यह कार्य केवल सरकार द्वारा ही संभव नहीं है । उन्होंने प्रदेश के व्यापारी नेताओं से हर एक जरूरतमंद, गरीब तक भोजन पहुंचाने  में सहयोग करने का आह्वान किया । व्यापारी नेताओं ने उपमुख्यमंत्री के आवा

योगी सरकार ने मनरेगा मजदूरों के खाते में डाले 611 करोड़ रुपए, 27.5 लाख लोगों को मिला लाभ

Image
मुख्य समाचार राष्ट्रीय सोमवार 30 मार्च, 2020 | नई दिल्ली कोरोना वायरस के कारण पूरा देश 21 दिनों के लिए लॉकडाउन है। इस सबसे ज्यादा प्रभाव मजदूरों पर पड़ा है। उन्हें रोजी-रोटी के लिए काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस संकट की घड़ी में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मजदूरों को आर्थिक मदद करने का फैसला किया और प्रदेश के 27.5 लाख मनरेगा मजदूरों के अकाउंट में 611 करोड़ रुपये भेजे गए। इस दौरान सीएम योगी प्रदेश के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मनरेगा मजदूरों से बात भी की। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मजदूरों का हाल जाना। उन्होंने मजदूरों से कहा कि आपको घबराने की कोई जरूर नहीं है। आप लोगों को तीन महीन का राशन-पानी मुफ्त में दिया जाएगा।दरअसल, केंद्र सरकार ने मनरेगा मजदूरों की मजदूरी 182 रुपये से बढ़ाकर 202 रुपये कर दी है। इसके बाद योगी सरकार की ओर से यह बढ़ाई गई मजदूरी राशि दी गई है। इसके अलावा योगी आदित्यनाथ ने 20 लाख से अधिक दिहाड़ी मजदूरों को एक हजार रुपये की पहली किस्त डीबीटी के माध्यम से उनके अकाउंट में भेज चुके हैं। सीएम ने बीते मंगलवार को 5 कालीदास मार्ग स्थित अपने सरकारी

कोरोना की चपेट में आए RML के डॉक्टर और नर्सें, अस्पताल की पूटी टीम को किया क्वारंटाइन

Image
दिल्ली सोमवारर 30 मार्च, 2020 | नई दिल्ली देश भर में लगातार कोरोना वायरस कोहराम मचा रहा है। इस बीच दिल्ली में चिकित्सा सेवा में जुटे स्वास्थ्यकर्मियों के भी कोरोना वायरस की चपेट में आने की खबर सामने आई है। खबरों के मुताबिक, राम मनोहर लोहिया अस्पताल के नर्सों की एक पूरी टीम को घर में क्वारंटाइन रहने का निर्देश दिया गया है। रविवार देर शाम एक नर्स में कोरोना जैसे लक्षण उभरने के बाद अस्पताल प्रशासन ने एहतियातन यह फैसला किया। जिस टीम को अलग किया गया है उसमें डॉक्टर, नर्स सहित 14 कर्मी शामिल हैं। बताया गया है कि यह टीम शुरू से ही वार्ड नंबर-5 में कोरोना मरीजों के उपचार में लगी थी। अस्पताल की प्रवक्ता स्मृति तिवारी ने बताया कि सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। उन्होंने किसी के भी कोरोना संक्रमित होने से इनकार किया।यह भी बताया गया कि जिस टीम को अलग किया गया है उसमें तीन ऐसे डॉक्टर हैं, जो 18 जनवरी से दिल्ली एयरपोर्ट पर विदेश से आने वाले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग कर रहे थे। कुछ ऐसे डॉक्टर भी इस टीम में हैं जो भारतीय नागरिकों को एयरलिफ्ट करने की प्रक्रिया में चीन के वुहान भी गए थे। टीम के

केंद्र सरकार का बड़ा बयान, देश में 21 दिनों से ज्यादा वक्त के लिए नहीं बढ़ाया जाएगा लॉकडाऊन

Image
राष्ट्रीय सोमवार 30 मार्च, 2020 | नई दिल्ली कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार को रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में 21 दिनों के लॉकडाउन को लागू किया है। ऐसी खबरें थीं कि सरकार द्वारा लॉकडाउन को आगे भी बढ़ाया जा सकता है। हालांकि सरकार ने आज इसका खंडन कर दिया है। केंद्र सरकार ने साफ किया है कि देश में लॉकडाउन को 21 दिनों से ज्यादा वक्त के लिए नहीं बढ़ाया जाएगा। सोमवार को कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने कहा कि मैं इस तरह की रिपोर्ट्स को पढ़कर हैरान हूं। लॉकडाउन को बढ़ाने की कोई योजना नहीं है। बता दें कि प्रधानमंत्री ने 24 मार्च को लॉकडाउन की घोषणा की थी जिसकी 14 अप्रैल को खत्म हो रही है। भारत में कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए ऐसी रिपोर्ट आ रही थीं कि सरकार लॉकडाउन बढ़ाने पर विचार कर सकती है। हालांकि सरकार के स्पष्टीकरण के बाद लॉकडाउन पर संशय खत्म हो चुका है। भारत में कोरोना के अब तक 1,024 मरीज सामने आए हैं जबकि 27 लोगों की इस घातक बीमारी से मौत हुई है।दूसरी तरफ केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से प्रवासी मजदूरों के भारी पलायन को देखते हुए लॉकडा

पलायन रोकने के लिए केजरीवाल सरकार का बड़ा ऐलान, अब हम भरेंगे मजदूरों के घरों का किराया

Image
मुख्य समाचार दिल्ली रविवार 29 मार्च, 2020 | नई दिल्‍ली दि ल्ली में लॉकडाउन के बाद बड़ी संख्या में मजदूर और कामगार अपने-अपने घर के लिए पलायन कर रहे हैं। इस पलायन को रोकने के लिए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया है कि आप कहीं मत जाईये। आप अगर किराया नहीं भर पा रहे हैं तो दिल्ली सरकार आपका किराया भरेगी।सीएम ने कहा सभी मकान मालिकों से विनती है कि अपने किरायेदारों को एक-दो महीने की रियायत दें कोई मकान मालिक किरायदारों से जबरदस्ती न करें नहीं तो सरकार सख्ती से पेश आएगी। यदि कोई गरीब किरायदार किराया नहीं दे पाता है तो मैं आश्वासन देता हूं उसका किराया मेरी सरकार देगी। सीएम ने कहा जब प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना लॉकडाउन की घोषणा की तो उन्होंने कहा, ‘आप जहां हैं वहीं रहें’ मुझे लगता है कि यह इस लॉकडाउन का मंत्र है। अगर हम इसका पालन नहीं करते हैं तो लॉकडाउन सफल नहीं होगा और देश इस वायरस के खिलाफ लड़ाई में हार जाएगा। दिल्ली सरकार हर दिन 4 लाख से अधिक लोगों को दोपहर और रात का भोजन उपलब्ध करा रही है। हम यह सुनिश्चित करने के सभी प्रयास कर रहे हैं कि दिल्ली में सबको भोजन मिले। यहां भोजन

कोरोना से देश की डूबती अर्थव्यवस्था से चिंतित इस मंत्री ने कर ली खुदकुशी

Image
अंतर्राष्ट्रीय र रविवार 29 मार्च, 2020 | फ्रैंकफर्ट कोरोना की वजह से पूरी दुनिया संकट में है। लोगों की जान पर तो बनी हुई है साथ ही अर्थव्यवस्था का भी बुरा हाल है। जर्मनी के हेसे राज्य के वित्त मंत्री थॉमस शाफर ने कोरोना वायरस से देश की अर्थव्यवस्था को हो रहे नुकसान से चिंतित होकर खुदकुशी कर ली। वह इस बात से अंदर ही अंदर घुट रहे थे कि कोरोना से देश की अर्थव्यवस्था को जो नुकसान हो रहा है, उससे कैसे निपटा जाएगा। राज्य के प्रीमियर वोल्कर ने रविवार को उनकी मौत की सूचना दी।शाफर (54) को शनिवार को रेलवे ट्रैक के नजदीक मृत पाया गया था। माना जा रहा है कि उन्होंने खुदकुशी कर ली। प्रीमियर वोल्कर उनकी मौत पर दुख जताते हुए कहा, ‘हम बेहद हैरान हैं, हमें यकीन नहीं हो रहा है और हम बेहद बेहद दुखी है।’ शाफर वोल्कर के 10 साल से वित्तीय सहयोगी थे। वह कोरोना वायरस के कारण अर्थव्यवस्था को हुए नुकसान से लड़ने के लिए दिनरात काम कर रहे थे और कंपनियों और कामगारों की मदद कर रहे थे। वोल्कर ने कहा, ‘हमें आज यह मानना पड़ेगा कि वह बेहद दुखी थे। यह निश्चित रूप से बेहद कठिन वक्त है जब हमें उनकी बेहद जरूरत थी।’माना ज

लॉकडाउन के दौरान स्कूली फीस मांगने पर ये सरकार सख्त, पैसे मांगने पर होगी मान्यता रद्द

Image
राष्ट्रीय रविवार 29 मार्च, 2020 | देहरादून विश्व भर में बढ़ रहे कोरोना के प्रकोप को देखते हुए पूरे भारत को 21 दिन के लिए पूरी तरह से लॉकडाउन किया गया है। लॉकडाउन के दौरान हजारों मजदूर बेरोजगार हो गए हैं कोरोना के चलते कारोबार भी ठप हो गया है। इस वायरस के चलते केंद्र से लेकर सभी राज्य सरकारें अलर्ट हैं। उत्तराखंड सरकार ने सभी स्कूलों को लॉकडाउन के दौरान फीस नहीं लेने का आदेश जारी किया है। वहीं लॉकडाउन में भी फीस मांग रहे स्कूलों पर शासन ने सख्त रुख अख्तियार कर किया है। जानकारी के अनुसार उत्तराखंड की त्रिवेंद्र रावत सरकार ने ICSE और CBSE स्कूलों पर लॉकडाउन अवधि के दौरान फीस मांगने पर रोक लगा दी है। शिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने उत्तराखंड के सभी जिलाधिकारियों को ऐसे स्कूलों पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं जो बच्चों की फीस वसूलने के लिए दबाव बना रहे हैं। शिक्षा सचिव आर. मीनाक्षी सुंदरम ने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि कोई भी स्कूल लॉकडाउन के दौरान अभिभावकों पर फीस का दबाव बनाता है तो इसे अनुचित समझा जाएगा। निर्देश का पालन ना करने पर स्कूल के खिलाफ सरकार कड़ी कार्रवाई करते ह

कोरोना से जंग जारी है, बचने और बचाने में ही समझदारी - केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊः रविवार 29 मार्च, 2020 उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने  पलायन कर रहे भाइयों ,बहनों से अपील की है कि वह ध्यान रखें कि जहां पर हैं ,वहीं पर रहें, क्योंकि कोई भी दिल्ली से या अन्य स्थान से सीधे अपने घर नहीं पहुंचेगा ।उसे 14 दिन  सरकारी कैंप में ही रहना पड़ेगा।  लोग अफवाहों पर  बिल्कुल ध्यान न दें। उन्होंने कहा है कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई जीवन और मृत्यु के बीच की लड़ाई है, इस लड़ाई को हमें जीतना है। इसलिए हमें कठोर कदम उठाने हैं और   धैर्य व संयम बनाये रखना बहुत जरूरी है । श्री मौर्य कहा है कि कोरोना वायरस ने दुनिया को कैद कर दिया है ।यह ज्ञान ,विज्ञान, गरीब संपन्न, कमजोर ,ताकतवर, हर किसी को चुनौती दे रहा है। यह न तो राष्ट्र की सीमाओं में बंधा है, न हीं यह कोई क्षेत्र देखता है और न,ही कोई मौसम ।इसलिए हम सबको सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर ही हर हाल में रहना है और जरूरी भी है की बीमारी व उसके प्रकोप से शुरुआत मे ही  निपटना चाहिए, बाद में रोग असाध्य हो जाते हैं । उन्होने कहा है कि कोरोना वायरस के विरुद्ध महायुद्ध में लाक डाउन रूपी की लक्ष्मण रेखा को कतई नहीं लांघना है ,घर पर

गेहूं की खरीद अप्रैल के द्वितीय सप्ताह में आरंभ

लखनऊ रविवार 29 मार्च 2020 गेहूं की फसल कटाई अप्रैल के प्रथम सप्ताह में आरंभ होना संभावित है। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद हेतु खाद एवं रसद विभाग द्वारा समस्त कार्रवाई व तैयारियां पूर्ण कर ली है। शासन द्वारा यह निर्णय लिया गया है गेहूं की खरीद अप्रैल के द्वितीय सप्ताह में आरंभ कर दी जाएगी । केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार द्वारा मैकेनाइज हार्वेस्टर का उपयोग  फसल कटाई हेतु करने की अनुमति प्रदान कर दी गई है। शासन के संज्ञान में लाया गया की अनेक हार्वेस्टर किस जनपद में स्थित है परंतु उनको चलाने वाले कुशल कार्मिक अन्य जनपदों में निवास करते हैं। अतः शासन ने जिलाधिकारियों को यह निर्देश भेजे हैं हार्वेस्टर के मालिक उनके निवास वाले जनपद के जिला अधिकारी को एक लिखित प्रार्थना पत्र देंगे जिसमें हार्वेस्टर को चलाने वाले कुशल कार्मिकों का का नाम व पता होगा। संबंधित जिला अधिकारी विवरण को उस जनपद को प्रेषित करेंगे जहां कुशल कार्मिक रहते हैं। उनका अंतर्जनपदीय पास संबंधित जिलाधिकारी द्वारा निर्गत कर दिया जाएगा और इससे बिना किसी बाधा के हार्वेस्टर को संचालित करने गंतव्य स्थान तक पहुंच जाएंगे। जिलाधिकारिय

आगामी 30 व 31 मार्च को कार्यालय खुलवाकर मार्च माह के वेतन का भुगतान समय से करना सुनिश्चित

लखनऊ रविवार  29 मार्च, 2020 अपर मुख्य सचिव, गृह एवं सूचना  अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिये हैं कि कोई मकान मालिक किराये पर रह रहे किसी कामगार या मजदूर से किसी भी स्थिति में एक माह का किराया न ले। किराया वसूली से सम्बंधित शिकायत आने पर सम्बंधित के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने सभी जिलाधिकारियों एवं नगरीय क्षेत्र के पार्षदों तथा ग्राम प्रधानों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि उत्तर प्रदेश मूल के विभिन्न प्रदेशों से आने वाले व्यक्तियों की शत-प्रतिशत स्क्रीनिंग कराकर उन्हें निर्धारित अवधि तक क्वारेंटाइन में रखा जाय। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी द्वारा अन्य प्रदेशों में रह रहे उत्तर प्रदेश मूल के निवासियों से अपील की गयी है कि वे जहां हैं वहीं रहें। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी द्वारा यह भी निर्देश दिए गये हैं कि सभी सरकारी, अर्द्धसरकारी, गैर सरकारी एवं स्वायतशासी विभागों अथवा संस्थान आगामी 30 व 31 मार्च को कार्यालय खुलवाकर अपने समस्त कर्मचारियों को मार्च माह का वेतन बिना कटौती के हर हाल में भुगतान करना सुन